Dainik Navajyoti Logo
Wednesday 30th of September 2020
 
शिक्षा जगत

स्कूलों को खोलने की तैयारी, केन्द्र के निर्देश के बाद राज्य सरकार ने तेज की कवायद

Saturday, September 12, 2020 11:25 AM
शिक्षा संकुल।

जयपुर। केंद्र सरकार ने 21 सितंबर के बाद से कक्षा 9 से 12 तक के स्कूल खोलने की अनुमति दे दी है। अनलॉक-4 के तहत एसओपी जारी कर दी गई है। इस दौरान प्रदेश की गहलोत सरकार ने भी प्रदेश के स्कूलों को भी खोलने की तैयारी शुरू कर दी है। दरअसल, कोरोना संक्रमण के चलते शिक्षण संस्थान बीती 20 मार्च से बंद हैं।

विभाग ने लिए थे सुझाव
शिक्षा संस्थानों और स्कूलों को खोलने को लेकर प्रदेश के शिक्षा विभाग ने अभिभावकों और शिक्षाविदें से सुझाव मांगे थे, जिस पर विभाग विचार करेगा। इसके बाद केन्द्र की गाइडलाइन के अनुसार राज्य सरकार के दिशा-निर्देशों के आधार पर स्कूलों को खोला जाएगा।

लेनी होगी अनुमति
स्कूल जाने के लिए छात्रों को पैरंट्स से लिखित अनुमित लेनी होगी। वहीं स्कूल में स्टूडेंट्स के बीच कम से कम 6 फीट की दूरी होनी चाहिए। इसके अलावा फेस कवर या मास्क अनिवार्य किया गया है। क्वारंटाइन सेंटर रहे स्कूलों को खोलने से पहले पूरी तरह सेनेटाइज किया जाएगा। बायोमीट्रिक अटेंडेंस नहीं होगी। स्कूल के अंदर भी थोड़ी-थोड़ी देर में हाथों को साबुन से धुलना या सेनेटाइज करना होगा। परिसर में इधर-उधर थूकने पर पाबंदी रहेगी। जो स्कूल कंटेनमेंट जोन में हैं, वहां स्टूडेंट्स या स्टॉफ नहीं जा सकेंगे। कोरोना के लक्षण वाले स्टाफ या छात्र को आने की परमिशन नहीं दी जाएगी। स्कूल के गेट पर हर छात्र और स्टॉफ की थर्मल स्क्रीनिंग होगी। वहीं उनके हाथ भी सेनेटाइज कराए जाएंगे। कैंपस के अंदर भी थोड़ी-थोड़ी देर में हाथों को साबुन से धुलना या सेनेटाइज करना होगा।

वैक्सीन आने के बाद भेजेंगे बच्चे

संयुक्त अभिभावक समिति राजस्थान के सदस्य अभिषेक जैन ने कहा कि हम अभिभावक है। हम अपने बच्चों को एक साल लेट पढ़ा लेंगे, लेकिन उनकी जान जोखिम में नहीं डालेंगे। जब तक कोरोना की पुख्ता वैक्सीन नहीं आ जाती, तब तक हम अपने बच्चों को स्कूल नहीं भेजेंगे। विदेशों में देखा गया कि जब स्कूल खुले तो कई चपेट में आ गए।

पेन, पेंसिल और बुक शेयर नहीं
स्कूल में स्टूडेंट्स पेन, पेंसिल, नोटबुक या कोई अन्य सामान दूसरे छात्र से शेयर नहीं कर सकेंगे। असेंबली, खेल-कूद या अन्य आयोजनों की इजाजत भी नहीं होगी। परिसर में इधर-उधर थूकने पर पाबंदी है। सभी को आरोग्य सेतु एप डाउनलोड करने की सलाह दी गई है। वहीं स्कूलों को पल्स ऑॅक्सिमीटर का इंतजाम करना होगा।

स्कूल शिक्षा विभाग के निदेशक सौरभ स्वामी ने कहा कि प्रदेश के सभी स्कूलों को खोलने को लेकर तैयारियां चल रही है। राज्य सरकार के जो भी आदेश आएंगे, उसके अनुसार विद्यालयों को शुरू किया जाएगा।

यह भी पढ़ें:

UGC ने स्टूडेंट्स की शिकायतों के समाधान के लिए शुरू की हेल्पलाइन, प्रकोष्ठ का किया गठन

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग ने कोरोना वायरस महामारी को देखते हुए लॉकडाउन से होने वाली समस्यायों के मद्देनजर विश्वविद्यालय एवं कॉलेज के छात्रों की शिकायतों को सुलझाने के लिए एक प्रकोष्ठ का गठन किया है। यूजीसी द्वारा जारी विज्ञप्ति के अनुसार इन छात्रों की शिकायतों के निराकरण के लिए एक हेल्पलाइन भी शुरू की गई है।

11/05/2020

130 से कम अंक तो कॉमन रैंक लिस्ट में नहीं मिलेगा स्थान

देश की अति प्रतिष्ठित इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा जेईई एडवांस-2019 का 27 मई को आयोजित की गई थी। आईआईटी रुड़की प्रशासन की ओर से जारी इंफॉर्मेशन बुलेटिन के अनुसार शुक्रवार को सुबह 10 बजे प्रतिष्ठित जेईई एडवांस परीक्षा का परिणाम घोषित कर दिया जाएगा।

14/06/2019

RBSE परीक्षा: छात्रों को सेंटर पर आना होगा 1 घंटे पहले, मास्क और सोशल डिस्टेंस नियमों की करनी होगी पालना

राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड कोरोना से प्रभावित दसवीं एवं बारहवीं बोर्ड की शेष परीक्षाएं कोविड-19 संक्रमण की महामारी से पूरी सावधानी रखते हुए आयोजित करेगा। परीक्षा के दौरान विद्यार्थियों को मास्क लगाकर 1 घंटा पहले परीक्षा केंद्र पर उपस्थित होना होगा।

07/06/2020

परीक्षा परिणाम में दिखाई दक्षता, जानिए क्या बनना चाहती हैं खुशी, दिव्या और दुलारी

टैगोर पब्लिक स्कूल वैशाली नगर में सीबीएसई बोर्ड की दसवीं की परीक्षा में 163 विद्यार्थियों ने सहभागिता निभाई जिसमेें 14 विद्यार्थियों ने 90 प्रतिशत से अधिक प्राप्त किए।

09/05/2019

हौसलों की उड़ान के आगे कोई बाधा बड़ी नहीं

जब हौसले उडान भरते हैं तो कोई बाधा बड़ी नहीं होती है और कुछ ऐसे ही हौसलों की उड़ान भरी है। दौसा के रहने वाले ईशान जैन ने सीबीएसई 12वीं में 87 फीसदी अंक प्राप्त कर प्रदेश

10/05/2019

इग्नू ने की बीए पर्यटन प्रबंधन पर कोर्स की शुरुआत

वर्तमान में पर्यटन क्षेत्र की बढ़ती सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय ने बीए पर्यटन प्रबंधन पर कोर्स की शुरूआत की है, जिससे प्रदेश के साथ ही देशभर के युवा दूरस्थ शिक्षा से व्यावसायिक अध्ययन कर सकते है।

12/09/2019

केसरिया से फिर काली हुई साइकिल

प्रदेश में सत्ता चाहे किसी की भी हो, लेकिन साइकिलों के रंग पर सवार होकर हर राजनीतिक पार्टी इस पर सियासत करना चाहती है।

17/10/2019