Dainik Navajyoti Logo
Thursday 20th of January 2022
 
शिक्षा जगत

शिक्षा विभाग ने तय किया 10वीं और 12वीं बोर्ड रिजल्ट का फॉर्मूला, 45 दिनों के अंदर जारी होंगे परीक्षा परिणाम

Thursday, June 24, 2021 10:30 AM
माध्यमिक शिक्षा बोर्ड।

जयपुर। शिक्षा विभाग की ओर से कक्षा 10वीं व 12वीं के परिणाम तय करने के लिए गठित समिति की रिपोर्ट के आधार पर शिक्षा मंत्री गोविन्द सिंह डोटासरा ने बुधवार को फॉर्मूला जारी कर दिया है। समिति की ओर से निर्धारित फॉर्मूले के अनुसार पिछले दो वर्षों की परीक्षाओं को आधार बनाया जाएगा। कक्षा 10 के विद्यार्थियों के अंक निर्धारण के लिए कक्षा 8 की बोर्ड परीक्षा 2019 का अंक भार 45 प्रतिशत रहेगा। कक्षा 9 में अंतिम प्राप्तांकों का अंकभार 25 प्रतिशत रहेगा। वहीं, कक्षा 10 का अंकभार 10 प्रतिशत रहेगा। कक्षा 10 के अंकभार का निर्धारण विद्यालय विषय समिति द्वारा किया जाएगा। इस समिति में शाला प्रधान, कक्षाध्यापक तथा विषय अध्यापन करवाने वाला शिक्षक शामिल रहेंगे। यह समिति वर्तमान सत्र में किए गए विभिन्न डिजिटल नवाचारों जैसे स्माइल, स्माइल-2, आओ घर में सीखें, कक्षा तथा कक्षा शिक्षण में विद्यार्थियों की सतत भागीदारी तथा प्रदर्शन को देखते हुए सत्र पर्यन्त किए अवलोकन के आधार पर अंक निर्धारण करेगी। सत्रांक का अंकभार पूर्व के वर्षों के भांति 20 प्रतिशत रहेगा।

प्रायोगिक परीक्षाओं के लिए ऑनलाइन या ऑफलाइन एग्जाम
वहीं कक्षा 12 वीं के विद्यार्थियों के अंक निर्धारण फॉर्मूले में कक्षा 10 की बोर्ड परीक्षा 2019 में प्राप्तांक का अंकभार 40 प्रतिशत रहेगा। कक्षा 11 में प्रदत्त अंकों का अंकभार 20 प्रतिशत रहेगा। कक्षा 12 का अंकभार 20 प्रतिशत रहेगा, जिसका निर्धारण विद्यालय विषय समिति द्वारा किया जाएगा। सत्रांक का अंकभार पहले की तरह 20 प्रतिशत ही रहेगा। कक्षा 12 की प्रायोगिक परीक्षाओं के संबंध में समिति ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि अधिकतर विद्यालयों में प्रायोगिक परीक्षाओं का आयोजन हो चुका है तथा 40 प्रतिशत विद्यालयों में परीक्षा उपरान्त मार्क्स भी दिए जा चुके है। अब शेष रहे विद्यालयों में कक्षा 12वीं की प्रायोगिक परीक्षाएं गृह तथा चिकित्सा विभाग द्वारा आवश्यक अनुमति मिलने पर ऑनलाइन या ऑफलाइन आयोजित की जाएगी।

स्वयंपाठी विद्यार्थियों को देनी होगी परीक्षा
प्राइवेट या ऐसे विद्यार्थी जिन्होंने श्रेणी सुधार के लिए आवेदन किया है, उन्हें बोर्ड द्वारा जब भी परीक्षा का आयोजन होगा तब अवसर दिया जाएगा। समिति की ओर से तय अंक योजना में पूरक आए विद्यार्थियों को पूरक परीक्षा का आयोजन होने पर परीक्षा देनी होगी।

परिणाम से संतुष्ट नहीं तो दे सकेंगे परीक्षा
प्राप्तांक से असंतुष्ट विद्यार्थी, जब बोर्ड द्वारा परीक्षा का आयोजन किया जाएगा, तब परीक्षा दे सकेंगे। इसके लिए वैकल्पिक परीक्षा के लिए ऑनलाइन पंजीकरण कराया जाएगा और वैकल्पिक परीक्षा के ही अंको को अन्तिम परिणाम के रूप में माना जाएगा।

