Dainik Navajyoti Logo
Monday 20th of September 2021
 
भारत

IIT खड़गपुर के दीक्षांत समारोह में मोदी ने छात्रों को दिया सेल्फ थ्री का मंत्र, बोले- आत्मविश्वास से आगे बढ़ें

Tuesday, February 23, 2021 17:40 PM
पीएम मोदी ने आईआईटी खड़गपुर के दीक्षांत समारोह को किया संबोधित।

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान यानि आईआईटी खड़गपुर के 66वें दीक्षांत समारोह को संबोधित किया। प्रधानमंत्री वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संस्थान के छात्रों और शिक्षकों को संबोधित किया। इस दौरान पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़, केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक और केंद्रीय शिक्षा राज्य मंत्री भी उपस्थित रहे। प्रधानमंत्री ने कहा कि आज का दिन आईआईटी खड़गपुर के सिर्फ उन विद्यार्थियों के लिए अहम नहीं है, जिनको डिग्री मिल रही है। आज का दिन नए भारत के निर्माण के लिए भी उतना ही अहम है। मोदी ने कहा कि वर्तमान स्थिति पर नज़र रखते हुए आपको भविष्य का अनुमान भी लगाना चाहिए। छात्रों को उन आवश्यकताओं पर काम करना चाहिए जो 10 साल बाद पैदा हो सकती हैं, भविष्य के लिए नवाचार कर रही हैं। इंजीनियर होने के नाते एक क्षमता आपमें विकसित होती है और वो है चीजों को पैटर्न से पैटेंट तक ले जाने की क्षमता। यानि एक तरह से आपमें विषयों को ज्यादा विस्तार से देखने की दृष्टि होती है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि जीवन के जिस मार्ग पर अब आप आगे बढ़ रहे हैं, उसमें निश्चित तौर पर आपके सामने कई सवाल भी आएंगे। ये रास्ता सही है, गलत है, नुकसान तो नहीं हो जाएगा, समय बर्बाद तो नहीं हो जाएगा? ऐसे बहुत से सवाल आएंगे। इन सवालों का उत्तर है सेल्फ थ्री। इनमें सेल्फ अवेयरनेस, सेल्फ कॉन्फिडेंस और सेल्फलेसनेस है। आप अपने सामर्थ्य को पहचानकर आगे बढ़ें, पूरे आत्मविश्वास से आगे बढ़ें, निस्वार्थ भाव से आगे बढ़ें। मोदी ने कहा कि आप सभी साइंस, टेक्नॉलॉजी और इनोवेशन के जिस मार्ग पर चले हैं, वहां जल्दबाज़ी के लिए कोई स्थान नहीं है। आपने जो सोचा है, आप जिस इनोवेशन पर काम कर रहे हैं, संभव है उसमें आपको पूरी सफलता ना मिले, लेकिन आपकी उस असफलता को भी सफलता ही माना जाएगा, क्योंकि आप उससे भी कुछ सीखेंगे।

मोदी ने कहा कि 21वीं सदी के भारत की स्थिति भी बदल गई है, ज़रूरतें भी बदल गई हैं और आकांक्षाएं भी बदल गई हैं। अब आईआईटी को इंडियन इंस्टीट्यूट्स ऑफ टेक्नॉलॉजी ही नहीं, स्वदेशी प्रौद्योगिकी संस्थान के मामले में नेक्स्ट लेवल पर ले जाने की जरूरत है। आप ये जानते हैं कि ऐसे समय में जब दुनिया पर्यावरण परिवर्तन की चुनौतियों से जूझ रही है, भारत ने इंटरनेशनल सोलर अलायन्स का विचार दुनिया के सामने रखा और इसे मूर्त रूप दिया। आज दुनिया के अनेक देश भारत द्वारा शुरू किए गए इस अभियान से जुड़ रहे हैं। आज भारत उन देशों में से है जहां सोलर पावर की कीमत प्रति यूनिट बहुत कम है। लेकिन घर-घर तक सोलर पावर पहुंचाने के लिए अब भी बहुत चुनौतियां हैं। भारत को ऐसी टेक्नोलॉजी चाहिए जो इनवायर्नमेंट को कम से कम नुकसान पहुंचाए, ड्यूरेबल हो और लोग ज्यादा आसानी से उसका इस्तेमाल कर पाएं। इंटरनेट ऑफ थिंग्स हो या फिर मॉडर्न कंस्ट्रक्शन टेक्नॉलॉजी, आईआईटी खड़गपुर प्रशंसनीय काम कर रहा है। कोरोना से लड़ाई में भी आपके सॉफ्टवेयर समाधान देश के काम आ रहे हैं। अब आपको हेल्थ टेक के फ्यूचरिस्टिक सोल्यूशंस को लेकर भी तेज़ी से काम करना है।

