Dainik Navajyoti Logo
Saturday 15th of August 2020
Dainik Navajyoti
 
स्वास्थ्य

भारतीयों में आंखों की बढ़ती बीमारी से चिंता

Saturday, October 12, 2019 10:55 AM
कॉन्सेप्ट फोटो

नई दिल्ली। विश्व दृष्टि दिवस पर हाल में जारी एक शोध के नतीजे में कहा गया है कि भारतीयों में दृष्टि दोष या आंखों के कमजोर और बीमार होने के मामले हाल में बहुत बढ गए हैं। यह शोध कार्य सिग्नीफाई ने जारी किया है। जो प्रकाश व्यवस्था के मामले में दुनिया में अव्वल है। इसे पहले फिलिप्स लाइटिंग के नाम से जाना जाता था। उपरोक्त शोधकार्य भारत के दस नगरों में  एक हजार वयस्क लोगों और 300 नेत्रविज्ञानियों से बातचीत के आधार पर तैयार किया गया है। इस शोध में कहा गया है कि दृष्टिदोष वाले भारतीयों की संख्या में हाल के वर्षों में भारी वृद्धि हुई है। यह आंकड़ा 65 प्रतिशत तक है, जबकि वयस्क भारतीयों का कहना है कि अच्छी नेत्रज्योति एक बेहतरीन जीवनयापन के लिए अनिवार्य है। फिर भी बहुतकम लोग आंखों को स्वस्थ रखने लिए सचेष्ट रहते हैं।

इस शोध से यह भी पता चला है कि अधिकतर भारतीय प्रतिदिन 14 घंटे से भी अधिकतर घरों या दफ्तरों के कमरे में रहते हैं। जहां कृत्रिम प्रकाश रहता है। अत: इस प्रकाश की गुणवत्ता अच्छी आंखों के लिए जरूरी है। नेत्र विज्ञानी कहते हैं कि 75 फीसदी भारतीय प्रतिदिन 10 घंटे कम्प्यूटर स्क्रीन पर देखते रहने के बाद आंखों में जलन की शिकायत करते हैं। बीस से 35 वर्ष  के युवक और युवती आंखों में जलन, तनाव और आंखों के लाल हो जाने की शिकायत करते हैं।  फिर भी अधिकतर भारतीय आंखों के प्रति लापरवाह बने रहते हैं।

बहुत कम भारतीय कराते हैं आंखों की जांच
पांच में से कोई एक भारतीय ही नियमित आंखों की जांच कराता है। करीब 84 प्रतिशत भारतीय स्वीकारल करते हैं कि आंखों के स्वास्थ्य के मामले में वे डॉक्टरों की सलाह पर ध्यान नहीं देते। नेत्रविज्ञानियों का कहना है कि खराब प्रकाश व्यवस्था और खराब जीवन शैली भारतीयों में आंखों की बीमारी उत्पन्न करती है।

 

यह भी पढ़ें:

SMS अस्पताल: हार्ट ट्रांसप्लांट के बाद मरीज को वेलिंलेटर से हटाया, तबीयत में हो रहा सुधार

सवाई मानसिंह अस्पताल (SMS) में जिस मरीज का हार्ट ट्रांसप्लांट हुआ, उस मरीज को वेंटिलेटर से हटा दिया गया है और उसकी तबीयत में सुधार है।

17/01/2020

सर्जिकल गेस्ट्रोएंट्रोलॉजी में रोबोट निभाएंगे महत्वपूर्ण भूमिका

भविष्य में सर्जिकल गेस्ट्रोएंट्रोलॉजी में रोबोटिक सर्जरी महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी। इस दिशा में ऐसा ह्यूमनॉइड रोबोट का निर्माण, जो मनुष्यों की न्यूनतम सहायता से सर्जरी कर सके, वर्तमान में सर्वाधिक चर्चा का विषय है।

20/09/2019

दक्षिण कोरिया के नौसेना स्टेशन में विस्फोट के बाद एक की मौत, 3 घायल

दक्षिण कोरिया के दक्षिण पूर्व में एक नौसेना स्टेशन पर एक पनडुब्बी पर मरम्मत के काम के दौरान दुर्घटनावश विस्फोट होने के बाद एक सैनिक की मौत हो गई और अन्य लापता हैं.

16/08/2016

गंभीर कैंसर रोगियों का दर्द कम करती है पैलिएटिव थैरेपी

कैंसर एक घातक व दिल दहला देने वाली जानलेवा बीमारी है। दुनिया भर में होने वाली छह में से एक व्यक्ति की मौत का कारण कैंसर है।

18/04/2019

ईएसआई मॉडल हॉस्पिटल में मनाया गया विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस

अजमेर रोड स्थित ईएसआई हॉस्पिटल में मनोरोग विभाग की ओर से विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस पर चिकित्सकों के लिए अवसाद एवं आत्महत्या के उपचार और रोकथाम को लेकर सेमिनार एवं मानसिक स्वास्थ्य प्रदर्शनी का आयोजन किया गया।

10/10/2019

Video: डॉक्टर्स ने पेट से निकाला बालों का बड़ा गुच्छा

सर्जन एवं विभागाध्यक्ष डॉ. अनिल त्रिपाठी ने बताया कि मरीज के पेट में दर्द, भूख ना लगना, उल्टी होना, वजन कम होना इत्यादि लक्षणों की शिकायत कुछ महीनों से थी।

23/12/2019

खिलाड़ी की मांसपेशियों के दबाव पर अब मशीन रखेगी नजर

स्पोर्ट्स मेडिसिन में अब ऐसी तकनीक आ गई है, जिसमें वेट लिफ्टर या दूसरे एथलीट्स अपनी मांसपेशियों पर एक जैसा दबाव बनाए रखेंगे और उनकी क्षमता बढ़ा सकेंगे।

08/02/2020