Dainik Navajyoti Logo
Monday 13th of July 2020
 
शिक्षा जगत

BSDU ने विविध विषयों में बैचलर ऑफ वोकेशनल प्रोग्राम के लिए आवेदन आमंत्रित किए

Tuesday, November 26, 2019 17:50 PM
भारतीय स्किल डेवलपमेंट यूनिवर्सिटी, जयपुर

जयपुर। भारतीय स्किल डेवलपमेंट यूनिवर्सिटी, जयपुर (बीएसडीयू) ने विविध विषयों में 3 साल के बैचलर ऑफ वोकेशन (बी.वोक.) पाठ्यक्रम के लिए आवेदन आमंत्रित किए हैं। बी.वोक. पाठ्यक्रम का 60 प्रतिशत हिस्सा कौशल आधारित और 40 प्रतिशत भाग सामान्य शिक्षा से संबंधित हैं।

बीएसडीयू में अर्जित कौशल के पूरक के लिए, छात्रों को हर वैकल्पिक सेमेस्टर में औद्योगिक इंटर्नशिप के लिए भेजा जाता है। यूजीसी ने अपने पत्र क्रमांक एफ.8-14/2017 (सीपीपी-आई/पीयू) दिनांक 4 अगस्त 2017 के अनुसार विश्वविद्यालयों की अपनी सूची में बीएसडीयू को शामिल किया है। यूजीसी ने स्नातकों को इंडस्ट्री के लिए तैयार करने के लिहाज से नेशनल स्किल क्वालिफिकेशन फ्रेमवर्क (एनएसक्यूएफ) पर आधारित बी.वोक. और एम.वोक. पाठ्यक्रमों को कौशल सेट की महत्वपूर्ण आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए मंजूरी दे दी है। ये कार्यक्रम अब किसी भी अन्य स्नातक डिग्री पाठ्यक्रम के बराबर हैं। इन कार्यक्रमों के तहत छात्र किसी भी संगठन के आईटी विभागों में काम करने के लिए आवश्यक कौशल हासिल करेंगे।

बीएसडीयू के कुलपति ब्रिगेडियर एस एस पाब्ला ने कहा, “बी.वोक. प्रोग्राम को इस तरह डिजाइन किया गया है, ताकि विद्यार्थी विविध विषयों में न सिर्फ ज्ञान हासिल कर सकें, बल्कि वे आवश्यक तकनीकी कौशल भी हासिल करने में सफल हो सकें। यही इस पाठ्यक्रम का मिशन भी है। बी.वोक. कार्यक्रम का हमारा मुख्य उद्देश्य अपने से संबंधित फील्ड में प्रशिक्षित पेशेवर तैयार करना है, ताकि वे इंडस्ट्री में काम कर सकें या फिर अपना उद्यम शुरू कर सकें। मजबूत क्षमता के साथ कौशल हासिल करने वाले छात्रों को आसानी से उद्योगों में नियोजित किया जाता है। बी.वोक. कार्यक्रम छात्रों को एक व्यापक, बहुमुखी कौशल प्रदान करने के लिए डिजाइन किया गया है, ताकि उन्हें जल्द ही इंडस्ट्री में अवसर मिल सकें।”

पात्रता: बी.वोक. पाठ्यक्रम के लिए आवेदन करने वाले छात्र को उत्तीर्ण होना चाहिएः-

1. 10+2 की हायर सैकण्डरी सर्टिफिकेट परीक्षा (पीसीएम के साथ)
2. 10 वीं के बाद 2 साल की आईटीआई
3. पॉलिटेक्निक डिप्लोमा धारकों को बी.वोक. के दूसरे वर्ष में लेटरल एंट्री के लिए योग्य माना जाएगा

पाठ्यक्रम संबंधी विनिर्देश: बी.वोक. कार्यक्रम में डिप्लोमा, एडवांस्ड डिप्लोमा और बी.वोक. के दौरान अनेक एंट्री और एक्जिट प्वाइंट हैं। इसमें 6 सेमेस्टर हैं, जिनमें से प्रत्येक के 30 क्रेडिट निर्धारित हैं। शहीदों के बच्चों को 100 प्रतिशत स्काॅलरशिप मिलेगी।