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

मोदी का पांच साल का कार्यकाल सुपर इमरजेंसी: ममता बनर्जी

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि देश पिछले पांच साल के दौरान सुपर इमरजेंसी के साये में रहा।

25/06/2019

दिल्ली में लॉकडाउन में नहीं दी जाएगी छूट : केजरीवाल

दिल्ली सरकार ने राष्ट्रीय राजधानी में लॉकडाउन में किसी तरह की छूट नहीं देने की घोषणा करते हुए कहा कि केंद्रीय गृह मंत्रालय ने जो दिशा-निर्देश जारी किये है।

26/04/2020

मोदी ने युवाओं से की बुद्ध के विचारों से जुड़ने की अपील

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भगवान बुद्ध के आदर्शो को दुनिया के समक्ष मौजूदा चुनौतियों के स्थायी समाधान का मार्ग बताते हुए शनिवार को युवाओं से उनके विचारों से जुड़ने की अपील की।

04/07/2020

महाराष्ट्र में तटीय इलाके से टकराया 'निसर्ग' तूफान, कई इलाकों में तेज हवा के साथ बारिश

चक्रवाती तूफान निसर्ग महाराष्ट्र के तटीय इलाकों से टकरा गया है। मौसम विभाग के मुताबिक चक्रवाती तूफान करीब 120 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से अलीबाग के तट से टकराया। इसके बाद मुंबई के ज्यादातर इलाकों में तेज हवाओं के साथ बारिश शुरू हो गई।

03/06/2020

भारतीय संस्कृति, सभ्यता के इतिहास में जुड़ा एक स्वर्णिम अध्याय: शाह

केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने अयोध्या में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा श्रीराम जन्मभूमि मंदिर के भूमि पूजन को देश के लिए ऐतिहासिक एवं गौरवपूर्ण पल बताया और कहा कि इससे भारतीय संस्कृति एवं सभ्यता के इतिहास का एक स्वर्णिम अध्याय लिखा गया है और आज एक नए युग की शुरुआत हुई है।

05/08/2020

खबरों को सांप्रदायिक रंग देने पर सुप्रीम कोर्ट ने जताई चिंता

SC ने वेब साइटों और यूट्यूब चैनलों के माध्यम से 'फेक न्यूज प्रकाशित और प्रसारित किये जाने पर जताई गंभीर चिंता

02/09/2021

मोदी सरकार का किसानों को तोहफा, धान समेत कई खरीफ फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य बढ़ाया

सरकार ने खरीफ सामान्य धान के न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) में 72 रुपए प्रति क्विंटल तथा बाजरे की कीमत में 100 रुपए प्रति क्विंटल की वृद्धि करने की बुधवार को घोषणा की। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई मंत्रि परिषद की बैठक में खरीफ फसलों के एमएसपी बढ़ाने का निर्णय किया गया। सरकार ने दलहनों, तिलहनों, मक्का और कुछ अन्य फसलों के एमएसपी में भी वृद्धि करने का निर्णय किया है।

09/06/2021