Dainik Navajyoti Logo
Monday 14th of June 2021
 
भारत

अमित शाह ने अरविंद केजरीवाल के साथ की दिल्ली में कोरोना की स्थिति की समीक्षा

Thursday, June 18, 2020 16:45 PM
अमित शाह (फाइल फोटो)

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के संक्रमण के निरंतर बढ़ते मामलों के बीच केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने गुरुवार को दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में स्थिति की समीक्षा की। शाह ने दिल्ली में कोरोना महामारी की स्थिति पर एक सप्ताह में तीसरी बैठक की है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, दिल्ली पुलिस आयुक्त एस एन श्रीवास्तव, राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के जिलों के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ गृह तथा स्वास्थ्य मंत्रालय और आईसीएमआर के अधिकारियों ने भी बैठक में हिस्सा लिया।

कोरोना वायरस संक्रमण की ताजा स्थिति के साथ-साथ इससे निपटने की तैयारियों तथा योजनाओं पर भी इसमें चर्चा की गई। इसके साथ ही राजधानी और एनसीआर के जिलों के बीच लोगों के आवागमन को लेकर भी बातचीत हुई। केन्द्र सरकार द्वारा कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए उठाये गए कदमों तथा घोषणाओं का भी बैठक में उल्लेख हुआ।

शाह ने पिछले चार दिनों में दिल्ली में कोरोना की स्थिति को लेकर उप राज्यपाल अनिल बैजल, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और वरिष्ठ अधिकारियों के साथ लगातार बैठकें की हैं। दिल्ली के तीनों नगर निगमों के साथ भी उन्होंने बैठक की। उन्होंने दिल्ली के सभी राजनीतिक दलों के नेताओं के साथ भी कोरोना से निपटने की रणनीति पर चर्चा की थी। गृह मंत्री ने दिल्ली सरकार के कोरोना इलाज के लिए निर्धारित प्रमुख अस्पताल लोकनायक जयप्रकाश का भी औचक दौरा किया था। इसके बाद राजधानी के सभी अस्प्तालों में निगरानी के लिए सीसीटीवी कैमरे लगाये गए हैं। शाह के साथ बैठक के दौरान आए सुझाव के आधार पर ही दिल्ली में कोरोना जांच की कीमत कर के 2400 रुपए की गई है। इसके अलावा कंटेनमेंट जोन में रेपिड टेस्ट भी बड़ी संख्या में किए जा रहे हैं।
 

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

कोरोना काल के बीच बाढ़ ने बढ़ाई असम की मुश्किलें, संकट में 20 जिलों के 6 लाख लोग

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस (कोविड-19) के संकट के बीच असम के अधिकतर जिलों में भारी वर्षा के बाद बाढ़ जैसी स्थिति ने राज्य की मुश्किलें और बढ़ा दी हैं। असम के 20 से अधिक जिले भारी बारिश और बांध से पानी छोड़े जाने के कारण बुरी तरह प्रभावित हैं और इन जिलों में इसके कारण 6 लाख लोग संकट में है तथा शनिवार तक 42 लोगों की मौत भी हो गई है।

12/07/2020

#UPBoardResults2019: हाईस्कूल में गौतम और इण्टरमीडिएट में तनु ने किया टॉप

उत्तर प्रदेश माध्यामिक शिक्षा परिषद(यूपी बोर्ड) के शनिवार को घोषित परीक्षाफल में हाईस्कूल में कानपुर के गौतम रघुवंशी और इण्टरमीडिएट में बागपत की तनु तोमर ने सर्वोच्च अंक हासिल कर प्रदेश में टाप किया है।

27/04/2019

स्वास्थ्य बुनियादी ढांचे को मजबूत बनाने में राज्यों का मार्गदर्शन करना जरूरी: मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशभर में कोरोना महामारी की दूसरी लहर के प्रकोप के मद्देनजर स्वास्थ्य बुनियादी ढांचे को मजबूत बनाने पर जोर देते हुए इसमें राज्यों का मार्गदर्शन करने का निर्देश दिया है। प्रधानमंत्री ने गुरुवार को देश में कोविड-19 से संबंधित स्थिति की एक बैठक में व्यापक समीक्षा की। उन्हें विभिन्न राज्यों और जिलों में कोविड के फैलने को लेकर विस्तृत जानकारी दी गई।

07/05/2021

इलाहाबाद हाईकोर्ट के जस्टिस रंगनाथ पांडेय ने मोदी को लिखा खत

इलाहाबाद हाईकोर्ट के जस्टिस रंगनाथ पांडेय ने पीएम नरेंद्र मोदी को खत लिखा है, जिसमें उन्होंने जजों की नियुक्तियों पर गंभीर सवाल खड़े करते हुए लिखा कि नियुक्ति में कोई निश्चित मापदंड नहीं है और प्रचलित कसौटी सिर्फ परिवारवाद और जातिवाद है। उन्होंने न्यायपालिका की गरिमा फिर से बहाल करने की मांग की है।

03/07/2019

NCC कैडेट्स से बोले PM मोदी, कहने भर से आत्मनिर्भर नहीं बनेगा भारत, युवाओं के योगदान की जरूरत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को एनसीसी कैडेट्स को संबोधित करते हुए कहा कि गणतंत्र दिवस की परेड दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र की जीवंत करने वाले हमारे संविधान को नमन करती है। मैं आपको 26 जनवरी को बेहतरीन प्रदर्शन के लिए बहुत-बहुत शुभकामनाएं देता हूं। मोदी ने कहा कि जो आत्मनिर्भर भारत बनाने का लक्ष्य हमने लिया है वह केवल कहने से पूरा नहीं होगा, इसे पूरा करने के लिए युवाओं के योगदान और उनके एक्शन की जरूरत है।

25/01/2021

आम्रपाली केस: SC ने फ्लैट खरीदारों को दी राहत, बैंकों को बकाया लोन देने का आदेश

सुप्रीम कोर्ट ने आम्रपाली मामले में फ्लैट खरीदारों को राहत प्रदान करते हुए बुधवार को बैंकों और वित्तीय संस्थानों से बकाया ऋण राशि का भुगतान करने को कहा है।

10/06/2020

वैज्ञानिकों ने बनाई कोरोना वायरस को मारने वाली मशीन, BHEL को सौंपी तकनीक

दुनिया में कोरोना की दवा औरटीके के लिए खोज जारी है। भारतीय वैज्ञानिकों के हाथ एक बड़ी सफलता लगी है। केंद्रीय वैज्ञानिक उपकरण संगठन (सीएसआईओ) के वैज्ञानिकों ने एक ऐसी मशीन बनाई है, जो कोरोना वायरस को चुन-चुन कर मारेगी।

08/04/2020