Dainik Navajyoti Logo
Monday 2nd of August 2021
 
शिक्षा जगत

जेईई मेन पेपर में 92 फीसदी सवाल एनसीईआरटी बेस्ड

Friday, January 10, 2020 14:30 PM
फाइल फोटो

जयपुर। देश की सबसे बड़ी इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा जेईई-मेन सम्पन्न हुई, इसमें 92 फीसदी से अधिक सवाल एनसीईआरटी बेस्ड रहा। इस बार आठ पारी में कुल 11,18, 673 छात्र देशभर में एग्जाम दिया। इस वर्ष यह परीक्षा देश के 224 शहरों के साथ विदेशों के 9 शहरों में आयोजित हुई।

राजस्थान में 11 शहरों में ये परीक्षा हुई, जिसमें अजमेर, अलवर, भरतपुर, जयपुर, जोधपुर, कोटा, सीकर,शामिल हैं। जेईई मेन में कुल मिलाकर पेपर्स सीधे एनसीईआरटी किताबों पर आधारित 92 फीसदी से अधिक सवाल थे, जिसमें लगभग 70 फीसदी प्रश्न फिजिक्स और मैथ्स में संख्यात्मक थे तथा 30 फीसदी रसायन विज्ञान में संख्यात्मक थे एवं 20 फीसदी मेमोरी आधारित रसायन विज्ञान पाठ के प्रश्न थे, जो कि पिछले साल के समान थे।

नहीं होगा छात्रों को नुकसान
दोनों पारियों के पेपर अन्य दिनों की तुलना में कठिन था, लेकिन सामान्य होने की प्रक्रिया के कारण इसमें उपस्थित छात्रों को कोई नुकसान नहीं होगा, क्योंकि जेईई मेन रैंक एनटीए द्वारा परिभाषित प्रतिशत गणना पर आधारित होगी।

लंबी गणना के मैथ्स के सवाल
इस साल अगर हम ध्यान से पेपर पैटर्न को देखें तो सभी पारियों में मैथ्स के पेपर में लंबी गणना के प्रश्न थे, फिजिक्स कठिन था और कैमेस्ट्री आसान  तथा तथ्य आधारित प्रश्न थे।

यह इंगित करता है कि जिन छात्रों ने अग्रिम स्तर पर फिजिक्स तैयार की और उच्च गणना गति प्राप्त की, उन्हें दूसरों पर लाभ मिलेगा।

समग्र बेंच मार्किंग को रखेंगे पात्र
एनटीए ने पहले ही घोषणा की है कि पत्रों की समग्र बेंच मार्किंग को समान रखा जाएगा और सभी 16 पारियों, जिनमें  सामान्य अखिल भारतीय रैंक केवल छात्रों के प्रतिशत अंक के आधार पर घोषित की जाएगी। इस परीक्षा में छात्रों के वास्तविक अंक जारी नहीं किए जाएंगे।

विशेषज्ञ आशीष अरोड़ा का कहना है कि छात्रों को मुख्य रूप से एनसीईआरटी की किताबों पर पूरा ध्यान केंद्रित करना चाहिए। रसायन विज्ञान के स्मृति आधारित प्रश्नों के साथ भौतिकी और गणित के सभी संख्यात्मक प्रश्न इसमें शामिल रहेंगे।

 

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

केसरिया से फिर काली हुई साइकिल

प्रदेश में सत्ता चाहे किसी की भी हो, लेकिन साइकिलों के रंग पर सवार होकर हर राजनीतिक पार्टी इस पर सियासत करना चाहती है।

17/10/2019

RAS भर्ती-2018: प्रारंभिक परीक्षा का परिणाम पुनः जारी करने के आदेश

उक्त आदेश जस्टिस आलोक शर्मा ने पंकज राज व अन्य की याचिका पर दिए हैं। याचिका में प्रश्नों की जांच को लेकर आपत्ति उठाई थी।

23/04/2019

प्रदेश में स्कूलों को खोलने की तैयारी तेज, शिक्षा विभाग ने नवंबर से स्कूल खोलने का प्रस्ताव सरकार को भेजा

केंद्र की अनुमति के बाद राज्य सरकार ने प्रदेशभर के स्कूलों को खोलने की तैयारी तेज कर दी है। इसके तहत बैठके आयोजित करने का दौर जारी है और शिक्षा विभाग भी कवायद करने में लगे हुए है। इस दौरान शिक्षा विभाग ने नवंबर से विद्यालय खोलने को लेकर प्रस्ताव राज्य सरकार को भेजा है, जिसके अनुसार सबसे पहले 9 से 12वीं तक के बच्चे आएंगे।

23/10/2020

आईआईएचएमआर यूनिवर्सिटी में आयुष्मान भारत योजना के बारे में दी जानकारी

आईआईएचएमआर यूनिवर्सिटी में इंडियन एंबीशन विजिट यूएसए डेलिगेट्स के साथ आयोजन किया गया।

10/01/2020

शिक्षा के क्षेत्र में राजस्थान को सिरमौर बनाना हमारा प्रयास: गहलोत

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने देश के आर्थिक हालात पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि आज ऑटोमोबाइल, टैक्सटाइल सहित अधिकतर सेक्टर मंदी के दौर से गुजर रहे हैं। युवाओं को नौकरियां मिलना तो दूर की बात है, नौकरियां जा रही हैं। काम-धंधे ठप पड़े हैं।

23/09/2019

चार साल बाद भी राजस्थान यूनिवर्सिटी में पूरा नहीं हुआ नई सेंट्रल लाइब्रेरी का काम

राजस्थान विश्वविद्यालय में चार साल पूरे होने के बाद भी काम पूरा नहीं हो पाया है। बीती 7 जुलाई 2016 को नई सेंट्रल लाइब्रेरी का जोर-शोर से शिलान्यास किया गया था। 11 करोड़ 87 लाख रुपए की लागत से बनने वाली इस लाइब्रेरी का काम 1 साल में पूरा होना था, लेकिन चार साल से ज्यादा का समय बीत जाने के बाद भी अभी तक लाइब्रेरी को पूरा नहीं बनाया जा सका है।

01/12/2020

गुजरात बोर्ड के 10वीं के परिणाम घोषित, छात्राओं ने फिर मारी बाजी

गुजरात माध्यमिक एवं उच्चतर माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की ओर से इस वर्ष मार्च में आयोजित मैट्रिक (10 वीं) की परीक्षा के परिणाम आज घोषित किये

21/05/2019