Dainik Navajyoti Logo
Friday 14th of August 2020
 
भारत

सेना पूरी तरह धर्मनिरपेक्ष, मानवाधिकारों का करती है सम्मान : रावत

Friday, December 27, 2019 17:40 PM
बिपिन रावत (फाइल फोटो)

नई दिल्ली। सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने कहा है कि देश की सशस्त्र सेनाएं धर्मनिरपेक्ष हैं और मानवाधिकारों का पूरी तरह सम्मान करती हैं। जनरल रावत ने मानवाधिकार आयोग के वरिष्ठ अधिकारियों तथा प्रशिक्षुओं को युद्ध के समय मानवाधिकारों का संरक्षण और युद्धबंदी विषय पर  संबोधित करते हुए कहा कि सशस्त्र सेनाएं पूरी तरह अनुशासित और सभी मानवाधिकारों का सम्मान करती हैं। सेनाएं न केवल अपने लोगों बल्कि दुश्मन के मानवाधिकारों का भी संरक्षण करती हैं और युद्धबंदियों के साथ जिनेवा संधि के अनुसार व्यवहार करती है। उन्होंने कहा कि भारतीय सेनाओं का व्यवहार इंसानियत और शराफत के मूलमंत्र पर आधारित है। वे पूरी तरह धर्मनिरपेक्ष हैं। प्रौद्योगिकी के उदय के साथ युद्ध के बदलते तौर तरीके बड़ी चुनौती हैं। सैन्य हमलों के विपरीत आतंकवादी हमलों के संदर्भ में अंतर्राष्ट्रीय कानून में किसी तरह की जवाबदेही नहीं है। इसलिए आतंकवाद रोधी और उग्रवाद रोधी अभियानों से निपटते समय लोगों का दिल जीतना जरूरी है। इन अभियानों को अंजाम देते समय वास्तविक आतंकवादियों का पता लगाना जरूरी है और यह ध्यान रखा जाना चाहिए कि इससे आस पास की संपत्ति या अन्य लोगों को नुकसान नहीं पहुंचे। यह बेहद चुनौतीपूर्ण और कठिन काम है।

सेना प्रमुख ने कहा कि सैन्य मुख्यालयों में मानवाधिकार शाखा बनायी गयी थी, जिनका दायरा बढाते हुए अब इन्हें निदेशालय के स्तर तक ले जाया गया है और अतिरिक्त महानिदेशक को इनका प्रमुख बनाया गया है। इनमें सैन्यकर्मियों के खिलाफ मानवाधिकार शिकायतों के समाधान के लिए साथ में पुलिसकर्मी भी रहते हैं। उन्होंने कहा कि तलाशी अभियानों के दौरान विशेष परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए सेना ने अब सेना पुलिस में महिलाओं की भर्ती भी शुरू कर दी है। जनरल रावत ने कहा कि हर आतंकवाद या उग्रवाद रोधी अभियान के बाद कोर्ट आफ इन्कवायरी की जाती है जिसमें उससे संबंधित सभी घटनाओं का ब्योरा रखा जाता है। सशस्त्र सेना विशेषाधिकार अधिनियम का जिक्र करते हुए सेेना प्रमुख ने कहा कि इसमें सेना को भी तलाशी और पूछताछ के मामले में पुलिस की तरह अधिकार मिलते हैं।

उन्होंने कहा कि पिछले कुछ वर्षों में सेना ने स्वयं ही इसके इस्तेमाल में कुछ ढील दी है और इसके लिए सेना प्रमुख की ओर से विशेष आदेश दिये जाते हैं, जिनका सख्ती से पालन जरूरी है। सेना इस बारे में उच्चतम न्यायालय के दिशा निर्देशों का भी सख्ती से पालन करती है। आतंकवाद रोधी अभियानों से पहले जवानों को विशेष प्रशिक्षण भी दिया जाता है। इससे पहले मानवाधिकार आयोग के सदस्य न्यायमूर्ति पी सी पंत ने भी मानवाधिकारों से संबंधित कानूनों पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि कर्तव्य की वेदी पर सशस्त्र सेनाओं को अपने कुछ मौलिक अधिकारों को भी तिलांजलि देनी पड़ती है। इस मौके पर मानवाधिकार आयोग के महासचिव जयदीप गोविंद, आयोग के सदस्य डी एम मलय, महानिदेशक (जांच) प्रभात सिंह, संयुक्त सचिव अनिता सिन्हा और कई वरिष्ठ अधिकारी तथा कर्मचारी भी मौजूद थे।
 

यह भी पढ़ें:

मन की बात में बोले मोदी, गांधीजी से जुड़ी किसी एक जगह की यात्रा जरुर करें

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज लोगों से आने वाले समय में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी से जुड़ी किसी न किसी एक जगह की यात्रा जरूर करने का अनुरोध किया।

25/08/2019

नागरिकता संशोधन बिल राज्यसभा से भी पास, PM मोदी ने कहा, पीड़ितों को मिलेगा न्याय

राज्यसभा में बिल के समर्थन में 125 वोट तो विरोध में 105 वोट पड़े। प्रधानमंत्री नरेन्द्र ने राज्यसभा से नागरिकता संशोधन बिल के पास होने पर खुशी जताते हुए सांसदों को बधाई दी है।

11/12/2019

आपराधिक मामलों की जानकारी छिपाने के मामले में सुप्रीम कोर्ट से देवेन्द्र फडणवीस को झटका

उच्चतम न्यायालय ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस को झटका देते हुए कहा कि निचली अदालत फड़णवीस के खिलाफ दायर मुकदमे पर नये सिरे से विचार करे।

01/10/2019

17वीं लोकसभा का पहला सत्र शुरू, मोदी, राजनाथ और शाह ने ली सांसद पद की शपथ

17वीं लोकसभा के पहले सत्र की शुरुआत सोमवार को शुरू हुई, जिसमें प्रोटेम स्पीकर डॉ. वीरेन्द्र कुमार सांसदों को शपथ दिला रहे हैं।

17/06/2019

मोदी और जिनपिंग के बीच चेन्नई में होगा अनौपचारिक शिखर सम्मेलन

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच दूसरा अनौपचारिक शिखर सम्मेलन चेन्नई में होगा।

10/10/2019

कर्नाटक के बागी विधायकों को विधानसभा अध्यक्ष के समक्ष पेश होने का आदेश

उच्चतम न्यायालय ने कर्नाटक के 10 विधायकों को विधानसभा अध्यक्ष रमेश कुमार के समक्ष शाम छह बजे तक पेश होने का आदेश दिया।

11/07/2019

ICSE ने जारी किया 10th और 12th का रिजल्ट

आईसीएसई आईएससी ने 10वीं और 12वीं का रिजल्ट जारी कर दिया है। 10th में 98.54% स्टूडेंट्स और 12th में 96.52% स्टूडेंट्स पास हुए हैं।

07/05/2019