Dainik Navajyoti Logo
Saturday 18th of September 2021
 
स्वास्थ्य

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

पत्नी ने किडनी डोनेट कर बचाया सुहाग, डॉक्टर्स डे पर किडनी रोगी को मिला जीवनदान

महात्मा गांधी अस्पताल के नेफ्रोलॉजी विभाग के चिकित्सकों की टीम ने 18 साल से किडनी रोग से पीड़ित युवक की किडनी प्रत्यारोपण कर जान बचाने में सफलता अर्जित की है। डॉ. गोदारा ने बताया कि कोरोना काल में किसी रोगी का किडनी ट्रांसप्लांट बहुत अधिक चुनौती भरा होता है। चिकित्सकों ने यह चुनौती स्वीकार कर आखिरकार राजेश को किडनी ट्रांसप्लांट किया। राजेश को किडनी उसकी धर्मपत्नी वर्षा ने दी।

01/07/2020

ये 'मेडिकल ATM' चंद मिनटों में करेगा 58 तरह की मेडिकल जांच

देश में जल्दी ही बिना कठिनाई और अत्यधिक तेज मेडिकल जांच हर किसी के लिए संभव हो सकेगी। ऐसा एटीएम जैसे एक कियोस्क के कारण होगा। जो लोगों के लिए 58 तरह के अधिक बुनियादी और उन्नत पैथोलॉजी परीक्षणों की सुविधा देगा और अपनी रिपोर्ट भी तत्काल दे देगा।

04/10/2019

पेल्विक बोन ट्यूमर की जटिल सर्जरी, महात्मा गांधी अस्पताल में हुआ सफल ऑपरेशन

महात्मा गांधी अस्पताल के चिकित्सकों ने झुंझुनूं जिले की 14 वर्षीय किशोरी के पेल्विक बोन ट्यूमर की सफल सर्जरी की है। किशोरी अपने बाएं कूल्हे (पेल्विक रीजन) में दर्द को लेकर अस्पताल भर्ती हुई। जांच में उसे इविंग्स सारकोमा नामक कैंसर की पुष्टि हुई। यह बीमारी लाखों में से किसी एक को होती है।

31/01/2021

जयपुर के डॉक्टर्स ने की सफल दुर्लभ सर्जरी, कूल्हे और घुटने के जोड़ समेत पूरी हड्डी बदली

बोन कैंसर से जूझ रहे मरीज के कूल्हे और घुटने के जोड़ को स्थिरता देने वाली शरीर की सबसे मजबूत हड्डी फीमोरल बोन की दुर्लभ टोटल फीमोरल रिप्लेसमेंट सर्जरी, जयपुर के डॉक्टर्स ने सफलतापूर्वक कर दिखाई। 75 वर्षीय मरीज की जांघ की हड्डी बोन कैंसर के कारण तेजी से गलने लगी थी, ऐसे में डॉक्टर्स ने कूल्हे व घुटने के जोड़ तक फैली पूरी हड्डी को बदल दिया।

20/11/2020

बच्चों पर शोध: खांसी-जुकाम नहीं बल्कि बुखार के साथ उल्टी दस्त, पेट दर्द होने पर भी हो सकता है कोरोना

अब तक खांसी जुकाम या बुखार के लक्षण होने पर ही कोरोना वायरस की पुष्टि होना माना जा रहा था। लेकिन बच्चों में बुखार के साथ उल्टी दस्त होने पर भी कोरोना वायरस होना पाया गया है। सवाई मानसिंह मेडिकल कॉलेज जयपुर में बच्चों पर हुए एक शोध में इसकी पुष्टि हुई है।

03/06/2020

आइसक्रीम स्टिक टेक्निक से बोन कैंसर का इलाज, रिकवरी में लगने वाला समय और खर्च भी होगा कम

आइसक्रीम स्टिक टेक्निक बोन कैंसर से जुझ रहे रोगियों के इलाज की नवीनतम तकनीक के रूप में सामने आई है। इस तकनीक की सहायता से रोगी की कैंसर ग्रसित बोन को लिक्विड नाइट्रोजन की सहायता से कैंसर मुक्त करना संभव है।

12/06/2020

जानिए गाइनेकोमेस्टिया के बारे में, जो पुरुषों की लाइफस्टाइल को प्रभावित करता है

कई बार अलग शारीरिक बनावट के कारण हमें समाज में शर्मिंदा होना पड़ जाता है। ऐसी ही तेजी से बढ़ती एक समस्या है पुरुषों में ब्रेस्ट विकसित होने की है, जिसे गाइनेकोमेस्टिया कहते है।

11/09/2019