Dainik Navajyoti Logo
Monday 1st of June 2020
 
शिक्षा जगत

CBSE की 10वीं और 12वीं क्लास की शेष एग्जाम की डेट शीट जारी, देखें पूरा टाइम टेबल

Monday, May 18, 2020 14:00 PM
केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड।

नई दिल्ली। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने 10वीं और 12वी क्लास के बचे हुए पेपरों की परीक्षा के लिए सोमवार को डेट शीट जारी कर दी। सीबीएसई के अनुसार यह परीक्षाएं 1 जुलाई से 15 जुलाई को होगी। परीक्षाएं सुबह 10:30 बजे से 1:30 बजे तक होगी। परीक्षा के दौरान हर छात्र को मास्क पहनकर आना होगा और साथ में सेनेटाइजर भी लाना होगा। इसके अलावा परीक्षा के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन करना होगा तथा अभिभावकों को यह सुनिश्चित करना होगा कि उनके बच्चे बीमार न हो। केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने ट्वीट करते हुए कहा कि आप सभी से सीबीएसई की 10वीं और 12वीं की बची हुई परीक्षाओं की डेट शीट साझा कर रहा हूं। मैं आप सभी को आगामी परीक्षाओं के लिए हार्दिक शुभकामनाएं देता हूं।'

सीबीएसई के अनुसार उत्तर पूर्व दिल्ली इलाके में 10वीं कक्षा के लिए 1 जुलाई को सोशल साइंस की परीक्षा होगी, जबकि 2 जुलाई को विज्ञान की थ्योरी और विज्ञान (बिना प्रैक्टिकल) के पेपर की परीक्षा होगी जबकि 10 जुलाई को हिंदी कोर्स ए और कोर्स बी की परीक्षा होगी। 15 जुलाई को अंग्रेजी कम्युनिकेशन और अंग्रेजी भाषा और लिटरेचर के पेपर होंगे। परीक्षा के दौरान 10 बजे से उत्तरपुस्तिकाएं वितरित होगी और सवा दस बजे प्रश्न पत्र दिए जाएंगे तथा साढ़े दस बजे से परीक्षा शुरू हो जाएगी। गौरतलब है कि पिछले दिनों पूर्वी दिल्ली में दंगे होने के कारण यह पेपर नहीं हो पाए थे और उसके बाद कोरोना वायरस के कारण लॉकडाउन होने से यह परीक्षाएं आयोजित नहीं की जा सकी थी, लेकिन गत दिनों मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने 1 जुलाई से बचे पेपरों की परीक्षा कराने का फैसला किया था।

उधर लॉकडाउन के चलते टाली गई सीबीएसई की 12वीं क्लास के शेष पेपरों की डेट शीट के अनुसार 1 जुलाई को होम साइंस, 2 जुलाई को हिंदी (इलेक्टिव) और हिंदी (कोर) तथा 3 जुलाई को केवल दिल्ली के पूर्वी इलाके में फिजिक्स, अकाउंटेंसी और केमिस्ट्री के पेपर होंगे जबकि 7 जुलाई को देशभर में इनफॉर्मेटिक्स (प्रेक्टिकल), कंप्यूटर साइंस (पुराना), कंप्यूटर साइंस (नया) और इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी के पेपर होंगे। 8 जुलाई को केवल दिल्ली के पूर्व इलाके में इंग्लिश इलेक्टिव (एन) इंग्लिश इलेक्टिव (सी) और इंग्लिश-कोर के पेपर होंगे जबकि 9 जुलाई को बिजनेस स्टडीज, 10 जुलाई को बायोटेक्नोलॉजी, 11 को भूगोल और 13 को समाजशास्त्र के पेपर होंगे, जबकि 14 को केवल पूर्वी दिल्ली में राजनीति विज्ञान के पेपर होंगे तथा 15 जुलाई को दिल्ली के पूर्वी इलाके में गणित, अर्थशास्त्र और इतिहास तथा जीवविज्ञान के पेपर होंगे।

यह भी पढ़ें:

राजस्थान के स्कूलों में 26 जनवरी से प्रार्थना सभा में संविधान प्रस्तावना का होगा वाचन

शिक्षा राज्यमंत्री गोविंद डोटासरा ने शुक्रवार को कहा है कि 26 जनवरी से राज्य के विद्यालयों में प्रार्थना सभा में भारतीय संविधान की प्रस्तावना का भी वाचन करवाया जाएगा।

24/01/2020

418 शहरों में होगी एलन टैलेंटेक्स परीक्षा, प्रतिभावान विद्यार्थियों को मिलेंगे 1.25 करोड़ रुपए के पुरस्कार

देश के प्रतिभावान विद्यार्थियों को प्रोत्साहन देने के लिए एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट द्वारा आयोजित की जाने वाली परीक्षा टैलेंटेक्स 2020 के आयोजन की घोषणा की है, जिसके पोस्टर व ब्रोशर का विमोचन पार्श्व गायिका पलक मुच्छल, संगीत निर्देशक पलाश मुच्छल, एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट के निदेशक गोविन्द माहेश्वरी, राजेश माहेश्वरी, नवीन माहेश्वरी एवं बृजेश माहेश्वरी ने टैलेटेक्स-2020 के किया।

20/05/2019

83 से 87 पर्सेन्टाइल के बीच रह सकती है सामान्य श्रेणी की कटऑफ

जनवरी और अप्रैल माह में हुई देश की सबसे बड़ी इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा जेईई मेन, जिसके लिए 9 लाख 58 हजार विद्यार्थियों ने आवेदन किया था।

26/04/2019

आज हम ऊपर आसमां नीचे...

टैगोर पब्लिक स्कूल शास्त्रीनगर में सीबीएसई बोर्ड का दसवीं का परीक्षा परिणाम शत-प्रतिशत रहा। विद्यार्थियों ने विद्यालय आकर क्वालिटी एजुकेशन के चलते प्राप्त अच्छे मार्क्स प्राप्त किए

09/05/2019

RPSC भर्ती विज्ञापन से लेकर परिणाम तक प्रक्रियाओं को पूरा करें: राज्यपाल

राज्यपाल कलराज मिश्र ने कहा है कि राजस्थान लोक सेवा आयोग भर्ती की प्रक्रियाओं को समय पर पूरा करें। राज्यपाल ने यह आदेश उनसे मिलने राजभवन आए आयोग के सदस्यों को दिए।

15/10/2019

50 हजार से 2 लाख तक की फीस वहन करेगी सरकार, महिला शोधार्थियों को टिस्क से मिलेंगी सुविधाएं

राज्य सरकार प्रदेश की महिला शोधार्थियों को टेक्नोलॉजी एण्ड इनोवेशन सपोर्ट सेन्टर (टिस्क) से जोड़ेंगी, ताकि उनको अपने उत्पाद के पेटेंट करने के दौरान ड्राफ्टिंग, ट्रैड मार्क एवं डिजाइन की नि:शुल्क सुविधा मिल सकें। इससे शोधार्थी की व्यय होने वाली 50 हजार से 2 लाख रुपए तक की फीस सरकार ही वहन करेगी।

30/11/2019

छात्रों ने जानी इसरो और आकाश की कार्यशैली

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) शैक्षणिक सत्र 2019-20 को भारतीय अंतरिक्ष कार्यक्रम के जनक डॉ. विक्रम साराभाई के जन्म शताब्दी वर्ष के रूप में मना रही है।

22/11/2019