Dainik Navajyoti Logo
Monday 2nd of August 2021
 
भारत

अंतरिक्ष में इसरो का एक और कीर्तिमान, कम्युनिकेशन सैटेलाइट सीएमएस-01 का सफल प्रक्षेपण

Thursday, December 17, 2020 17:50 PM
पीएसएलवी-सी50 का सफल प्रक्षेपण।

श्रीहरिकोटा। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने गुरुवार को एक बार फिर से इतिहास रचते हुए संचार उपग्रह सीएमएस-01 के साथ ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण यान पीएसएलवी-सी50 का सफल प्रक्षेपण किया तथा उपग्रह को सफलतापूर्वक पृथ्वी की कक्षा (जेटीओ) में स्थापित किया। पीएसएलवी-सी50 ने 25 घंटों तक चली उल्टी गिनती के बाद गुरुवार अपराह्न 3:41 बजे श्रीहरिकोटा स्थित सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र के शार रेंज के दूसरे लांच पैड से उड़ान भरी।  इसरो के निदेशक डॉ. के शिवन और मिशन नियंत्रण केंद्र के अन्य वैज्ञानिकों की मौजूदगी में चार-चरणों वाले 44.4 मीटर लंबे प्रक्षेपण यान ने शानदार तरीके से उड़ान भरी। उड़ान भरने के लगभग 20 मिनट बाद, सीएमएस -01 को सभी चार चरणों के प्रज्वलन और पृथक्करण के बाद पृथ्वी की कक्षा में स्थापित कर दिया गया।

अगले चार दिनों में विशिष्ट स्थान पर स्थापित हो जाएगा
इसरो अध्यक्ष डा. शिवन ने मिशन कंट्रोल सेंटर के वैज्ञानिकों को संबोधित करते हुए कहा कि मुझे यह घोषणा करते हुए बेहद खुशी हो रही है कि पीएसएलवी-सी 50 ने पूर्व निर्धारित जीटीओ कक्षा में सीएमएस -01 को सफलतापूर्वक स्थापित कर दिया है। उपग्रह बहुत अच्छा काम कर रहा है और अगले चार दिनों में यह जीटीओ में विशिष्ट स्थान पर स्थापित हो जाएगा। शिवन ने कहा कि इसके बाद यह उपग्रह 11 साल पहले लॉन्च किए गए जीसैट उपग्रह की निरंतरता के रूप में कार्य करेगा।

इसरो का 42वां संचार उपग्रह
7 वर्षों के मिशन वाला सीएमएस-01 इसरो का 42वां संचार उपग्रह है और यह कम्युनिकेशन सैटेलाइट फ्रीक्वेंसी स्पेक्ट्रम के एक्सटेंडेड सी बैंड में सेवा उपलब्ध कराएगा। इसके दायरे में भारत की मुख्य भूमि अंडमान निकोबार और लक्षद्वीप द्वीपसमूह होंगे। यह श्रीहरिकोटा के स्पेसपोर्ट से इसरो का 77वाँ लांच मिशन है जबकि पीएसएलवी की 52वीं उड़ान है। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के कारण इस वर्ष इसरो के कई लांच मिशन प्रभावित हुए।

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

वर्चुअल सुनवाई की बात नई नहीं, महाभारत काल में संजय ने भी किया था इस्तेमाल: सीजेआई

वर्चुअल सुनवाई कोई नयी बात नहीं है। हमने इसके बारे में महाभारत में भी सुना है सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को यह टिप्पणी उस वक्त की, जब अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) में भड़काऊ भाषण देने के आरोप में मथुरा जेल में बंद डॉ. कफील खान की याचिका पर सुनवाई हो रही थी।

11/08/2020

कानपुर में गंगा घाट की सीढ़ियां चलते मोदी का पैर फिसला, एसपीजी के जवानों ने संभाला

नमामि गंगे परियोजना के तहत किए जा रहे कार्यों की समीक्षा करने आए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी गंगा घाट की सीढ़ियां चढ़ते समय फिसल कर गिर गए।

15/12/2019

देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या पौने तीन लाख से अधिक

देश में कोरोना वायरस का प्रकोप लगातार बढ़ रहा है और पिछले 24 घंटों के दौरान संक्रमण के 9985 नये मामले सामने आये हैं जिससे संक्रमितों की संख्या पौने तीन लाख से अधिक हो गयी है तथा इस दौरान 279 लोगों की मौत से मृतकों का आंकड़ा 7745 पर पहुंच गया है।

10/06/2020

महाराष्ट्र ने राजस्थान समेत 6 राज्यों को बताया संवेदनशील, यात्रियों को कोरोना निगेटिव रिपोर्ट लाना अनिवार्य

महाराष्ट्र सरकार ने दिल्ली-एनसीआर, केरल, गोवा, गुजरात, राजस्थान और उत्तराखंड से ट्रेनों से आने वाले यात्रियों के लिए कोरोना निगेटिव रिपोर्ट लाना अनिवार्य कर दिया है। महाराष्ट्र के मुख्य सचिव सीताराम कुंटे ने एक आदेश जारी करते हुए कहा कि महाराष्ट्र में प्रवेश करने वाले यात्रियों को यात्रा से 48 घंटे के अंदर अपनी आरटी-पीसीआर निगेटिव रिपोर्ट लाना अनिवार्य है।

19/04/2021

छत्तीसगढ़ : मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में तीन विकास प्राधिकरणों की बैठक

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में मुख्यमंत्री निवास कार्यालय में राज्य ग्रामीण एवं अन्य पिछड़ा वर्ग क्षेत्र, अनुसूचित जाति और मध्य क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरणों की बैठक आयोजित की गई।

30/11/2019

महाराष्ट्र: अमरावती में कोविड अस्पताल में आग लगने से 4 की मौत, 27 मरीजों को दूसरी जगह किया शिफ्ट

महाराष्ट्र के नागपुर जिले में अमरावती के वेल ट्रीट कोविड अस्पताल में शुक्रवार रात को भीषण आग लगने से 4 लोगों की मौत हो गई तथा कई अन्य घायल हो गए है। जानकारी के अनुसार आग दूसरी मंजिल पर आईसीयू की एसी इकाई में लगी। सुरक्षा सावधानियों के कारण करीब 27 मरीजों को दूसरे अस्पताल में स्थानांतरित किया गया है।

10/04/2021

PM मोदी के राममंदिर भूमि पूजन में जाने पर ओवैसी ने उठाया सवाल, बताया संवैधानिक शपथ का उल्लंघन

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिममीन (एआईएमआईएम) के अध्यक्ष और सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 5 अगस्त को अयोध्या में राममंदिर भूमिपूजन में शामिल होने के लिए वहां जाने को लेकर सवाल उठाते हुए इसे संवैधानिक शपथ का उल्लंघन बताया है।

28/07/2020