Dainik Navajyoti Logo
Friday 18th of June 2021
 
भारत

ऑक्सीजन की कमी पर सुनवाई: SC ने केंद्र से कहा- देश में ऑक्सीजन आवंटन के फॉर्मूले को सुधारने की जरूरत

Thursday, May 06, 2021 13:25 PM
सुप्रीम कोर्ट।

नई दिल्ली। कोरोना संक्रमण के प्रकोप के बीच ऑक्सीजन की कमी को लेकर सुप्रीम कोर्ट में गुरुवार को फिर सुनवाई हुई। सुप्रीम कोर्ट ने कोरोना की तीसरी लहर की खबरों पर चिंता जताते हुए केंद्र सरकार से पूछा कि अगर हालात बिगड़ते हैं और कोरोना के मामले बढ़ते हैं, तो आप क्या करेंगे। आपके पास प्लान क्या है। कोर्ट ने सवाल किया कि क्या अस्पतालों के पास ऑक्सीजन स्टोर करने की क्षमता है। ऑक्सीजन सप्लाई में कहां दिक्कत आ रही है। कोर्ट ने सवाल किया कि क्या अस्पतालों के पास ऑक्सीजन स्टोर करने की क्षमता है। कोर्ट पहले ही आदेश दे चुकी है कि केंद्र को 3 मई तक बफर स्टॉक तैयार रखना चाहिए। कोर्ट ने कहा कि अगर स्टॉक रहेगा तो पैनिक के हालात नहीं बन पाएंगे। अभी सप्लाई टैंकर्स पर निर्भर है, कल को टैंकर्स नहीं होंगे, तो क्या करेंगे।

कोर्ट ने केंद्र सरकार को फटकार लगाते हुए कहा कि दूसरी लहर का कहर जारी है और वैज्ञानिक कोरोना की तीसरी लहर की बात कह रहे हैं। रिपोर्ट कहती हैं कि तीसरी लहर में बच्चों के प्रभावित होने की आशंका है। अगर बच्चों पर असर बढ़ता है, तो कैसे संभालेंगे क्योंकि बच्चे तो अस्पताल खुद नहीं जा सकते। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि तीसरी लहर से कैसे निपटना है, इसकी तैयारी अभी से करनी होगी। युवाओं का वैक्सीनेशन करना होगा। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि आज करीब डेढ़ लाख ऐसे डॉक्टर्स हैं, जो एग्जाम की तैयारी में हैं, करीब ढाई लाख नर्स घरों में बैठी हैं। ये वही लोग हैं जो तीसरी लहर के वक्त आपके इंफ्रास्ट्रक्चर को मज़बूत करेंगे। सुप्रीम कोर्ट ने टिप्पणी करते हुए कहा कि स्वास्थ्यकर्मी मार्च 2020 से लगातार काम कर रहे हैं, ऐसे में उनपर भी थकान और दबाव ज्यादा है।

सुनवाई के दौरान केंद्र सरकार ने कोर्ट को बताया कि दिल्ली को बीते दिन 700 एमटी ऑक्सीजन दी गई है, उससे पहले भी दिल्ली को 585 एमटी ऑक्सीजन दी गई थी। देरी सिर्फ टैंकर्स की वजह से हो रही थी। कोर्ट में स्वास्थ्य मंत्रालय की अतिरिक्त सचिव सुमिता दावरा ने बताया कि कुल टैंकर के 53 फीसदी को दिल्ली सप्लाई के लिए ही लगाया गया है, 6 कंटेनर्स भी लगाए गए हैं। अगले कुछ दिनों में इनकी संख्या 24 हो जाएगी, इनमें भरे हुए और वापस प्लांट तक जाने वाले केंटेनर्स भी शामिल रहेंगे। केंद्र ने कोर्ट में कहा कि दिल्ली के सभी अस्पताल कोविड स्पेशल नहीं हैं, ऐसे में जो छोटे अस्पताल हैं उनके पास ऑक्सीजन स्टोर करने की क्षमता नहीं है। इस पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि ऑक्सीजन आवंटन के फॉर्मूले को पूरी तरह से सुधारने की जरूरत है।

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

चुनाव आयोग का सख्त रुख, प्रज्ञा ठाकुर 72 घंटे नहीं कर सकेंगी प्रचार

भोपाल संसदीय क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर के प्रति निर्वाचन आयोग ने बुधवार को सख्त रुख अपनाते हुए उनके चुनाव प्रचार अथवा रैली आदि करने पर 72 घंटे का प्रतिबंध लगा दिया।

02/05/2019

यूपी सरकार ने पार की अमानवीयता की हदें : प्रियंका

कांग्रेस की वरिष्ठ नेता प्रियंका गांधी वाड्रा ने उत्तरप्रदेश सरकार पर अमानवीयता की हदें पार करने का आरोप लगाते हुए रविवार को कहा कि राज्य पुलिस बेबुनियाद आरोपों पर कांग्रेस नेताओं को जेल में डाल रही है।

29/12/2019

मोटेरा में बोले नरेन्द्र मोदी, प्रेसिडेंट ट्रंप की ये यात्रा भारत और अमेरिका के संबंधों का नया अध्याय

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम में नमस्ते ट्रंप को संबोधित किया। पीएम मोदी ने 'नमस्ते ट्रंप' कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 'भारत माता की जय' के नारे के साथ भाषण की शुरुआत की।

24/02/2020

विराट के शतक से जीती रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरू

कप्तान विराट कोहली (100) के शानदार शतक से रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु ने कोलकाता नाईट राइडर्स को बड़े स्कोर और छक्कों की बरसात वाले जबरदस्त मुकाबले में शुक्रवार को 10 रन से हराकर आईपीएल-12 में अपनी दूसरी जीत दर्ज कर ली।

20/04/2019

केंद्र की स्वच्छ भारत मिशन के दूसरे चरण को मंजूरी, 22वें विधि आयोग के गठन को भी दी मंजूरी

केंद्र सरकार ने स्वच्छ भारत मिशन के दूसरे चरण को मंजूरी प्रदान कर दी है और इस चरण में ग्रामीण क्षेत्रों में शौचालयों के निर्माण के साथ ही कचरे के बेहतर निस्तारण पर विशेष ध्यान दिया जाएगा। साथ ही 22वें विधि आयोग के गठन को भी मंजूरी प्रदान कर दी है और इसका कार्यकाल तीन का होगा।

19/02/2020

अनलॉक-1: कंटेनमेंट जोन को छोड़कर शुरू होगी सार्वजनिक बसें, राज्य सरकार की नई गाइडलाइन

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अधिकारियों के साथ अनलॉक-1 की गाइडलाइन पर लंबी चर्चा कर मुहर लगाई। राजस्थान सरकार की ओर से एसीएस होम राजीव स्वरूप ने गाइडलाइंस के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि कंटेनमेंट जोन में किसी भी प्रकार की छूट नहीं दी जाएगी। जिला प्रशासन बफर जोन में नियम तय करेगा।

31/05/2020

देश में कोरोना संक्रमण की स्थिति विकराल, 1 दिन में कोरोना संक्रमण के नए मरीजों और मौतों के टूटे सारे रिकॉर्ड

देश में कोरोना संक्रमण की दिन-ब-दिन विकराल होती स्थिति के बीच लगातार दूसरे दिन नए मामलों और मृतकों की संख्या दोनों में रिकॉर्ड वृद्धि हुई है और पिछले 24 घंटों के दौरान 96 हजार से अधिक नए मामले सामने आए हैं और 1,209 लोगों की मौत हुई है।

11/09/2020