Dainik Navajyoti Logo
Sunday 18th of April 2021
 
स्वास्थ्य

स्ट्रोक का सही समय पर इलाज कर 34 वर्षीय महिला मरीज की बचाई जान

Sunday, January 24, 2021 10:40 AM
महिला मरीज और डॉक्टर डीपी शर्मा।

जयपुर। शहर के एक निजी अस्पताल के चिकित्सकों ने मैकेनिकल थ्रोम्बेक्टमी तकनीक से स्ट्रोक से पीड़ित एक 34 वर्षीय महिला मरीज की जान बचाने में सफलता प्राप्त की है। दरअसल मरीज को हाल ही में जब दुर्लभजी अस्पताल की इमरजेंसी में लाया गया था तब उसे अचेतन अवस्था के साथ ही शरीर के बाएं हिस्से में लकवे की शिकायत थी। ऐसे में अस्पताल के सीनियर न्यूरोसर्जन एंड एचओडी डॉ. डीपी शर्मा को देखा। डॉ. डीपी शर्मा ने बताया कि मरीज को सही समय पर अस्पताल लाया गया और ऐसे में मरीज को मैकेनिकल थ्रोम्बेक्टमी तकनीक की सलाह दी गई। परिजनों की सहमति से तुरंत मरीज को कैथ लैब में लिया गया और खून के थक्के को बाहर निकाला गया। ऑपरेशन के बाद मरीज को गहन चिकित्सा इकाई में रखा गया है और पोस्ट ऑपरेटिव पीरियड के बाद अब मरीज को लकवे और आवाज दोनों में फायदा हो गया है।

ये है तकनीक
डॉ. डीपी शर्मा ने बताया कि मेकेनिकल थ्रोम्बेक्टमी ऐसी प्रक्रिया है जिसमें स्ट्रोक की शुरुआत के 24 घंटे के अंदर तक की जा सकती है। इसमें मस्तिष्क में धमनी से थक्के को हटाने और रक्त बहाव बहाल करने के लिए एक स्टेंट का प्रयोग किया जाता है। यह प्रक्रिया उन रोगियों के एक विकल्प है जो ड्रग थैरेपी नहीं ले सकते या इसमें विफल रहे हैं। डॉ. शर्मा ने बताया कि जितना तेजी से स्ट्रोक का इलाज किया जाता है फायदा उतना ही अधिक और जल्दी होता है।

यह भी पढ़ें:

एम्स में आइवीयूएस व आईएफआर तकनीक से हुई पहली बार एंजियोग्राफी

एम्स जोधपुर के हृदय रोग विभाग ने इस नई तकनीक का इस्तेमाल करते हुए दो मरीजों का सफल इलाज किया। उत्तर भारत में इस तकनीक की सहायता से पहली बार इलाज किया गया। एम्स के निदेशक डॉक्टर संजीव मिश्रा ने बताया कि संस्थान के सभी विभागों में उच्चतम तकनीक से मरीजों का इलाज किया जाता है।

28/02/2021

वैज्ञानिकों को मिली बड़ी सफलता, खोजा ऐसा वायरस जो हर तरह के कैंसर का करेगा खात्मा

दुनियाभर के साथ ही भारत में भी कैंसर की बीमारी तेजी से फैल रही है। इस खतरनाक बीमारी की वजह से हर साल करीब 8 लाख लोगों की मौत हो जाती है। ऐसे में वैज्ञानिकों ने एक ऐसा वायरस खोजा है जो हर तरह के कैंसर को खत्म कर सकता है।

11/11/2019

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोरोना वायरस को लेकर आपातकाल किया घोषित

चीन में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या 212 हो गई है। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोरोना वायरस को लगातार बढ़ने के कारण अंतर्राष्ट्रीय आपातकाल घोषित कर दिया है।

31/01/2020

सर्जरी में रखे ध्यान, बेहतर होंगे परिणाम

ज्वाइंट रिप्लेसमेंट का मतलब शरीर के किसी भी हिस्से का ज्वाइंट हो सकता है। इसमें घुटनों का बदलना भी शामिल है और हिप रिप्लेसमेंट भी।

14/05/2019

उत्तर भारत में पहली बार कैडवरिक गुर्दा प्रत्यारोपण, SMS अस्पताल में हुआ सफल लीवर और किडनी ट्रांसप्लांट

एसएमएस अस्पताल के चिकित्सकों ने एक बार फिर अंग प्रत्यारोपण के क्षेत्र में कीर्तिमान स्थापित किया है। यहां चिकित्सकों ने पहली बार स्वयं के स्तर पर लीवर का ट्रांसप्लांट किया है। इस सफलता पर चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने भी उत्तर भारत में पहली बार सफलतापूर्वक कैडवरिक गुर्दा प्रत्यारोपण करने पर एसएमएस प्रबंधन एवं डॉक्टर्स की टीम को बधाई दी है।

13/11/2020

डीआरडीओ ने हिमालय की जड़ी-बूटियां से बनाई सफेद दाग की दवा

देश के प्रमुख रक्षा शोध संगठन ने सफेद दाग की हर्बल दवा मरीजों के विकसित की थी। ये दवा मरीजों के लिए रामबाण साबित हो रही है।

25/06/2019

मिलिट्री हॉस्पिटल में लाइफ स्टाइल क्लीनिक शुरू

जयपुर के मिलिट्री हॉस्पिटल में दक्षिण पश्चिमी कमान के एमजी मेजर जनरल मनु अरोड़ा ने लाइफ स्टाइल क्लीनिक का उद्घाटन किया। क्लीनिक में मरीजों को फिजिशियन, डाइटीशियन, मनोचिकित्सक, हड्डी रोग विशेषज्ञ, फिजियोथैरेपिस्ट और मोटिवेशन के लिए परामर्श दिया जाएगा।

27/09/2019