Dainik Navajyoti Logo
Sunday 27th of September 2020
 
शिक्षा जगत

MNIT का 14वां दीक्षांत समारोह, राज्यपाल ने संविधान की उद्देशिका और मूल कर्तव्यों का कराया वाचन

Monday, January 20, 2020 11:20 AM
छात्रा को डिग्री प्रदान करते हुए राज्यपाल कलराज मिश्र।

जयपुर। राज्यपाल कलराज मिश्र ने कहा है कि शिक्षा का उद्देश्य राष्ट्र की प्रगति, संस्कृति, समावेशी नागरिकता और राष्ट्रीय एकता को बढ़ावा देना है। मिश्र रविवार को मालवीय राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान के 14वें दीक्षांत समारोह को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि शिक्षा का उद्देश्य ज्ञान प्राप्त करना ही नहीं है, बल्कि यह हमें समाज के अनुसार रहना भी सिखाता है। शिक्षा छात्र के मन में साझा सांस्कृतिक विरासत, समतावाद, गणतंत्र, धर्मनिरपेक्षता, लैंगिक समरसता, पर्यावरण संरक्षण एवं वैज्ञानिक दृष्टिकोण जैसे मूल्यों का विकास करती है। उन्होंने छात्र-छात्राओं का आह्रान किया कि वे नया इंडिया बनाने में अग्रणी भूमिका निभाए।

उन्होंने दीक्षांत समारोह में उपस्थित छात्र-छात्राओं और प्राध्यापकों को संविधान की उद्देशिका और मूल कर्तव्यों का वाचन करवाया। उन्होंने कहा कि भारत सदियों तक ज्ञानार्जन, सांस्कृतिक, वैज्ञानिक विकास तथा व्यापार में अग्रणी रहा है। राष्ट्र के विकास में गति लाने के लिए जो कार्यक्रम प्रारंभ किए गए हैं, जैसे कि डिजिटल इंडिया, मेक इन इंडिया एवं स्किलिंग इंडिया, इन सभी की सफलता इस पर निर्भर है कि आप तकनीकी क्षेत्र में कितना शोध करते हैं। राष्ट्र के नव निर्माण के लिए इस प्रतिष्ठित संस्थान के छात्रों के कंधों पर शोध की महती जिम्मेदारी है। रेल राज्य मंत्री सुरेश सी अंगड़ी ने कहा कि यह संस्थान देश के प्रमुख संस्थानों में एक हैं। देश के भावी इंजीनियर्स को भारत के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभानी चाहिए। संस्थान के निदेशक प्रो. उदयकुमार यारागत्ती ने स्वागत भाषण दिया।

मदनमोहन मालवीय की प्रतिमा पर किया माल्यार्पण
राज्यपाल ने संस्थान के परिसर में स्थित महामना मदन मोहन मालवीय की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर श्रद्धाजंलि दी। मिश्र ने इस अवसर पर उत्कृष्ट छात्र-छात्राओं को स्वर्ण पदक दिए।

यह भी पढ़ें:

ट्रेन लेट होने की वजह से NEET परीक्षा नहीं दे पाए परीक्षार्थियों को मिलेगा दोबारा मौका

ट्रेन लेट होने की वजह से कर्नाटक के जिन छात्रों का नीट एक्जाम नहीं हो पाया, उनके लिए जल्द ही एक्जाम का दोबार मौका दिया जाएगा।

06/05/2019

राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने बोर्ड परीक्षाओं के लिए बनाए 210 नए परीक्षा केन्द्र

राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने की मुख्य परीक्षाओं के लिए प्रदेश में 210 नए परीक्षा केन्द्र खोलने का निर्णय लिया है।

25/01/2020

आरयू की परीक्षाएं 19 फरवरी से, विश्वविद्यालय प्रशासन ने जारी किया टाइम टेबल

राजस्थान विश्वविद्यालय के शैक्षणिक सत्र 2019-20 की परीक्षाएं 19 फरवरी से आयोजित होगी। इसे लेकर आरयू प्रशासन ने स्नातक परीक्षाओं का टाइम टेबल जारी कर दिया है।

31/01/2020

CBSE 12 वीं के नतीजे घोषित, हंसिका और करिश्मा ने किया टॉप

CBSE 12 वीं नतीजे घोषित हो गए हैं। CBSE की वेबसाइट पर रिजल्ट देख सकते हैं।

02/05/2019

10वीं और 12वीं में 2-2 स्टूडेंट्स ने किया टॉप

काउंसिल फॉर द इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन (सीआईएससीई) ने आईसीएसई (10वीं) और आईसीएस (12वीं) के नतीजे मंगलवार को घोषित किए गए।

08/05/2019

राजस्थान में 75 हजार पदों पर होंगी भर्तियां, शिक्षा विभाग में 26 हजार

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बजट में विभिन्न विभागों में 75 हजार पदों पर भर्तियां करने की घोषणा की है।

10/07/2019

सीबीएसई: परीक्षा केन्द्र में घड़ी पहनने पर रहेगी पाबंदी

उदयपुर। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के 10वीं और 12वीं बोर्ड के परीक्षार्थी इस बार कलई पर घड़ी पहनकर परीक्षा नहीं दे पाएंगे क्योंकि बोर्ड ने इस पर पाबंदी लगा दी है।

11/02/2020