Dainik Navajyoti Logo
Sunday 17th of October 2021
 
शिक्षा जगत

सीबीएसई 12वीं बोर्ड के परिणाम के लिए फार्मूला तय!, सुप्रीम कोर्ट को अपनी रिपोर्ट सौंपेगी कमेटी

Thursday, June 17, 2021 10:55 AM
केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड मुख्यालय।

नई दिल्ली। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) के लिए बिना परीक्षा लिए 12वीं का परिणाम जारी करना बड़ी चुनौती है। बोर्ड ने इसके लिए एक कमेटी भी बनाई है, जो गुरुवार को मूल्यांकन के लिए अपनी रिपोर्ट सुप्रीम कोर्ट को सौंपेगी। मीडिया में चल रही खबरों के अनुसार, 12वीं का परिणाम जारी करने से पहले 15 प्रतिशत अंकों के लिए एक और आंतरिक मूल्यांकन हो सकता है ताकि जो छात्र किसी कारणवश 12वीं की प्री-बोर्ड या मध्यावधि परीक्षाओं में बेहतर नहीं कर पाए हैं, लेकिन बोर्ड परीक्षाओं की बेहतर तैयारी कर रहे थे, उनको इसका लाभ मिल सके। हालांकि, अभी यह स्पष्ट नहीं है कि इस मूल्यांकन का आधार क्या होगा?

बोर्ड को भेजे जाएंगे प्रायोगिक परीक्षा के अंक
कोरोना महामारी के चलते कई स्कूलों ने प्रायोगिक परीक्षाएं नहीं कराई थीं। ऐसे में उन्हें ऑनलाइन ही प्रायोगिक परीक्षा कराकर अंक 28 जून तक अपलोड करने को कहा गया है। इन अंकों को बोर्ड को भेजा जाएगा। सूत्रों के मुताबिक 12वीं के परिणाम में प्रायोगिक परीक्षा के अंक बहुत महत्वपूर्ण होंगे।

सभी राज्यों का देखा जाएगा औसत
कमेटी की कोशिश है कि सीबीएसई का परिणाम सभी मापदंडों पर खरा हो और छात्र भी इससे संतुष्ट हों। साथ ही, राज्यों के परिणाम में ज्यादा अंतर नहीं रहे। इसके लिए परिणाम जारी करने से पहले सभी राज्यों का औसत देखा जाएगा।

30-20-50 के फार्मूले के आधार पर मूल्यांकन
12वीं के परिणाम जारी करने के लिए सीबीएसई 30-20-50 के फार्मूले के आधार पर मूल्यांकन कर सकता है। इसमें 10वीं के 30% अंक, 11वीं के 20% अंक और 12वीं के 50% अंकों को शामिल किया जा सकता है। सूत्रों के मुताबिक कमेटी 11वीं के 20% अंक को ही जोड़ने के पक्ष में है, क्योंकि 11वीं में छात्रों के सामने कई समस्याएं होती हैं। संकाय अलग-अलग होने के कारण काफी समय विषय को समझने में ही निकल जाता है। यह भी देखने में आया है कि 12वीं पर फोकस होने के कारण कई छात्र 11वीं में ज्यादा गंभीरता से परीक्षा नहीं देते।

12वीं के 50% अंकों को शामिल करने के पक्ष में मजबूत तर्क
मूल्यांकन में 12वीं के 50% अंकों को शामिल करने के पक्ष में मजबूत तर्क है। चूंकि 12वीं की साल भर की पढ़ाई के आधार पर ही बोर्ड की परीक्षा होती है, इसलिए इसके अंक सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण हैं। इन 50% अंकों में 35% अंक प्री-बोर्ड, मध्यावधि परीक्षा, आंतरिक मूल्यांकन और प्रायोगिक परीक्षा के हो सकते हैं।

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

CBSE बोर्ड के रिजल्ट फॉर्मूला को 'सुप्रीम' मंजूरी, 12वीं की परीक्षा रद्द करने के खिलाफ दायर याचिकाएं खारिज

सुप्रीम कोर्ट ने सीबीएसई और आईसीएसई बोर्ड द्वारा 12वीं की परीक्षा रद्द किए जाने के खिलाफ दायर याचिकाओं को खारिज कर दिया है। कोर्ट ने बोर्ड की छात्रों के मूल्यांकन संबंधी स्कीम को मंजूर कर लिया। कोर्ट ने कहा कि जो छात्र मूल्यांकन से सहमत नहीं, वो आगे चलकर होने वाले लिखित परीक्षा में पेश हो सकते हैं। स्कीम में इसका पहले से प्रावधान है।

23/06/2021

सरकार का बड़ा फैसला: उच्च शिक्षा के प्रमोट छात्रों को अब मिलेगी छात्रवृत्ति, लाखों विद्यार्थियों को मिलेगा लाभ

प्रदेश सरकार ने उच्च शिक्षा की पढ़ाई कर रहे छात्रों को बड़ी राहत देते हुए प्रमोट छात्रों को छात्रवृत्ति देने का निर्णय लिया है। इससे पहले सरकार ने कोरोना काल में बिना अंक दिए अगली कक्षा में प्रमोट किए स्नातक प्रथम वर्ष, द्वितीय वर्ष और स्नातकोत्तर प्रीवियस सहित अन्य छात्रों को यह छात्रवृत्ति नहीं देने का निर्णय लिया था।

25/03/2021

पांचवीं बोर्ड की उत्तर कुंजी में खामी, छात्रों पर पड़ेगा असर

प्रदेश की पांचवीं बोर्ड की परीक्षा शुरू होने से ही विवादों के घेरे में रही। कभी रोल नम्बरों तो कभी विषयों को लेकर।

11/04/2019

जेईई मेन 2021 परीक्षा का परिणाम जारी

44 उम्मीदवारों को 100 फीसदी अंक मिले

15/09/2021

पिछले साल के मुकाबले आसान रहा पेपर

आईआईटी, रुड़की की ओर से सोमवार को ज्वाइंट एंट्रेंस एग्जामिनेशन (जेईई) एडवांस-2019 की परीक्षा देशभर में एक साथ आयोजित हुई।

28/05/2019

कोरोना का असर: यूपीएससी ने सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा तिथि आगे बढ़ाई, अब 10 अक्टूबर को होगी

संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) ने कोविड-19 संक्रमण के चलते सिविल सेवा (प्रारंभिक) परीक्षा-2021 की तिथि आगे बढ़ा दी है। पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार यह परीक्षा आगामी 27 जून होने वाली थी। जिसकी तारीख अब आगे बढ़ाकर 10 अक्टूबर कर दी गई है।

14/05/2021

1 लाख 45 हजार 973 बालिकाओं को मिलेगा गार्गी एवं बालिका प्रोत्साहन पुरस्कार

गोविन्द सिंह डोटासरा ने गार्गी एवं बालिका प्रोत्साहन पुरस्कार प्राप्त करने वाली बालिकाओं को बधाई देते हुए उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की है।

06/02/2020