Dainik Navajyoti Logo
Monday 2nd of August 2021
 
बिज़नेस

अमेरिकी फेडरल रिजर्व के बयान के बाद लुढ़का शेयर बाजार, सेंसेक्स में 179 अंक और निफ्टी में 76 अंक की गिरावट

Thursday, June 17, 2021 17:40 PM
कॉन्सेप्ट फोटो।

मुंबई। अमेरिकी फेडरल रिजर्व द्वारा ब्याज दरों बढ़ोतरी की संभावना से घरेलू शेयर बाजारों में गुरुवार को लगातार दूसरे दिन गिरावट रही। बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 178.65 अंक लुढ़ककर 52,323.33 अंक और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 76.15 अंक की गिरावट के साथ 15,691.40 अंक पर बंद हुआ। फेड ने वर्ष 2023 तक नीतिगत ब्याज दरों में 0.6 प्रतिशत वृद्धि की संभावना व्यक्त की है। उसने कहा है कि आने वाले समय में श्रम बाजार में सुधार और बेरोजगारी कम होने की उम्मीद है। आईटी, टेक और एफएमसीजी को छोड़कर अन्य क्षेत्र की कंपनियों में बिकवाली हावी रही। इससे मझौली और छोटी कंपनियों पर भी दबाव बना। बीएसई का मिडकैप 1.29 फीसदी लुढ़ककर 22,396.07 अंक पर बंद हुआ। छोटी कंपनियों का सूचकांक स्मॉलकैप भी 0.58 प्रतिशत टूटकर 24,868.93 अंक पर रहा। सेंसेक्स की 30 में से 20 कंपनियों के शेयर लाल निशान और शेष 10 के हरे निशान में रहे।

विदेशों में अधिकतर शेयर बाजार लाल निशान में रहे। जापान का निक्केई 0.93 प्रतिशत और दक्षिण कोरिया का कोस्पी 0.42 प्रतिशत की गिरावट में बंद हुआ। वहीं, हांगकांग का हैंगसेंग 0.43 प्रतिशत और चीन का शंघाई कंपोजिट 0.21 प्रतिशत की बढ़त में रहा। यूरोप में शुरुआती कारोबार में ब्रिटेन का एफटीएसई 0.49 प्रतिशत और जर्मनी का डैक्स 0.13 प्रतिशत टूट गया। सेंसेक्स 379.73 अंक की बड़ी गिरावट के साथ 52,122.25 अंक पर खुला। आईटी और टेक कंपनियों में लिवाली के दम पर दोपहर से पहले कुछ देर के लिए यह हरे निशान में आया और करीब 22 अंक चढ़कर 52,523.88 अंक पर पहुंच गया। चौतरफा बिकवाली के दबाव में सेंसेक्स एक बार फिर लाल निशान में चला गया और पूरे दिन उबर नहीं सका। दोपहर बाद एक समय यह 52,040.51 अंक तक टूट गया था। अंत में बुधवार के मुकाबले 0.34 फीसदी नीचे 52,323.33 अंक पर बंद हुआ।

बीएसई में कुल 3,360 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ। इनमें 1,383 कंपनियों के शेयर बढ़त के साथ और 1,822 के गिरावट के साथ बंद हुए जबकि शेष 155 कंपनियों के शेयर अपरिवर्तित रहे। निफ्टी की शुरुआत 119.25 अंक की गिरावट के साथ 15,648.30 अंक पर हुई। सेंसेक्स की तरह यह भी सुबह के समय कुछ देर के लिए हरे निशान में आया और 15,769.35 अंक तक पहुँच गया। हालांकि कुछ देर बाद ही एक बार फिर गिरावट में चला गया। दोपहर बाद एक समय निफ्टी 15,616.75 अंक तक टूट गया था। अंत में यह 0.48 प्रतिशत लुढ़ककर 15,691.40 अंक पर बंद हुआ। निफ्टी की 50 से 37 कंपनियों के शेयर टूट गए जबकि शेष 13 के मजबूती के साथ बंद हुए।

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

आम आदमी को महंगाई से राहत नहीं, घरेलू गैस सिलेंडर के दामों में फिर 25 रुपए का इजाफा

गैस सिलेंडर की कीमत में एक बार फिर बढ़ोतरी की गई है। घरेलू गैस सिलेंडर की कीमत में 25 रुपये की बढ़ाए गए है।

01/03/2021

भारत में निवेश में होगी बढ़ोतरी : आईएमएफ

भारत में मोदी सरकार द्वारा की गई कॉरपोरेट टैक्स में कटौती का आईएमएफ ने समर्थन किया है। आईएमएफ ने कॉरपोरेट कर में कटौती के भारत के फैसले का समर्थन करते हुए इसे निवेश के अनुकूल बताया है।

20/10/2019

जॉनसन एंड जॉनसन ने अमेरिका और कनाडा में बेबी पाउडर की बिक्री पर लगाई रोक

प्रसिद्ध कंपनी जॉनसन एंड जॉनसन ने अमेरिका और कनाडा में अपने उत्पाद जॉनसन बेबी पाउडर की ब्रिकी रोकने की घोषणा की है। कंपनी ने उसके उत्पादों में एस्बेस्टस की मिलावट को लेकर उसके खिलाफ हजारों मुकदमे दर्ज कराए जाने के बाद यह बड़ा फैसला किया है।

20/05/2020

लॉकडाउन में स्टेट बैंक ने ग्राहकों को दिया झटका, FD पर ब्याज दरों में की कटौती

कोरोना के चलते लॉकडाउन के बीच देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने फिक्स डिपॉजिट (एफडी) पर ब्याज दरों में कटौती का ऐलान कर दिया है। एसबीआई ने एफडी पर ब्याज दरों में 0.20% से 1% तक की कमी कर दी है। नई दरें आज से लागू हो गई हैं।

28/03/2020

15वां ऑटो एक्सपो का समापन, 108 कंपनियों ने प्रदर्शित किए उत्पाद

भारतीय ऑटोमोबाइल कंपनियों का प्रमुख शो 15वां ऑटो एक्सपो बुधवार का समापन हो गया। इसमें 6.08 लाख से अधिक लोग पहुंचे।

13/02/2020

कारोबारियों पर जीएसटी विभाग की पैनी नजर

कई उपभोक्ताओं ने एक मोबाइल एप के जरिये शिकायत दर्ज कराई है कि छोटे रेस्त्रां में उनसे जीएसटी वसूला जा रहा है लेकिन इस कर को सरकारी खजाने में जमा नहीं कराया गया

30/04/2019

सेंट्रल बैंक का अभियान डबल डिलाइट शुरू

सेंट्रल बैंक आॅफ इंडिया द्वारा शुक्रवार को ऋण अभियान डबल डिलाइट का शुभारंभ किया गया।

19/11/2019