Dainik Navajyoti Logo
Monday 18th of January 2021
 
शिक्षा जगत

परीक्षा के सीजन में बच्चों को तनाव मुक्त रखिए क्योंकि सुसाइड के 1.34 लाख केस में 10 हजार से ज्यादा स्टूडेंट्स

Monday, February 17, 2020 01:20 AM
प्रतीकात्मक तस्वीर।

जोधपुर । फरवरी आधा जाने पर है और अगले माह से परीक्षाओं का सीजन शुरू हो जाएगा।  परिजनों की स्टूडेंट्स से आशा व अपेक्षाएं हैं। ऐसे में परीक्षा देने वाले बच्चों पर कई तरह से दबाव आ जाता है। पेपर को लेकर कई स्टूडेंट्स जीवन-मरण का सवाल बना लेते हैं। नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो की रिपोर्ट पर गौर करे तो पता चलता है कि 2018 में आत्महत्या के 1 लाख 34 हजार 516 मामले सामने आए जो 2017 की तुलना में 3.6 फीसदी अधिक थे। चौंकाने वाली बात ये है कि जान देने वालों में 10159 विद्यार्थी थे। जो कि कुल सुसाइड केस का 7.6 फीसदी रहा।  जबकि 12936 बेरोजगारों यानी 9.6 फीसदी ने भी अपने आप मौत को गले लगा लिया।


नवज्योति अपील
पेपर खराब हो तो कोई बात नहीं जीवन में और मौके आएंगे आगे बढ़ने के लिए, यह आखरी नहीं दैनिक नवज्योति विद्यार्थी वर्ग से अपील करता है कि पेपर खराब होने की सूरत में निराश नहीं हो। ये केवल परीक्षा है और जिंदगी यहां खत्म नहीं होती। आगे बढ़ने के और भी अवसर मिलेंगे। परीक्षा को मानसिकता पर हावी नहीं होने दे, एक पेपर से भविष्य नहीं बिगड़ता।


परिजनों से आग्रह-बच्चों पर दबाव नहीं बनाए, अकेला नही छोड़ें
नवज्योति टीम परिजनों से भी विनम्र आग्रह करती है कि अपने बच्चों पर अनावश्यक दबाव नहीं बनाए। उन्हें पास बिठाएं और परीक्षा के दौरान काउंसलिंग करते रहे। पेपर बिगड़ भी जाए तो यही कहें कि आगे अच्छा कर लेना कोई बात नहीं।


एक्सपर्ट व्यू  : डॉ.सुरेंद्र कुमार प्रजापति, मनोरोग विशेषज्ञ, एमडीएमएच
परीक्षा के दिनों में बच्चों को लगता है कि हम सब भूल रहे हैं, कुछ याद नहीं है। इसका कारण तनाव का हावी होना है। एनराइटी ऑलवेज डिक्रीज द परफारमेंस। यानी तनाव हमेशा आपकी परफारमेंस को घटाता है। इस दौरान नींद, खाने-पीने का शेड्यूल बिगड़ जाता है।  परिजनों से आग्रह है कि वे बच्चों की डाइट का ख्याल रखें और कम कैलोरी और एंटी ऑक्सीडेंट रीच फूड दें ताकि बच्चों के जेहन में पैदा होने वाले फ्री रेडीकल्स शरीर से बाहर निकले। बच्चों को 24 घंटे पढ़ाई-पढ़ाई नहीं करनी है। थोड़ा मनोरंज भी करना जरूरी है ताकि वे रिफ्रेश हो जाएं। डाइनिंग टेबल पर बच्चों को साथ में बैठकर भोजन कराएं और उनसे चर्चा करें और पेपर खराब हो जाए तो भी मोटिवेट करें। परीक्षा के दौरान बच्चों को चाय व काफी का कम सेवन करें क्योंकि इनमें कैफीन होता है जो कि आपके तनाव के लेवल को बढ़ा देता हैं।


और ये भी डराते हैं आंकड़ें...सरकारी की बजाय निजी नौकरी में दबाव ज्यादा
नौकरी : निजी क्षेत्रों में नौकरी करने वाले 5246 लोगों ने जान दी
रिपोर्ट के मुताबिक 1707 सरकारी कर्मचारियों ने सुसाइड की जो आत्महत्या करने वाले कुल लोगों में 1.3 फीसदी हैं। निजी क्षेत्रों में नौकरी करने वाले 5246 लोगों ने आत्महत्या की जो कुल संख्या का 6.1 फीसदी है।


