Dainik Navajyoti Logo
Wednesday 1st of April 2020
 
शिक्षा जगत

संस्कृत यूनिवर्सिटी में 30 मार्च तक नहीं लगेगी कक्षाएं, 23 मार्च से यथावत होगी परीक्षाएं

Wednesday, March 18, 2020 11:30 AM
संस्कृत यूनिवर्सिटी।

जयपुर। कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए ऐहतियातन जगद्गुरु रामानंदाचार्य राजस्थान संस्कृत यूनिवर्सिटी मदाऊ, जयपुर ने 30 मार्च तक सभी कक्षाओं में अध्यापन कार्य स्थगित कर दिया है। कुलपति डॉ. अनुला मौर्य के निर्देश से विश्वविद्यालय ने निर्णय लिया हैं, जिनकी कठोरता से पालना की जाएगी। कुलसचिव सुरेश कुमार बुनकर ने कहा कि विश्वविद्यालय के संबंद्ध महाविद्यालयों, संकायों, विभागों व अनुसंधान केंद्र में 30 मार्च तक शिक्षण कार्य बन्द रहेगा। विश्वविद्यालय की परीक्षाएं पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार 23 मार्च से यथावत रहेंगी। शैक्षणिक एवं अशैक्षणिक स्टाफ यथावत ड्यूटी पर उपस्थित रहकर कार्य करेंगे। कार्मिकों द्वारा बायोमैट्रिक के स्थान पर उपस्थिति-पंजिका में उपस्थिति दर्ज की जाएगी।

एकत्रित नहीं होंगे छात्र-छात्राएं
विश्वविद्यालय एवं महाविद्यालयों में कार्यालय संचालित रहेंगे। सभी प्रकार की सेमिनार, वर्कशॉप, विशेष व्याख्यान स्थगित रहेंगे। विश्वविद्यालय एवं महाविद्यालयों में किसी उत्सव में छात्र-छात्राएं एकत्रित नहीं होंगे। गेस्ट फेकल्टीज को 30 मार्च तक संबंधित महाविद्यालय, संकाय, विभाग व केन्द्र में अध्यापन कराने नहीं आना है।

लाइब्रेरी बंद रहेगी
केन्द्रीय पुस्तकालय में केवल किताबें जारी एवं जमा की जाएगी। बैठकर पढ़ने के लिए लाइब्रेरी बन्द रहेगी, जो छात्र-छात्राएं एवं अन्य विदेश की यात्रा करके आए हैं, वे इस अवधि में अपने घर पर ही रहेंगे। शैक्षणिक एवं अशैणिक स्टाफ को हिदायत दी गई है कि आपस में एक मीटर की दूरी रखते हुए कार्य करें। खांसी व बुखार आदि के लक्षण होने पर कार्यालय में मास्क लगाकर आने के सुझाव दिए हैं।

यह भी पढ़ें:

छात्रों ने किया 'सेबी' का औद्योगिक विजिट

यूईएम जयपुर के स्कूल ऑफ मैनेजमेंट के छात्रों ने भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड का औद्योगिक विजिट किया।

08/08/2019

'ऑगमेंटेड रियलिटी और वर्चुअल रियलिटी पूरी दुनिया पर हावी हो रहे हैं'

यूनिवर्सिटी की प्रेस कांफ्रेंस का मुख्य उद्देश्य ऑगमेंटेड रियलिटी व वर्चुअल रियलिटी पर आधारित है।

06/11/2019

50 हजार से 2 लाख तक की फीस वहन करेगी सरकार, महिला शोधार्थियों को टिस्क से मिलेंगी सुविधाएं

राज्य सरकार प्रदेश की महिला शोधार्थियों को टेक्नोलॉजी एण्ड इनोवेशन सपोर्ट सेन्टर (टिस्क) से जोड़ेंगी, ताकि उनको अपने उत्पाद के पेटेंट करने के दौरान ड्राफ्टिंग, ट्रैड मार्क एवं डिजाइन की नि:शुल्क सुविधा मिल सकें। इससे शोधार्थी की व्यय होने वाली 50 हजार से 2 लाख रुपए तक की फीस सरकार ही वहन करेगी।

30/11/2019

पांचवीं बोर्ड की उत्तर कुंजी में खामी, छात्रों पर पड़ेगा असर

प्रदेश की पांचवीं बोर्ड की परीक्षा शुरू होने से ही विवादों के घेरे में रही। कभी रोल नम्बरों तो कभी विषयों को लेकर।

11/04/2019

टेक्नोलॉजी और उद्यमिता को बढ़ावा देने की पहल

संस्कृति कॉलेज के जीडी बड़ाया आॅडिटोरियम में टेक्नोलॉजी एक्सपर्ट, एजुकेशनिस्ट और मोटिवेशनल स्पीकर विमल डागा की अध्यक्षता में युवा महोत्सव का आयोजन होगा, जिसमें बड़ी संख्या में युवा हिस्सा लेंगे।

23/01/2020

शिक्षा के क्षेत्र में राजस्थान को सिरमौर बनाना हमारा प्रयास: गहलोत

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने देश के आर्थिक हालात पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि आज ऑटोमोबाइल, टैक्सटाइल सहित अधिकतर सेक्टर मंदी के दौर से गुजर रहे हैं। युवाओं को नौकरियां मिलना तो दूर की बात है, नौकरियां जा रही हैं। काम-धंधे ठप पड़े हैं।

23/09/2019

यूजीसी नेट के आवेदन अब 15 अक्टूबर तक, एनटीए ने अभ्यर्थियों के अनुरोध पर बढ़ाई डेट

राष्ट्रीय परीक्षा एजेन्सी ने दिसम्बर में होने वाली ऑनलाइन राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा के ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तिथि को बढ़ाकर 15 अक्टूबर कर दिया है। पूर्व में यह तिथि 9 अक्टूबर को समाप्त हो गई थी।

10/10/2019