कंपनियों में नौकरी के बेहतरीन अवसरों के अलावा, बी.वोक. डिग्री धारक आईएएस, आईपीएस, डिफेंस ऑफिसर्स और अन्य केंद्रीय और राज्य सेवाओं के लिए भी पात्र होंगे।

यह भी पढ़ें:

तिलक पब्लिक स्कूल में शिक्षण की उच्च पायदान

तिलक पब्लिक स्कूल त्रिवेणी नगर का सीबीएसई बोर्ड की दसवीं का परीक्षा परिणाम शत-प्रतिशत रहा। प्राचार्या रक्षा शेखावत ने बताया कि छात्र रूपांशु गुप्ता

09/05/2019

एसआई परीक्षा के परिणाम में 142 अभ्यर्थी और शामिल

राजस्थान लोक सेवा आयोग उप निरीक्षक, प्लाटून कमाण्डर संयुक्त प्रतियोगी परीक्षा 2016 के 26 अगस्त को जारी परिणाम को विस्तारित करते हुए भूतपूर्व सैनिक श्रेणी के 142 अभ्यर्थियों को शारीरिक दक्षता परीक्षा के लिए उनकी पात्रता की शर्त पर अस्थाई रूप से सफल घोषित किया जाता है

29/08/2019

सीएस फाउंडेशन का परिणाम घोषित, जयपुर के 8 छात्रों को मिली टॉप-25 में रैंक

भारतीय कंपनी सचिव संस्थान, नई दिल्ली की ओर से शनिवार सीएस फाउंडेशन कोर्स का परिणाम घोषित किया गया। इसमें जयपुर के 8 विद्यार्थियों को ऑल इंडिया टॉप 25 रैंकिंग में जगह मिली है।

26/01/2020

माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की प्रायोगिक परीक्षाएं शुरू, दूसरे बैच में होगी अनुपस्थित परीक्षार्थियों की परीक्षा

राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की सीनियर सेकेंडरी के नियमित परीक्षार्थियों की प्रायोगिक परीक्षाएं आज से शुरू हो गई है। प्रायोगिक परीक्षाएं 14 फरवरी तक चलेंगी। स्वयंपाठी परीक्षार्थियों की प्रायोगिक परीक्षाएं 11 से 14 फरवरी के मध्य होंगी।

15/01/2020

चिराग, आदित्य, काव्या और सोनम ने जीते खिताब

मानसरोवर के शिप्रापथ स्थित ज्ञान आश्रम स्कूल में सम्पन्न प्रथम रोलर स्केटिंग अंतर स्कूल चैंपियनशिप में चिराग, आदित्य, काव्या और सोनम ने अपने-अपने वर्ग में खिताब जीते।

12/08/2019

प्रदेश के 100 स्कूलों में स्थापित होंगे स्मार्ट क्लास रूम, 1.85 करोड़ की आएगी लागत

प्रदेश के 100 स्कूलों में राज्य सरकार की ओर से स्मार्ट क्लास रूम स्थापित किए जाएंगे। इसके लिए शिक्षा विभाग ने राजकीय विद्यालयों का चयन कर लिया है, जिनमें 1.85 करोड़ की लागत से स्मार्ट क्लास रूम बनाए जांएगे। स्मार्ट क्लास रूम लगाने के साथ ही कक्षा 1 से 12वीं तक पाठ्यक्रम का ई-कन्टेन्ट भी उपलब्ध करवाया जाएगा।

19/06/2020

सूचना सहायक भर्ती-2018: चयनित बेरोजगारों ने नियुक्ति की मांग को लेकर किया प्रदर्शन

सूचना सहायक भर्ती-2018 से जुड़े मामले में RSSB बोर्ड मुख्यालय के बाहर सैकड़ों चयनित बेरोजगारों ने मंगलवार को प्रदर्शन किया।

28/05/2019