Dainik Navajyoti Logo
Wednesday 1st of April 2020
 
शिक्षा जगत

कोरोना वायरस के चलते स्कूलों में छुट्टियां, लेकिन शिक्षकों को अवकाश नहीं

Saturday, March 21, 2020 10:55 AM
शिक्षा संकुल।

जयपुर। प्रदेश में कोरोना वायरस को लेकर राज्य सरकार ने 14 विभागों को छोड़कर सभी विभागों में 50 फीसदी कर्मचारियों को रोटेशन के आधार पर अवकाश देने के आदेश जारी किए हैं, लेकिन शिक्षा विभाग के शिक्षकों को लेकर कोई कदम नहीं उठाए गए हैं। प्रदेशभर के करीब 4 लाख से ज्यादा शिक्षक प्रतिदिन स्कूल में समय पर पहुंच रहे हैं। जबकि सरकार ने स्कूलों में 31 मार्च तक अवकाश की घोषणा की है। साथ ही सभी बोर्ड परीक्षाएं भी स्थगित की जा चुकी है, लेकिन इसके बाद भी शिक्षकों को स्कूल में आने के आदेश जारी किए गए हैं।

वैश्विक महामारी में घर रहने दो
स्कूलों में पढ़ाई व परीक्षाएं स्थगित किए जाने के बावजूद शिक्षकों की छुट्टी नहीं दिए जाने को लेकर कवि कुमार विश्वास ने ट्वीट किया कि देश की सरकारों, शिक्षामंत्रियों, शिक्षा-विभाग के उच्च अधिकारियों ये शिक्षक क्या स्पेशल धातु के बने हैं, जो इन्हें बिना परीक्षाओं के बिना कक्षाओं के हर रोज परिसरों में जमा कर लेते हो, देश की हर जरूरत में शिक्षक साथ खड़े होते हैं। कम से कम इस वैश्विक महामारी में तो इन्हें घर रहने दो।

मूल विद्यालय में ज्वॉइन करने के आदेश
उधर, बोर्ड परीक्षा स्थगित होने के बाद जिला शिक्षा अधिकारी (माध्यमिक) ने ड्यूटी पर लगे शिक्षकों को अपने मूल विद्यालय में ज्वॉइन करने के आदेश दिए हैं। डीईओ रामचंद्र पिलानिया ने बताया कि जब तक शिक्षकों के बारे में राज्य सरकार का आदेश प्राप्त नहीं होता, तब तक उन्हें अपने मूल स्थान पर ही हाजिरी देनी होगी। जिले के शिक्षकों को शुक्रवार को मूल स्कूल में बुलाया है।

शिक्षक समाज में फैलाए जागरूकता
शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा कि शिक्षक वर्ग समाज का अभिन्न अंग है। देशहित में होने वाले सभी महत्वपूर्ण काम जैसे जनगणना, चुनाव आदि बिना शिक्षकों के संभव नहीं है। देश में चल रहे नाजुक हालात को देखते हुए सभी शिक्षक बंधुओं से अपील है की कोरोना महामारी पर जनता को जागरूक करें। आप और हमारी जिम्मेदारी कोरोना का इलाज कर रहे डॉक्टर्स से कम नहीं है। आस पड़ोस में लोगों को सावधान करें, सभी को ज्यादा जरूरी ना हो तो घर से बाहर ना निकलने के लिए कहें। उन्होंने कोरोना के चलते चल रही गफलत के बीच शुक्रवार को स्पष्ट किया कि फिलहाल शिक्षकों की छुट्टी नहीं की गई है। उन्हें पूर्वानुसार ही समय पर स्कूल पहुंचना होगा। साथ ही माध्यमिक शिक्षा निदेशक के निर्देशों के अनुसार ही शाला दर्पण और स्कूल के कार्य संपादित करने होंगे।

