Dainik Navajyoti Logo
Thursday 21st of January 2021
 
बिज़नेस

शेयर बाजार ने फिर रचा इतिहास, सेंसेक्स पहली बार 48 हजार के पार, निफ्टी भी नए शिखर पर

Monday, January 04, 2021 16:00 PM
फाइल फोटो।

मुंबई। विदेशों से मिले सकारात्मक संकेतों के बीच घरेलू शेयर बाजारों में सोमवार को लगातार 9वें दिन मजबूती रही और बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स पहली बार 48 हजार अंक के पार पहुंच गया। चौतरफा लिवाली के बीच सेंसेक्स 307.82 अंक यानी 0.64 प्रतिशत की छलांग लगाकर 48,176.80 अंक पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 114.40 अंक यानी 0.82 प्रतिशत की बढ़त के साथ 14,132.90 अंक के नए रिकॉर्ड स्तर पर बंद हुआ। शेयर बाजार में 21 दिसंबर के बाद से लगातार तेजी का क्रम बना हुआ है। इस दौरान 9 कारोबारी दिवस में सेंसेक्स 2,622.84 अंक यानी 5.76 प्रतिशत और निफ्टी 804.05 अंक यानी 6.04 प्रतिशत चढ़ चुका है।

मझौली और छोटी कंपनियों में निवेशकों ने ज्यादा विश्वास दिखाया। बीएसई का मिडकैप 1.42 प्रतिशत चढ़कर 18,421.52 अंक और स्मॉलकैप 1.37 प्रतिशत की बढ़त में 18,510.83 अंक पर बंद हुआ। देश में कोविड-19 टीकाकरण का ड्राइ रन शुरू होने की घोषणा से निवेशक अर्थव्यवस्था के जल्द पटरी पर लौटने को लेकर आशांवित हैं। साथ ही विदेशों में नववर्ष के अवकाश के बाद पहली बार बाजार खुलने पर लौटी तेजी से भी निवेश धारणा मजबूत बनी हुई है। धातु, आईटी, टेक, तेल एवं गैस, दूरसंचार, स्वास्थ्य और एफएमसीजी कंपनियों ने बाजार की बढ़त में सर्वाधिक योगदान दिया। सेंसेक्स की कंपनियों में ओएनजीसी का शेयर 4 प्रतिशत से अधिक चढ़ा।

विदेशों में अधिकतर शेयर बाजार हरे निशान में रहे। दक्षिण कोरिया का कोस्पी 2.47 प्रतिशत, हांगकांग का हैंगसेंग 0.89 प्रतिशत और चीन का शंघाई कंपोजिट 0.86 प्रतिशत की तेजी में रहा। हालांकि जापान का निक्की 0.68 फीसदी लुढ़क गया। सेंसेक्स ने 240.19 अंक की बढ़त के साथ 48 हजार अंक के पार पहुंचकर 48,109.17 अंक पर शुरुआत की। दोपहर से पहले ही कुछ समय के लिए बाजार में मुनाफावसूली शुरू होने से इसका ग्राफ अचानक नीचे उतरा और यह 47,594.47 अंक तक लुढ़क गया। लेकिन एक बार फिर वापसी करते हुए हरे निशान में लौट आया। कारोबार की समाप्ति से पहले 48,220.47 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर को छूने के बाद अंत में पिछले कारोबारी दिवस के मुकाबले 307.82 अंक की तेजी के साथ 48,176.80 अंक पर बंद हुआ।

बीएसई में कुल 3,254 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ। इनमें 2,095 कंपनियों के शेयर हरे निशान और 996 के लाल निशान में बंद हुए जबकि शेष 163 कंपनियों के शेयर दिन भर के उतार-चढ़ाव के बाद अंतत: अपरिवर्तित रहे। निफ्टी 85.85 अंक मजबूत होकर 14,104.35 अंक पर खुला। इसका दिवस का उच्चतम स्तर 14,147.95 अंक और निचला स्तर 13,953.75 अंक रहा। अंत में यह गत दिवस की तुलना में 114.40 अंक ऊपर 14,132.90 अंक पर रहा। निफ्टी की 50 में से 37 कंपनियों के शेयर बढ़त और अन्य 12 के गिरावट में रहे जबकि मारुति सुजुकी का शेयर अंत में स्थिर बंद हुआ।

यह भी पढ़ें:

गिरावट से उबरा शेयर बाजार, सेंसेक्स 228 अंक और निफ्टी 88 अंक बढ़ा

शेयर बाजार में सेंसेक्स 370 अंक गिर गया। सेंसेक्स 113.50 अंकों की बढ़त के साथ कारोबार कर रहा है और निफ्टी 28.05 अंकों की तेजी के साथ ट्रेड कर रहा है।

23/08/2019

मांग को बढ़ावा देने के लिए आयकर में मिल सकती है छूट

भारत दुनिया का दूसरा सबसे बड़ी आबादी वाला देश है। देश में 125 करोड़ से ज्यादा लोगों की जनसंख्या है, इसके बावजूद पर्याप्त डिमांड न होने के कारण देश की आर्थिक विकास की रफ्तार धीमी हो रही है।

12/01/2020

जेट एयरवेज के 443 स्लॉट दूसरे एयरलाइंस को दिए जाएंगे

सरकार ने निजी विमान सेवा कंपनी जेट एयरवेज के अस्थाई रूप से सेवाएं बंद करने के बाद दिल्ली और मुंबई में खाली हुए उसके 443 स्लॉटों का आवंटन अन्य विमान सेवा कंपनियों को करने का फैसला किया है।

19/04/2019

शेयर बाजार में गिरावट का दौर जारी, सेंसेक्स 141 अंक और निफ्टी 48 अंक टूटा

वैश्विक स्तर से मिले मिश्रित संकेतों के बीच घरेलू स्तर पर आर्थिक गतिविधियों में शिथिलता आने की आशंका में लगातार छठे दिन शेयर बाजार गिरकर बंद हुआ। बीएसई का सेंसेक्स 141.33 अंक और एनएसई का निफ्टी 48.35 अंक टूटकर बंद हुआ।

07/10/2019

सेंट्रल बैंक का अभियान डबल डिलाइट शुरू

सेंट्रल बैंक आॅफ इंडिया द्वारा शुक्रवार को ऋण अभियान डबल डिलाइट का शुभारंभ किया गया।

19/11/2019

सेंसेक्स का नया इतिहास, 40345 अंक पर पहुंचा

घरेलू और वैश्विक सकारात्मक संकेतों और विदेशी निवेशकों की सक्रियता से गुरुवार को बाम्बे शेयर बाजार का संवेदी सूचकांक नया इतिहास रचते हुए 40344.90 अंक के शिखर पर पहुंच गया।

31/10/2019

कार्यकाल पूरा होने से पहले ही रिजर्व बैंक के डिप्टी गवर्नर ने दिया इस्तीफा

रिजर्व बैंक ने सोमवार को इसके पुष्टि करते हुए कहा कि आचार्य ने कुछ समय पहले ही जानकारी दी थी कि वह 23 जुलाई से पद छोड़ना चाहते हैं।

24/06/2019