Dainik Navajyoti Logo
Saturday 5th of December 2020
 
बिज़नेस

विनिर्मित उत्पादों की कीमतें बढ़ने से 8 महीने के उच्चतम स्तर पर थोक महंगाई दर, अक्टूबर में रही 1.48 फीसदी

Monday, November 16, 2020 16:40 PM
सांकेतिक तस्वीर।

नई दिल्ली। मौजूदा वर्ष के अक्टूबर में विनिर्मित उत्पादों की कीमतें बढ़ने के कारण थोक मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति की दर 1.48 प्रतिशत दर्ज की गई है। केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय ने सोमवार को जारी आंकड़ों में बताया कि सितंबर 2020 में थोक मूल्य मुद्रास्फीति 1.32 प्रतिशत पर और पिछले साल अक्टूबर में यह शून्य पर थी। आंकड़ों के अनुसार फरवरी 2020 के बाद यह थोक मुद्रास्फीति का सबसे ऊंचा स्तर है। फरवरी में यह 2.26 प्रतिशत पर थी।

अक्टूबर 2020 में खाद्य वस्तुओं के दाम घटे, जबकि इस दौरान विनिर्मित उत्पाद महंगे हुए। अक्टूबर में खाद्य मुद्रास्फीति घटकर 6.37 प्रतिशत रह गई। सितंबर में यह 8.17 प्रतिशत के स्तर पर थी। आलोच्य माह में सब्जियों के दाम में 25.23 प्रतिशत और आलू में 107.70 प्रतिशत वृद्धि हुई। गैर-खाद्य वस्तुओं के दाम 2.85 प्रतिशत और खनिजों के दाम 9.11 प्रतिशत बढ़ गए। अक्टूबर में विनिर्मित उत्पाद 2.12 प्रतिशत महंगे हुए। इसी माह ईंधन और बिजली के दाम 10.95 प्रतिशत घट गए।

यह भी पढ़ें:

मांग को बढ़ावा देने के लिए आयकर में मिल सकती है छूट

भारत दुनिया का दूसरा सबसे बड़ी आबादी वाला देश है। देश में 125 करोड़ से ज्यादा लोगों की जनसंख्या है, इसके बावजूद पर्याप्त डिमांड न होने के कारण देश की आर्थिक विकास की रफ्तार धीमी हो रही है।

12/01/2020

59 मिनट में मिलेगी पर्सनल और होम लोन की सैद्धांतिक मंजूरी

देश में सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम को सरलता से ऋण उपलब्ध कराने के लिए शुरू किए गए प्लेटफॉर्म PSBLOANSIN59MINUTES.COM ने अब होम और पर्सनल लोन ग्राहकों के लिए सैद्धांतिक रूप से 59 मिनट में रिटेल ऋण की सैद्धांतिक मंजूरी देने की प्रक्रिया लॉन्च की है।

05/09/2019

जीएसटी में बदलाव की तैयारी

वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) को लागू हुए ढाई वर्ष के करीब हो रहे हैं। इस बीच जीएसटी काउंसिल ने टैक्स ढांचे से लेकर, टैक्स रेट तक कई बदलाव किए और अब कहा जा रहा है कि यह 5 फीसदी के मौजूदा बेस टैक्स स्लैब को बढ़ाकर 9 से 10 फीसदी तक करने पर विचार कर सकती है।

08/12/2019

कोरोना के कहर से शेयर बाजार लुढ़का, सेंसेक्स में 2400 अंक की गिरावट

कोरोना वायरस कोविड 19 को वैश्विक महामारी घोषित किये जाने के बाद भारत सहित दुनिया भर के शेयर बाजारों में भारी गिरावट देखी गयी और बीएफई का सेंसेक्स करीब 2400 अंक लुढ़क गया।

12/03/2020

इलेक्ट्रिक वाहनों पर नीति आयोग सख्त, दो हफ्ते में आॅटो कंपनियां प्रस्ताव प्रदान करे

जीएसटी की बैठक में इलेक्ट्रिक वाहनों पर कोई फैसला नहीं हो पाया वहीं दूसरी तरफ नीति आयोग ने आॅटो कंपनियों के साथ बैठक में इलेक्ट्रिक वाहनों पर 2 हफ्ते में रोडमैप मांगा है।

23/06/2019

डीजल के दाम में 10 से 12 पैसे प्रति लीटर की कटौती, पेट्रोल की कीमत रही स्थिर

अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में सुस्ती को देखते हुए सोमवार को सरकारी तेल विपणन कंपनियों ने डीजल के दाम में 10 से 12 पैसे प्रति लीटर की कटौती की है, जबकि पेट्रोल के दाम स्थिर रहे। 6 सितंबर को घरेलू बाजार में दोनों ईंधन के दाम में कोई घटबढ़ नहीं हुई थी।

07/09/2020

शेयर बाजार में तेजी जारी, सेंसेक्स में 114 अंक और निफ्टी में 40 अंक की बढ़त

कोरोना वायरस के कारण लॉकडाउन में दौरान भी हवाई यात्रा और ट्रेन यात्रा में छूट दिए जाने से उत्साहित निवेशकों की लिवाली का रूख लगातार तीसरे दिन बना रहा, जिससे शेयर बाजार में तेजी बनी हुई है। बीएसई का सेंसेक्स 114.29 अंक बढ़कर 30932.90 अंक और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 39.70 अंक चढ़कर 9106.25 अंक पर रहा।

21/05/2020