यह रहेगा परीक्षा परिणाम का कलैण्डर
प्रायोगिक परीक्षाओं प्रतिवेदन अनुमोदन: 15 दिन
सतत स्व: मूल्यांकन विद्यालय विकास समिति: 2 दिन
समिति की ओर से अंक भार देना: 15 दिन
विद्यालय की ओर से अंक बोर्ड तक पहुंचाना: 5 दिन
बोर्ड की ओर से स्व मूल्यांकन व अन्य भारांक वाली कक्षाओं के अंक विद्यालयों से लेने व मॉड्यूल अपडेट करना: 15 दिन
बोर्ड की ओर से सत्रांक प्राप्त करना: 7 दिन
परीक्षा परिणाम जारी करना: प्रतिवेदन अनुमोदन के 45 दिन बाद

नवज्योति ने सबसे पहले बताया था
दैनिक नवज्योति ने मंगलवार के संस्करण में इस संबंध में खबर प्रकाशित करके सबसे पहले बताया दिया था। नवज्योति ने दसवीं के मार्क्स में आठवीं-नवीं और बारहवीं में दसवीं-ग्यारहवीं को वैटेज शीर्षक से खबर प्रकाशित की।

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने की 'निपुण भारत' मिशन की शुरुआत, प्री-स्कूल से कक्षा तीसरी तक के बच्चों पर फोकस

केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रत्येक बच्चे को कक्षा तीन तक मूलभूत साक्षरता एवं संख्या ज्ञान उपलब्ध कराने के विजन को पूरा करने की ओर एक कदम आगे बढ़ाते हुए वर्चुअल माध्यम से निपुण भारत राष्ट्रीय मूलभूत साक्षरता एवं संख्या ज्ञान मिशन का शुभारंभ किया।

05/07/2021

स्कूली बच्चों के पाठ्यक्रम पर फिर से चलेगी कैंची, मंथन में जुटी सरकार और शिक्षा विभाग

स्कूलों में दिसंबर महीने तक लगभग कोर्स पूरा कर अर्द्धवार्षिक परीक्षाएं भी आयोजित करवाई जा चुकी होती हैं, लेकिन इस साल कोरोना संक्रमण के चलते 31 दिसंबर तक प्रदेश में सभी स्कूलें बंद है। ऐसे में इस शैक्षणिक सत्र में बच्चों को पढ़ाने और परीक्षाओं में पास करने के साथ ही उनके भविष्य का सवाल खड़े हो रहा है, लेकिन शिक्षा विभाग की ओर से इसके लिए तैयारियां की जा रही है।

02/12/2020

भारत के 155 शहरों और दुनिया के 6 देशों में आयोजित हो रही जेईई-एडवांस परीक्षा

देश की सबसे प्रतिष्ठित इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा जेईई एडवांस्ड आज पूर्णतः ऑनलाईन देश के 155 शहरों एवं छह अन्य देशों इथोपिया, नेपाल, सिंगापुर, बांग्लादेश, दुबई व श्रीलंका में आयोजित हो रही हैं।

27/05/2019

आरयू सेमेस्टर परीक्षाओं की तारीखों में फिर हुआ बदलाव, तीन दिन के पेपर स्थगित

राजस्थान विश्वविद्यालय की सेमेस्टर परीक्षाओं की तिथियों में एक बार फिर बदलाव किया गया है। इस बार छात्रसंघ कार्यालय उद्घाटन और यूथ फेस्ट के लिए 3 दिन की परीक्षाएं स्थगित की गई है। इसके साथ ही आरयू ने नई परीक्षा तिथियों की घोषणा भी कर दी है।

03/01/2020

प्रदेश में गृह और चिकित्सा विभाग के फीडबैक के आधार पर खोले जाएंगे स्कूल, CM के स्तर पर होगा अंतिम फैसला

प्रदेश में स्कूलों को पुन: खोलने को लेकर अब जल्द ही निर्णय लिया जाएगा। इसको लेकर राज्य सरकार गृह विभाग और चिकित्सा विभाग से फीडबैक लिया जाएगा। जिसके बाद ही अंतिम निर्णय मुख्यमंत्री स्तर पर किया जाएगा।

23/12/2020

परीक्षाएं रद्द होने से आगामी शैक्षणिक सत्र होगा प्रभावित, विद्यार्थियों की शिक्षा पर असर

प्रदेश के साथ ही देशभर में कोरोना वायरस का खौफ दिन-प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है और कई इलाकों में कोरोना के मामलों की पुष्टि होने के बाद केन्द्र और राज्य सरकार ने अलर्ट जारी कर रखा है।

24/03/2020

RPSC भर्ती विज्ञापन से लेकर परिणाम तक प्रक्रियाओं को पूरा करें: राज्यपाल

राज्यपाल कलराज मिश्र ने कहा है कि राजस्थान लोक सेवा आयोग भर्ती की प्रक्रियाओं को समय पर पूरा करें। राज्यपाल ने यह आदेश उनसे मिलने राजभवन आए आयोग के सदस्यों को दिए।

15/10/2019