Dainik Navajyoti Logo
Sunday 18th of April 2021
 
बिज़नेस

प्लास्टिक निर्यात बढ़ाने के लिए हस्तक्षेप जरूरी

Friday, September 27, 2019 11:00 AM
प्रतिकात्मक तस्वीर।

नई दिल्ली। देश से प्लास्टिक उत्पादों का निर्यात बढ़ाने के लिए संबंधित उद्योगों को अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी अपनानी होगी ताकि वे पर्यावरण के अनुकूल प्लास्टिक बना सके। केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय से संबद्ध भारतीय प्लास्टिक निर्यात संवर्धन परिषद और अमेरिका की वित्त क्षेत्र की कंपनी ड्रिप कैपिटल ने गुरुवार को यहां एक अध्ययन में कहा कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बढ़ रहे व्यापारिक तनाव और पर्यावरणीय सरोकारों के कारण भारतीय प्लास्टिक के निर्यात पर नकारात्मक प्रभाव पड़ रहा है। इसके अलावा घरेलू स्तर पर मंदी के कारण यह उद्योग बुरी तरह से प्रभावित है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि भारतीय प्लास्टिक उद्योग को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपनी प्रासंगिकता बनाये रखने के लिए अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी अपनानी होगी और ऐसे उत्पाद बनाने होंगे जो जैविक रुप से नष्ट हो सके और प्लास्टिक का फिर से इस्तेमाल किया जा सके। रिपोर्ट के अनुसार प्लास्टिक उद्योग को आधुनिक बनाने के लिए भारी निवेश की आवश्यकता होगी। यदि ये उद्योग इस पूंजी का निवेश स्वयं करेंगे तो कार्यशील पूंजी पर असर पड़ेगा इसलिए इस निवेश के लिए सरकारी स्तर पर नीति बनायी जानी चाहिए। रिपोर्ट के अनुसार भारत को 50 खरब डालर की अर्थव्यवस्था बनाने में प्लास्टिक उद्योग प्रमुख भूमिका निभा सकता है। उद्योग वर्ष 2024-25 तक प्लास्टिक का निर्यात 25 अरब डॉलर तक पहुंचाने का लक्ष्य रखा गया है। भारतीय प्लास्टिक निर्यात में गुजरात और महाराष्ट्र की  हिस्सेदारी 60 प्रतिशत है। इसके अलावा मध्यप्रदेश, पश्चिम बंगाल, दमन एवं  दियू और दादर तथा नगर हवेली से भी प्लास्टिक का निर्यात किया जाता है।

यह भी पढ़ें:

वाहनों की खुदरा बिक्री छह प्रतिशत घटी

देश में वाहनों की खुदरा बिक्री जुलाई महीने में छह प्रतिशत घटकर 16,54,535 इकाई रह गई। आॅटो मोबाइल डीलरों के संगठन फाडा की ओर से जारी आंकड़ों में यह बात कही गई है।

20/08/2019

रिलाइंस जिओ के गीगा फाइबर के प्लान लांच

रिलाइंस जिओ की गीगा फाइबर सर्विस आधिकारिक तौर पर लांच हो गई है

07/09/2019

सऊदी तेल संयंत्रों पर हमले से लुढ़का शेयर बाजार, सेंसेक्स 262 और निफ्टी 72 अंक टूटा

सऊदी अरब में कच्चे तेल के दो संयंत्रों पर ड्रोनों से किये गये हमले तथा उसके बाद अमेरिका और ईरान के बीच बढ़े तनाव के कारण सोमवार को घरेलू शेयर बाजार गिरावट में आ गई।

16/09/2019

स्कोडा ