Dainik Navajyoti Logo
Friday 22nd of October 2021
 
शिक्षा जगत

RU में छात्र दुर्घटना बीमा के छात्रों से लिए 100 रुपए और बीमा देंगे 60रुपए का : एनएसयूआई करेगी विरोध

Thursday, October 14, 2021 14:55 PM
कॉन्सेप्ट फोटो

जयपुर। राजस्थान विश्वविद्यालय में स्टूडेंट्स दुर्घटना बीमा के लिए ली गई राशि को लेकर एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने आरयू प्रशासन के अधिकारियों पर गंभीर आरोप लगाए है। राजस्थान विश्वविद्यालय के 27हजार विद्यार्थियों से शैक्षणिक सत्र 2021 22 के लिए 100रुपए प्रति छात्र छात्र दुर्घटना बीमा के नाम से उनके प्रवेश के समय लिए गए थे छात्रों द्वारा अपनी सुरक्षा के लिए विश्वविद्यालय को दिए गए इन 100रुपए में से विश्वविद्यालय के कुछ अधिकारी मिलकर 40रुपए की कमाई करने जैसा निंदनीय कार्य कर रहे हैं।  जिसका एनएसयूआई विरोध करेगी।

एनएसयूआई ने इस संबंध में विश्वविद्यालय के कुलपति को स्पष्ट कहा है कि जब विश्वविद्यालय के छात्रों से सो रुपए उनके बीमा के नाम से लिए गए तो छात्रों को 60रुपए का बीमा ही क्यों दिया जा रहा है। विश्वविद्यालय के कुछ अधिकारी इस पूरी प्रक्रिया में अनियमितता से कार्य कर रहे हैं ऐसा निर्णय लेने वाले विश्वविद्यालय के वित्त अधिकारी और अन्य अधिकारियों के विरुद्ध एनएसयूआई ने सख्त कार्यवाही किए जाने की मांग की है।

एनएसयूआई के प्रवक्ता रमेश भाटी ने कहा है कि पिछले 2 सालों से विश्वविद्यालय में छात्र संघ के चुनाव नहीं हुए हैं जबकि प्रत्येक छात्र से 300रुपए छात्र संघ वह अन्य गतिविधियों के लिए विश्वविद्यालय पहले ही ले चुका है इस सारे प्राप्त राशि को विश्वविद्यालय के छात्रों के हित में लगाया जाना चाहिए लेकिन इस पूरी राशि का विश्वविद्यालय अन्य कार्यों में उपयोग दे रहा है जो उचित नहीं है।  भाटी ने कहा है कि विश्वविद्यालय के छात्रों कुछ छात्र दुर्घटना बीमा का लाभ अधिक से अधिक दिए जाने के लिए छात्र संघ के नाम से दी गई राशि का उपयोग करना चाहिए छात्रों को बीमा के नाम से गंभीर बीमारियों में अस्वस्थ होने पर लाभ की प्रक्रिया इस मद से शुरू की जानी चाहिए।  भाटी ने कहा है की राजस्थान विश्वविद्यालय भारत का पहला ऐसा विश्वविद्यालय है जहां छात्रों को दुर्घटना बीमा का लाभ मिल रहा है और इस अभिनव योजना के चलते विश्वविद्यालय के दुर्घटनाओं में घायल होने वाले वह मृत्यु होने वाले छात्रों को अब तक प्रति छात्र साडे 6 लाख रुपए का बीमा दिया जा रहा है जो इस वर्ष कम से कम 10लाख रुपए का किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा है कि छात्र संघ की राशि से विश्वविद्यालय के सभी छात्रों को उनकी गंभीर बीमारियों और अन्य तरह की परेशानियों के समय सहायता का प्रावधान किया जाना चाहिए।

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

RBSE: 10वीं-12वीं के नव गठित परीक्षा केंद्रों के परीक्षार्थियों के प्रवेश पत्र बोर्ड की वेबसाइट पर अपलोड

राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड द्वारा कोरोना महामारी के चलते लंबित 10वीं एवं 12वीं की शेष परीक्षाओं के लिए परीक्षार्थियों के प्रवेश पत्र बोर्ड की वेबसाइट पर अपलोड कर दिए गए हैं। इन नए उप केंद्रों के लिए विद्यालय प्रधान प्रवेश पत्रों को डाउनलोड कर विद्यार्थियों को अपनी मोहर से प्रमाणित कर जारी करेंगे।

11/06/2020

अब निजी की तर्ज पर सरकारी स्कूलों में होंगे वार्षिकोत्सव

प्रदेश की सरकारी स्कूलों को निजी स्कूलों की तर्ज पर विकसित करने की दिशा में शिक्षा विभाग ने एक और कदम उठाया है।

29/12/2019

बढ़ते कोरोना संक्रमण के चलते नहीं होगी 5वीं तक के बच्चों की परीक्षा, गहलोत सरकार ने लिया फैसला

कोरोना वायरस के फिर से बढ़ते संक्रमण के चलते राज्य सरकार ने कक्षा 1 से 5वीं तक के बच्चों की परीक्षाएं आयोजित नहीं करने का फैसला लिया है। इससे पहले सरकार ने 31 मार्च तक इन बच्चों के लिए स्कूलों को पूरी तरह से बंद कर रखी है और ऑनलाइन कक्षाएं संचालित कर रही है।

18/03/2021

जेईई मेन के फरवरी सेशन की परीक्षा पूरी, 82 प्रश्न एनसीईआरटी बेस्ड रहे

इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा जेईई मेन का फरवरी सेशन पूरा हो गया है। आखिरी दिन मॉर्निंग शिफ्ट के पेपर्स इवनिंग शिफ्ट की तुलना में थोड़ा टफ रहे। फिजिक्स का पेपर दोनों शिफ्ट्स में इजी रहा। मॉर्निंग शिफ्ट में केमिस्ट्री में इनऑर्गेनिक टॉपिक्स के प्रश्नों में थोड़ा कन्फ्यूजन रहा व इवनिंग शिफ्ट में मैथ्स के इंटीग्रल कैलकुलस के इन्टिजर बेस्ड प्रश्न थोड़े टफ रहे।

27/02/2021

CBSE 10वीं के नतीजे घोषित, 13 टॉपर्स में जयपुर की तरु जैन

बता दें कि पिछले हफ्ते CBSE 12वीं के नतीजे घोषित होने के बाद 10वीं के नतीजों को लेकर कई दिन से कयास लगाए जा रहे थे।

06/05/2019

राजस्थान में 70 हजार से अधिक शिक्षकों के पद रिक्त, जल्द भरे जाएंगे: गोविन्द डोटासरा

शिक्षा राज्य मंत्री गोविन्द डोटासरा ने बताया कि प्रदेश के शिक्षकों के सत्तर हजार से अधिक पद रिक्त चल रहे हैं।

12/02/2020

सरकारी स्कूल में दानदाताओं ने वितरित किए स्वेटर और जूते

राजकीय माध्यमिक विद्यालय में 150 छात्रों को स्वेटर और जूते वितरित किए। इसके अलावा स्पोर्ट्स एकेडमी के लिए 32000 रुपयों का दान दाताओं ने सहयोग किया।

24/12/2019