शिक्षक संघों ने उठाई मांग
राजस्थान प्राथमिक एवं माध्यमिक शिक्षक संघ के वरिष्ठ उपाध्यक्ष विपिन प्रकाश शर्मा का कहना है कि स्कूलों में इस समय अवकाश चल रहे हैं। साथ ही कर्मचारियों को भी 50 फीसदी के रोटेशन के आधार पर अवकाश के आदेश जारी हो चुके हैं, लेकिन उसके बाद भी शिक्षकों को अवकाश की कोई घोषणा नहीं हुई है। ऐसे में दूर-दराज से आने वाले शिक्षकों को ट्रेन और बसों में सफर करना पड़ रहा है। शिक्षा विभाग और शिक्षा मंत्री को कई बार ज्ञापन दिया जा चुका है, लेकिन अभी तक आदेश जारी नहीं हुआ है। ऐसे में शिक्षा विभाग शिक्षकों को हितों में कदम उठाते हुए जल्द से जल्द अवकाश के आदेश जारी करें। वहीं, शिक्षक संघ सियाराम, राजस्थान शिक्षक एवं कर्मचारी संघ समायोजित सहित अन्य शिक्षक संगठनों ने यही मांग उठाई है।

यह भी पढ़ें:

सरकार के इस फैसले से राजस्थान में लाखों रुपये की किताबें हो जाएंगी रद्दी

हजारों की संख्या में पिछले सत्र में प्रकाशित ये किताबें रद्दी हो जाएंगी।

13/05/2019

माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की प्रायोगिक परीक्षाएं देंगे 4.39 लाख छात्र

राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की सीनियर सैकेण्डरी के नियमित परीक्षार्थियों की प्रायोगिक परीक्षाओं की तैयारी पूरी हो गई है।

11/01/2020

सूचना सहायक भर्ती-2018: चयनित बेरोजगारों ने नियुक्ति की मांग को लेकर किया प्रदर्शन

सूचना सहायक भर्ती-2018 से जुड़े मामले में RSSB बोर्ड मुख्यालय के बाहर सैकड़ों चयनित बेरोजगारों ने मंगलवार को प्रदर्शन किया।

28/05/2019

एम्स टॉप-100 में राजस्थान के पांच विद्यार्थियों ने जमाया कब्जा

आॅल इंडिया इंस्टीट्यूट आॅफ मेडिकल साइंस (एम्स) का एमबीबीएस कोर्स में दाखिले के लिए आयोजित की गई परीक्षा का रिजल्ट जारी किया, जिसमें राजस्थान के विद्यार्थियों ने एक बार फिर से देशभर में अपना परचम लहराया है।

13/06/2019

अपेक्स और जिला केन्द्रीय सहकारी बैंकों में 715 पदों पर भर्ती प्रक्रिया शुरू

सहकारिता मंत्री उदय लाल आंजना ने बताया कि सहकारी भर्ती बोर्ड के माध्यम से अपेक्स बैंक एवं जिला केन्द्रीय सहकारी बैंकों में 715 पदों पर भर्ती के लिये प्रक्रिया प्रारम्भ हो गयी है।

12/09/2019

राजस्थान: एलडीसी के 11322 पदों पर जल्द मिलेगी नियुक्ति, संबंधित विभागों को अनुशंसा भेजी

राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड की ओर से लिपिक ग्रेड द्वितीय/ जूनियर असिस्टेड सीधी भर्ती परीक्षा-2018 का फाइनल परिणाम घोषित कर दिया है, जिसमें 11322 अभ्यर्थियों को पात्र मानते हुए अंतिम रूप से चयनित परीक्षार्थियों की सूची में शामिल किया है।

15/02/2020

प्रत्येक जिले में KV की स्थापना पर विचार करे वित्त और HRD मंत्रालय : सुप्रीम कोर्ट

सुप्रीम कोर्ट ने देश की प्रत्येक तहसील में एक केंद्रीय विद्यालय खोलने और प्राइमरी स्कूल के पाठ्यक्रम में भारतीय संविधान को शामिल करने की मांग वाली याचिका पर वित्त मंत्रालय और मानव संसाधन विकास मंत्रालय को 3 महीने में निर्णय लेने का शुक्रवार को निर्देश दिया।

17/01/2020