बेरोजगार : रोज 35 बेराजगारों ने जान दी
प्रतिदिन औसतन 35 बेरोजगारों और स्वरोजगार से जुड़े 36 लोगों ने खुदकुशी की। इसके साथ ही इन दोनों श्रेणियों को मिलाकर उस साल 26,085 लोगों ने आत्महत्या की। एनसीआरबी के आंकड़ों के अनुसार उस साल 12,936 बेरोजगारों ने और स्वरोजगार से जुड़े 13,149 लोगों ने खुदकुशी की। 

यह भी पढ़ें:

RU और संघटक कॉलेजों में प्रवेश के लिए 1 सितंबर को जारी होगी पहली सूची, तैयारियों में जुटा यूनिवर्सिटी प्रशासन

सीबीएसई और आरबीएसई 12वीं का परिणाम जारी होने के बाद राजस्थान विश्वविद्यालय ने चारों संघटक कॉलेज महारानी, महाराजा, राजस्थान और कॉमर्स कॉलेज में 29 जुलाई से 24 अगस्त तक आवेदन प्रक्रिया चली। आवेदन प्रक्रिया पूरी होने के बाद अब राजस्थान यूनिवर्सिटी 1 सितम्बर को पहली सूची जारी करने की तैयारी में जुट गया है।

28/08/2020

एसआई परीक्षा के परिणाम में 142 अभ्यर्थी और शामिल

राजस्थान लोक सेवा आयोग उप निरीक्षक, प्लाटून कमाण्डर संयुक्त प्रतियोगी परीक्षा 2016 के 26 अगस्त को जारी परिणाम को विस्तारित करते हुए भूतपूर्व सैनिक श्रेणी के 142 अभ्यर्थियों को शारीरिक दक्षता परीक्षा के लिए उनकी पात्रता की शर्त पर अस्थाई रूप से सफल घोषित किया जाता है

29/08/2019

IIS विश्वविद्यालय में दीक्षांत समारोह

आईआईएस विश्वविद्यालय का दीक्षांत समारोह विश्वविद्यालय के कैंपस में आयोजित किया गया।

20/12/2019

स्टूडेंट्स के भीतर छुपे टैलेंट को पहचानेगा स्कूल चैंप्स

बच्चों के भीतर वैज्ञानिक छुपा है या डॉक्टर या फिर इंजीनियर, स्कूल चैंप्स ओलंपियाड से आप आसानी से यह जान सकेंगे।

10/12/2019

शिक्षा के क्षेत्र में राजस्थान को सिरमौर बनाना हमारा प्रयास: गहलोत

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने देश के आर्थिक हालात पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि आज ऑटोमोबाइल, टैक्सटाइल सहित अधिकतर सेक्टर मंदी के दौर से गुजर रहे हैं। युवाओं को नौकरियां मिलना तो दूर की बात है, नौकरियां जा रही हैं। काम-धंधे ठप पड़े हैं।

23/09/2019

राजस्थान यूनिवर्सिटी ने यूजी कोर्सेज की सीटों में की 10 फीसदी की बढ़ोतरी

राजस्थान विश्वविद्यालय के स्नातक कोर्ट साइज में प्रवेश की प्रक्रिया के तहत मेरिट सूचियां जारी की जा रही है। विद्यार्थियों को प्रवेश ऑनलाइन मेल सूची के माध्यम से दिया जा रहा है।

30/09/2020

दिल्ली में CBSE की 10वीं-12वीं कक्षाओं के स्कूल 18 जनवरी से खुलेंगे, बच्चों को आने के लिए नहीं किया जाएगा बाध्य

दिल्ली सरकार ने केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) परीक्षाओं और अन्य प्रैक्टिकल के मद्देनजर 10वीं और 12वीं क्लास के लिए 18 जनवरी से प्रैक्टिकल, प्रोजेक्ट, काउंसिलिंग आदि के लिए स्कूल खोलने की अनुमति देने का बुधवार को ऐलान किया। शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने बुधवार को ट्वीट करके इसकी जानकारी दी।

14/01/2021