Dainik Navajyoti Logo
Thursday 9th of December 2021
 
शिक्षा जगत

दैनिक नवज्योति की ख़बर का असर : आरयू पर कार्रवाई के लिए राज्य सरकार ने बनाई जांच कमेटी

Friday, November 19, 2021 16:10 PM
कॉन्सेप्ट फोटो

जयपुर। राजस्थान विश्वविद्यालय में कॅरियर एडवांसमेंट स्कीम (सीएएस) के तहत बनाए गए 200 से ज्यादा प्रोफेसर्स का मामला एक बार फिर तूल पकड़ता जा रहा है। अब राज्य सरकार ने आरयू पर अगली कार्रवाई के लिए जांच कमेटी बना दी है। हाल ही में इस मामले में विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने भी कठोर कदम उठाते हुए आरयू को कड़े शब्दों में लेटर लिखकर स्पटीकरण मांगा है। दैनिक नवज्योति ने 12 नवंबर को राजस्थान विश्वविद्यालय की मान्यता और ग्रांट पर मंडराया संकट और 14 अगस्त को ‘चयन समिति के प्रतिनिधि ने किया बहिष्कार, आरयू की सीएएस प्रक्रिया पर उठे सवाल’ शीर्षक से खबर प्रकाशित की थी। इसके बाद राज्य सरकार और यूजीसी ने सीएएस चयन प्रक्रिया के बारे में जानकारी मांगी है।

प्रो. त्रिवेदी की निगरानी में बनाई समिति
राज्य सरकार ने गोविन्द गुरु जनजातीय विश्वविद्यालय, बांसवाड़ा के कुलपति प्रो. आईबी त्रिवेदी को संयोजक बनाते हुए कमेटी बनाई है। उच्च शिक्षा विभाग ग्रुप-4 के शासन सचिव एनएल मीना के अनुसार कमेटी में जयनारायण व्यास विवि जोधपुर के पूर्व कुलपति प्रो. श्याम लाल, मोहन लाल सुखाड़िया विवि उदयपुर के प्रो. घनश्याम सिंह, विश्वविद्यालय अनुदान आयोग, नई दिल्ली के संयुक्त सचिव गोपू कुमार, संयुक्त शासन सचिव वित्त विभाग राज्य सरकार को सदस्य बनाया गया है। यह जांच समिति यूसीसी रेगुलेशन्स के प्रावधानों और नियमों को देखते हुए परीक्षण कर जांच रिपोर्ट तथा राज्य सरकार के स्तर से की जाने वाली कार्रवाई के संबंध में अपनी स्पष्ट अनुशंषा 15 दिन में राज्य सरकार को देगी।

यह था मामला

यूजीसी रेगुलेशन के अनुसार सेवानिवृत शिक्षकों को सीएएस का लाभ नहीं मिल सकता है, लेकिन विवि प्रशासन उनको लाभ दे रहा है। विश्वविद्यालय की सिंडिकेट तथा चयन समिति में राज्य सरकार के प्रतिनिधि प्रो. रामलखन मीना ने सीएएस के सम्बन्ध में नियमों और प्रक्रियाओं के बारे में बताते हुए विश्वविद्यालय को नियमों की पालना के लिए लिखा था, लेकिन विश्वविद्यालय प्रशासन ने राज्य सरकार के प्रतिनिधि की बात को नजर अंदाज करते हुए चयन प्रक्रिया की। इस पर प्रो. मीना ने यूजीसी, राज्य सरकार और राजभवन तीनों को अवगत कराया है।

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

प्रदेशभर के बीएड कॉलेजों को लेनी होगी एनओसी

प्रदेशभर के बीएड कॉलेजों को अनापत्ति प्रमाण पत्र लेना होगा। इसको लेकर राज्य सरकार ने राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद् के आदेश के तहत शैक्षणिक सत्र के लिए कार्यक्रम जारी कर दिया है।

17/10/2019

सीएस कोर्स करना होगा आसान, छात्र कभी भी दें सकेंगे ऑनलाइन प्रवेश परीक्षा

प्रदेश के साथ ही देशभर के विद्यार्थियों को भारतीय कंपनी सचिव संस्थान में आसानी से प्रवेश मिल सकेगा। इसके लिए संस्थान सीएस की परीक्षा के लिए ऑनलाइन प्रवेश परीक्षा आयोजित करेगा, जिसको छात्र कभी भी अपनी सुविधा के अनुसार दे सकेंगे।

18/11/2019

CBSE की 10वीं कक्षा के नतीजे घोषित, 91.46 फीसदी रहा परीक्षा परिणाम

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की दसवीं कक्षा की परीक्षा के नतीजे घोषित कर दिए गए हैं। 10वीं के परिणाम में एक बार फिर लड़कियों ने बाजी मार ली है। बारहवीं की परीक्षा में भी लड़कियों ने बाजी मारी थी। 12वीं के बोर्ड की तरह 10वीं बोर्ड में भी तिरुवनंतपुरम क्षेत्र देश में सबसे टॉप पर रहा।

15/07/2020

जेईई मेन मई सेशन-2021 की परीक्षा स्थगित, कोरोना के बढ़ते संक्रमण के चलते शिक्षा मंत्रालय ने लिया फैसला

देश में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) ने मई सेशन 2021 में होने वाली चौथे फेज की संयुक्त प्रवेश परीक्षा (जेईई) मेन परीक्षा को स्थगित कर दिया है। यह परीक्षाएं 24, 25, 26, 27 और 28 मई को आयोजित की जानी थी।

04/05/2021

राजस्थान के 300 से अधिक कॉलेजों का सिलेबस होगा अपडेट: भंवर सिंह भाटी

प्रदेशभर के 300 से अधिक राजकीय महाविद्यालयों के सिलेबस को अपडेट किया जाएगा। इसको लेकर राज्य सरकार ने कवायद शुरू कर दी है।

13/02/2020

छोटे स्कूल खोलने को तैयार, बड़े कंफ्यूज, प्राइवेट संस्थान मंगवा रहे अभिभावकों से सुझाव

प्रदेश में कोरोना का ग्राफ कम होने के साथ ही धीरे-धीरे स्कूल खुल रहे है। इससे अब स्कूलों में छात्रों की संख्या बढ़ेगी। राज्य सरकार ने प्रदेशभर के राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड और केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के 6वीं से 8वीं तक की स्कूलों को आठ फरवरी से खोलने की अनुमति दे दी है। इस दौरान राज्य के छोटे प्राइवेट स्कूल कक्षाएं शुरू करने के लिए तैयार है, लेकिन बड़े प्राइवेट स्कूल संचालक अभी कंफ्यूज है।

04/02/2021

UPSC: 12वीं में 60 प्रतिशत लाने वाले जुनैद तीसरे स्थान पर

तीसरे स्थान पर रहने वाले जुनैद अहमद यूपी के नगीना कस्बे के नगीना बन गए हैं। जुनैद बताते हैं कि एक मध्यम वर्गीय मुस्लमि परिवार से हूं। शुरू से पढ़ाई में भी औसत छात्र ही रहा।

06/04/2019