Dainik Navajyoti Logo
Friday 23rd of April 2021
 
भारत

महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन, विधानसभा 6 माह के लिए निलंबित

Tuesday, November 12, 2019 13:30 PM
मुंबई में चर्चा करते हुए कांग्रेस और एनसीपी के नेता।

नई दिल्ली। महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव परिणाम में खंडित जनादेश सामने आने के 19 दिनों के बाद राज्य में मंगलवार को राष्ट्रपति शासन लागू कर दिया गया। राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने केंद्रीय मंत्रिमंडल की अनुशंसा पर महाराष्ट्र में 6 माह के लिए राष्ट्रपति शासन को मंजूरी दी है। इस दौरान विधानसभा निलंबित रहेगी। इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लागू करने की सिफारिश की गई थी। महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर जारी अनिश्चितता के बीच राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने मंगलवार को राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाने की सिफारिश संबंधी एक रिपोर्ट केन्द्र सरकार को भेजी। राज्यपाल सचिवालय की ओर से ट्विटर पर जारी एक विज्ञप्ति के अनुसार कोश्यारी का मानना है कि राज्य में संविधान के अनुरूप सरकार का गठन नहीं हो सकता। उन्होंने मंगलवार को संविधान के अनुच्छेद 356 के प्रावधानों के तहत केन्द्र को इस संबंध में एक रिपोर्ट सौंपी।

सरकार बनाने का प्रयास जारी : उद्धव
शिव सेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए राज्यपाल की ओर से बहुत ही कम समय देने की शिकायत करते हुए कहा कि उनकी पार्टी कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के साथ सरकार बनाने का प्रयास जारी रखेगी। ठाकरे ने बैठक के बाद अपने पुत्र एवं विधायक आदित्य ठाकरे के साथ मीडिया से कहा कि राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने भाजपा की ओर से सरकार बनाने में असमर्थता जाहिर करने के बाद शिवसेना को आमंत्रित किया और कहा कि आप सरकार बनाने योग्य संख्या तथा समर्थन करने वाले विधायकों के हस्ताक्षर के साथ आइए। ठाकरे ने कहा कि 24 घंटे के अंदर यह कार्य पूरा करना संभव नहीं था इसलिए हमने और समय की मांग की थी जिसे नकार दिया गया। उन्होंने कहा कि यह बात सही है कि कांग्रेस-राकांपा से शिवसेना की विचारधारा अलग है इसलिए हमें सरकार बनाने के पूर्व सभी पहलुओं पर विस्तृत चर्चा करना जरूरी है।

उन्होंने कहा कि देश में कई जगह पर अलग अलग विचारधारा की सरकारें चल रही है हम उसका भी अध्ययन करेंगे। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में छह माह के लिए राष्ट्रपति शासन की घोषणा की गई है और अब हमारे पास काफी समय है। हमारी पार्टी कांग्रेस और राकांपा के साथ सरकार बनाने के संबंध में पहले सभी पहलुओं पर विस्तृत चर्चा करेगी और उसके बाद सरकार बनाने के लिए निर्णय लिया जाएगा। इससे पहले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल और एनसीपी के अध्यक्ष शरद पवार ने संयुक्त रूप से कहा कि पहले हम आपस में चर्चा करेंगे और उसके बाद शिवसेना के साथ सरकार बनाने के संबंध में बातचीत करेंगे। उधर देर शाम भाजपा सांसद नारायण राणे ने पत्रकारों से कहा कि महाराष्ट्र में भाजपा ही सरकार बनाएगी और 145 विधायकों के साथ एक बार फिर राज्पाल से मिलेंगे।

राष्ट्रपति शासन के फैसले को चुनौती देगी शिवसेना
महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन के फैसले के खिलाफ शिवसेना अब सुप्रीम कोर्ट में दूसरी याचिका दायर करेगी। इससे पहले शिवसेना ने महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगाने के राज्यपाल की सिफारिश के खिलाफ याचिका दायर की थी।

कांग्रेस आलाकमान ने दिया ग्रीन सिग्नल
राजस्थान में महाराष्ट्र के विधायक दिल्ली रोड स्थित विस्टा रिसोर्ट में ठहरे हुए है। ऐसे में महाराष्ट्र के दिग्गज दो नेताओं ने बड़े बयान देकर राजनीतिक संकेत दिए है। एक ओर केसी पड़वी ने कहा कि कांग्रेस हाईकमान ने महाराष्ट्र में गठबंधन सरकार बनाने का ग्रीन सिग्नल दे दिया है और अब जल्द ही सरकार बनाने का दावा पेश किया जाएगा। पड़वी ने कहा कि शिवसेना ने एनडीए गठबंधन से नाता तोड़ लिया है। अब विचारधारा की कोई दिक्कत नहीं है। शिवसेना हमें समर्थन दे रही है, जैसे ही मैजिक फिगर हो जाएगा तो कॉमन मिनिमम प्रोग्राम तय होने पर हम सरकार बनाएंगे। कांग्रेस विधायक आज वापस मुंबई लौटेंगे। कांग्रेस नेता विजय वडेहीवार ने कहा है कि हम सरकार बना रहे है। महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन से कोई फर्क नहीं पड़ने वाला। हम सरकार बनाने का दावा पेश करेंगे। बीजेपी नैतिकता का ज्ञान न दें, क्योंकि जो बीजेपी विचारधारा की दुहाई दे रही है उसने जम्मू कश्मीर में महबूबा मुफ्ती के साथ मिलकर सरकार बनाई थी। कांग्रेस सूत्रों के अनुसार पार्टी नेताओं के इस तरह के बयानों से माना जा रहा है कि महाराष्ट्र में शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस गठबंधन सरकार बनाने की दिशा में अग्रसर है।

