Dainik Navajyoti Logo
Monday 2nd of August 2021
 
भारत

कोरोना गंभीर बीमारी नहीं, 90-95 फीसदी मरीज हो जाते हैं ठीक: एम्स निदेशक

Friday, April 24, 2020 17:55 PM
रणदीप गुलेरिया (फाइल फोटो)

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के संक्रमण को लेकर दुनिया भर में मचे हाहाकार के बीच देश के सबसे बड़े अस्पताल एम्स के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया ने कहा है कि कोविड-19 कोई गंभीर बीमारी नहीं है। दिल्ली में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने कहा कि कोविड-19 के 90 से 95 फीसदी मरीज ठीक हो जाते हैं। ऐसे में हमें यह याद रखना होगा कि यह कोई बहुत गंभीर बीमारी नहीं है। डॉ. गुलेरिया का यह बयान ऐसे समय में आया है जब देश और दुनिया में कोविड-19 के इलाज को लेकर एक अलग तरह की धारणा बनती जा रही है।

गुलेरिया ने कहा कि कोविड-19 के मरीज और उनके परिवार से जुड़े अधिकांश लोग लांछन (कलंकित) होने की वजह से काफी देरी से अस्पताल आ रहे हैं। जिसकी वजह से मृत्यु और रोगियों की दर बढ़ रही है। उन्होंने बताया कि लोग तब अस्पताल पहुंच रहे हैं, जब उन्हें सांस लेने में अत्यधिक परेशानी हो रही है। डॉक्टर रणदीप गुलेरिया के अनुसार 80 प्रतिशत मरीजों को केवल सपोर्टिव केयर की जरुरत होती है, जबकि 20 प्रतिशत पर ज्यादा ध्यान देने और केवल 5 प्रतिशत को वेंटिलेटर की आवश्यकता पड़ती है। उन्होंने कहा कि गंभीर मरीजों में से केवल 15 प्रतिशत को वेंटिलेटर की बजाए ऑक्सीजन सपोर्ट की जरुरत होती है।

उन्होंने आगे कहा कि अगर इस वायरस के साथ ऐसा कलंक जुड़ेगा और हम आगे नहीं आएंगे तो देश में स्थिति हाथ से निकल जाएगी। समय पर इलाज नहीं होने की वजह से मृत्यु दर काफी बढ़ सकती है। डॉ. गुलेरिया ने कहा कि देश के अस्पतालों में विभिन्न दवाइयों और नई वैक्सीन का परीक्षण चल रहा है। एम्स निदेशक ने लोगों से कोरोना मरीजों के परिवार पर लांछन लगाने की बजाए उनका सहयोग करने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि हमें यह देखना चाहिए कि हम किस तरह से कोरोना के मरीज और उनके परिवार की मदद कर सकते हैं। अधिक लोगों को परीक्षण (लक्षण विकसित करने पर) के लिए आने की जरुरत है।

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

पेगासस मामले पर मायावती का बयान, लोगों के गले नहीं उतर रहे सरकार के तर्क, निष्पक्ष जांच की जरूरत

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) सुप्रीमो मायावती ने कहा है कि विपक्षी नेताओं और अफसरों की फोन हैकिंग के जरिए जासूसी किए जाना कोई नई बात नहीं है, लेकिन मामले की गंभीरता के मद्देनजर इसकी स्वतंत्र और निष्पक्ष जांच किए जाने की जरूरत है। मायावती ने कहा कि इस संबंध में केंद्र सरकार की बार-बार अनेकों प्रकार की सफाई, खंडन व तर्क लोगों के गले के नीचे नहीं उतर पा रहे हैं।

20/07/2021

पीएम मोदी ने फोन पर रूस के राष्ट्रपति पुतिन से की बात, क्षेत्रीय और वैश्विक मुद्दों पर की चर्चा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ टेलीफोन पर बातचीत की। पीएमओ ने बताया कि दोनों नेताओं ने भारत-रूस के रणनीतिक संबंधों को और मजबूत करने की मंशा जताई।

14/01/2020

WHO ने भारत में फैल रहे कोरोना स्ट्रेन को घोषित किया वैरिएंट ऑफ कंसर्न, कहा- तेजी से हो रहा ट्रांसमिट

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर में भारत में फैल रहे वैरिएंट को घातक श्रेणी में डाला है। उसका कहना है कि भारत में सबसे पहले अक्टूबर में पाया गया यह वैरिएंट B-1617 ज्यादा संक्रामक लग रहा है और यह आसानी से फैल सकता है।

11/05/2021

निर्भया गैंगरेप केस के दोषी की राष्ट्रपति को भेजी गई दया याचिका वापस लेने की मांग, बताई ये वजह

निर्भया रेप-मर्डर केस के एक दोषी विनय शर्मा ने राष्ट्रपति को भेजी गई अपनी दया याचिका वापस लेने की मांग की है। आरोपी की दलील है कि गृह मंत्रालय द्वारा राष्ट्रपति को भेजी गई दया याचिका पर उसके हस्ताक्षर नहीं है और न ही उसकी ओर से ऑथोराइज्ड है।

07/12/2019

बिहार में चुनावी रैली में राहुल गांधी ने PM मोदी पर साधा निशाना, कहा- झूठ बोलने में उनका कोई मुकाबला नहीं

कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर देश के लोगों से झूठ बोलने का आरोप लगाते हुए बुधवार को कहा कि झूठ बोलने के मामले में प्रधानमंत्री का कोई मुकाबला नहीं है। राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री ने 2 करोड़ रोजगार की बात कही थी। अब यदि प्रधानमंत्री 2 करोड़ रोजगार की बात बोल दें तो शायद भीड़ उन्हें भगा देगी।

28/10/2020

बीजेपी का राहुल गांधी पर पलटवार, कहा- नफरत का मोतियाबिंद उनको सत्य से दूर कर देता है

भाजपा ने कांग्रेस सांसद राहुल गांधी के वैक्सीन को लेकर ट्वीट पर पलटवार करते हुए कहा कि राहुल गांधी को सत्ता का लालच है और नफरत का मोतियाबिंद उनको सत्य से दूर कर देता है। भाजपा प्रवक्ता गौरव भाटिया ने कहा कि कोरोना और वैक्सीन को लेकर कांग्रेस भ्रम फैलाने की फैक्ट्री बन गई है।

02/07/2021

कोरोना वायरसः देश में करीब 83 लाख मरीज हुए रिकवर, 24 घंटे में आए 29163 नए मामले, 449 की मौत

देश में कोरोना संक्रमण के नए मामलों में लगातार कमी आती जा रही है और स्वस्थ होने वाले मरीजों की संख्या बढ़ने से सक्रिय मामलों की दर 5.11 फीसदी हो गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के अनुसार देश में कोरोना संक्रमितों का कुल आंकड़ा 88.74 लाख हो गया है, जबकि 82.90 लाख से ज्यादा लोग स्वस्थ हो चुके हैं।

17/11/2020