Dainik Navajyoti Logo
Monday 6th of July 2020
 
शिक्षा जगत

माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की प्रायोगिक परीक्षाएं देंगे 4.39 लाख छात्र

Saturday, January 11, 2020 12:15 PM
फाइल फोटो

जयपुर। राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की सीनियर सैकेण्डरी के नियमित परीक्षार्थियों की प्रायोगिक परीक्षाओं की तैयारी पूरी हो गई है। स्वयंपाठी परीक्षार्थियों की प्रायोगिक परीक्षाएं आयोजित होंगी, जिसकी सूचना उनको यथा समय उनके आवेदित पते पर भेज दी जाएगी। बोर्ड की प्रायोगिक परीक्षाओं के लिए बोर्ड कार्यालय में नियंत्रण कक्ष स्थापित किया गया है। इन प्रायोगिक परीक्षाओं में पूरे राज्य में 4,39,860 छात्र परीक्षा देंगे। इनमें विज्ञान वर्ग में 2,37,656 और कला वर्ग में 2,02,204 परीक्षार्थी परीक्षा देंगे। प्रायोगिक परीक्षा के लिए पूरे राज्य में 8000 से भी अधिक परीक्षकों की नियुक्ति की गई है। इन प्रायोगिक परीक्षाओं पर नजर रखने के लिए 35 उड़नदस्तों का भी गठन किया है, जो प्रायोगिक परीक्षा के दौरान विद्यालयों में लेब और उनमें उपलब्ध संसाधनों की जांच के अतिरिक्त बोर्ड के केन्द्रीय कन्ट्रोल रूम को प्राप्त शिकायतों पर भी त्वरित कार्रवाई करेंगे।

डीईओ को दिए परीक्षक नियुक्त करने के अधिकार
बोर्ड की सचिव मेघना चौधरी ने बताया कि बोर्ड ने इस वर्ष कुछ विषयों में जिले के मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी को परीक्षक नियुक्त करने के अधिकार दिए हैं। अधिकांश विषयों में बोर्ड स्तर पर ही परीक्षकों की नियुक्ति की जाएगी। बोर्ड ने समस्त बाहरी परीक्षकों को निर्देश दिए हैं कि वे उनके द्वारा ली जाने वाली परीक्षा आयोजन की तिथि से बोर्ड के नियंत्रण कक्ष को ई-मेल के माध्यम से सूचित करेंगे। बोर्ड ने इस वर्ष से प्रायोगिक परीक्षा में नियुक्त परीक्षकों को पारिश्रमिक बिल आॅनलाइन आवेदन करने की सुविधा भी उपलब्ध कराई है।

परीक्षार्थियों की होगी जिम्मेदारी
प्रायोगिक परीक्षा के दौरान विद्यालय में नियत तिथि को अनुपस्थित रहने वाले परीक्षार्थी की परीक्षा उसी परीक्षक द्वारा उसी विद्यालय में लिए जा रहे अन्य बैच में शाला प्रधान की विशेष अनुमति से कराई जा सकेगी। किसी भी स्थिति में अन्य परीक्षक अथवा अन्य विद्यालय में परीक्षा की अनुमति नहीं दी जाएगी तथा परीक्षार्थी को अनुपस्थित मानकर परिणाम जारी कर दिया जाएगा, जिसके लिए परीक्षार्थी स्वयं जिम्मेदार रहेगा।

 

यह भी पढ़ें:

सीबीएसई: परीक्षा केन्द्र में घड़ी पहनने पर रहेगी पाबंदी

उदयपुर। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के 10वीं और 12वीं बोर्ड के परीक्षार्थी इस बार कलई पर घड़ी पहनकर परीक्षा नहीं दे पाएंगे क्योंकि बोर्ड ने इस पर पाबंदी लगा दी है।

11/02/2020

अब निजी की तर्ज पर सरकारी स्कूलों में होंगे वार्षिकोत्सव

प्रदेश की सरकारी स्कूलों को निजी स्कूलों की तर्ज पर विकसित करने की दिशा में शिक्षा विभाग ने एक और कदम उठाया है।

29/12/2019

राजस्थान में 70 हजार से अधिक शिक्षकों के पद रिक्त, जल्द भरे जाएंगे: गोविन्द डोटासरा

शिक्षा राज्य मंत्री गोविन्द डोटासरा ने बताया कि प्रदेश के शिक्षकों के सत्तर हजार से अधिक पद रिक्त चल रहे हैं।

12/02/2020

ज्यादातर अभिभावकों को रास नहीं आई ऑनलाइन पढ़ाई, लॉकडाउन के बाद स्कूल में पढ़ाई के पक्ष में

लॉकडाउन के चलते प्राइवेट स्कूलों में बच्चों को ऑनलाइन पढ़ाई पर अधिकांश विद्यार्थी और अभिभावक ही सहमत नहीं है। ज्यादातर अभिभावक चाहते हैं कि लॉकडाउन खुलने के बाद स्कूल शुरू हो और फिर बच्चों की पढ़ाई कराई जाए।

28/04/2020

राजस्थान विश्वविद्यालय में 25 को टीचर भरेंगे नामांकन

राजस्थान विश्वविद्यालय में चार दिसम्बर को 14 साल बाद होने जा रहे वाले राजस्थान विश्वविद्यलय शिक्षक संघ (रूटा) के चुनाव के लिए 25 नवम्बर को नामांकन भरे जाएंगे।

23/11/2019

राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने बोर्ड परीक्षाओं के लिए बनाए 210 नए परीक्षा केन्द्र

राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने की मुख्य परीक्षाओं के लिए प्रदेश में 210 नए परीक्षा केन्द्र खोलने का निर्णय लिया है।

25/01/2020

इनक्यूबेशन सेंटर से विद्यार्थियों को रोजगार में मिलेगी मदद

जेईसीआरसी यूनिवर्सिटी, सीतापुरा में चल रहे जेयू-रिदम के दूसरे दिन बच्चों में उत्साह है। मुख्य अतिथि अवनीश सभरवाल ने जेआईसी इनक्यूबेशन सेंटर का शुभारम्भ किया।

29/02/2020