सोनिया गांधी का संदेश लेकर दिल्ली से आए अविनाश पांडे
कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव एवं राजस्थान कांग्रेस के प्रभारी लगातार महाराष्ट्र के विधायकों के साथ उनके आने से लेकर अब तक हर पल संपर्क में रहे है। मंगलवार को लगभग एक बजे वे दिल्ली से कांग्रेस आलाकमान सोनिया गांधी का संदेश लेकर जयपुर पहुंचे और उनके पहुंचने के बाद महाराष्ट्र विधायकों में उत्साह भी देखा गया। यहां तक कि अविनाश पांडे खुद भी काफी उत्साहित दिखे। पांडे ने जयपुर आते ही चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा एवं शिक्षा मंत्री सुभाष गर्ग के साथ चर्चा की एवं फिर तीनों दिल्ली रोड स्थित विस्टा रिसोर्ट पहुंचे और महाराष्ट्र विधायकों की बैठक ली। इस बैठक में अविनाश पांडे ने विधायकों को कांग्रेस आलाकमान का संदेश सुनाया। पांडे के साथ ही महाराष्ट्र कांग्रेस के दिग्गज नेता विजय एवं केसी पडवी भी दिल्ली से उनके साथ ही आए थे।

देर रात मुख्यमंत्री पहुंचे रिसोर्ट
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत देर रात दिल्ली रोड स्थित ब्यूना विस्टा रिसोर्ट में पहुंचे। इससे पहले वहां पर चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा, कृषि मंत्री लालचंद कटारिया और सरकारी मुख्य सचेतक महेश जोशी मौजूद थे। मुख्यमंत्री ने रिसोर्ट में महाराष्ट्र के कांग्रेस विधायकों और पार्टी नेताओं से बातचीत की। चर्चा यह है कि इन विधायकों को अभी एक-दो दिन यहीं पर ठहराया जा सकता है, जब तक महाराष्ट्र में आगे की स्थिति साफ नहीं हो जाती। कांग्रेस विधायकों को पार्टी की रणनीति के तहत बहुमत के साथ सीधे महाराष्ट्र के राज्यपाल के सामने भी ले जाया जा सकता है।

यह भी पढ़ें:

देश के विकास के योगदान में लालबहादुर को सदियों तक किया जाएगा याद : कमलनाथ

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री को देश के विकास में उनके योगदान के लिए सदियों तक याद किया जायेगा।

11/01/2020

कांग्रेस के दरबारियों के घर से बक्सों में निकले नोट : मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पहली बार मतदान करने वाले मतदाताओं से कहा है कि क्या आपका पहला वोट पाकिस्तान के बालाकोट में हवाई कार्रवाई करने वाले वीर जवानों के लिए समर्पित हो सकता है?

09/04/2019

गार्गी कॉलेज छेड़खानी मामले में सभी आरोपियों को जमानत

गार्गी कॉलेज में छात्राओं के साथ छेड़खानी के मामले में गिरफ्तार सभी 10 आरोपियों को साकेत कोर्ट से शुक्रवार को जमानत मिल गई। कोर्ट ने इन्हें दस-दस हजार रुपए के मुचलके पर जमानत दी।

14/02/2020

बापू को नमन कर PM मोदी ने की आजादी के अमृत महोत्सव की शुरुआत, दांडी यात्री को दिखाई हरी झंडी

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के नमक सत्याग्रह के 91 वर्ष पूरे होने पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को आजादी की 75वीं वर्षगांठ से संबंधित 'आजादी का अमृत महोत्सव' कार्यक्रम के राष्ट्रव्यापी आयोजन की शुरुआत की। अमृत महोत्सव 12 मार्च 2021 से 15 अगस्त 2023 तक चलेगा। इस दौरान उन्होंने ऐतिहासिक दांडी मार्च की स्मृति में अहमदाबाद से नवसारी के दांडी तक 386 किलोमीटर की पदयात्रा को रवाना किया।

12/03/2021

आज जारी नहीं होगा CBSE 10वीं का परीक्षा परिणाम

सीबीएसई की ओर से एडवाजरी जारी की गई है, जिसमें कहा गया है कि सीबीएसई 10वीं बोर्ड के नतीजे आज जारी नहीं होंगे।

05/05/2019

सदन में सदस्यों के व्यवहार से आहत स्पीकर ओम बिरला, दूसरे दिन भी नहीं कार्यवाही में नहीं हुए शामिल

लोकसभा में मंगलवार को कुछ सदस्यों के व्यवहार से आहत अध्यक्ष ओम बिरला गुरुवार को भी लगातार दूसरे दिन सदन में नहीं आए। बताया गया है कि बिरला सदन में सदस्यों के बर्ताव से बहुत क्षुब्ध हैं और इस वजह से सदन में नहीं आ रहे हैं।

05/03/2020

विश्व कौशल दिवस पर युवाओं से बोले PM मोदी, बदलते माहौल में स्कील में बदलाव करना जरूरी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने नौजवानों का बुधवार को आह्वान किया कि वे ज्ञान के साथ हुनर अथवा कौशल को भी सीखें और कोविड पश्चात के विश्व को भारत की नवान्वेषण (इनोवेशन) की शक्ति का दर्शन कराएं। मोदी ने विश्व कौशल दिवस के अवसर पर कौशल विकास एवं उद्यमिता मंत्रालय द्वारा एक डिजिटल कॉन्क्लेव को संबोधित करते हुए यह आह्वान किया।

15/07/2020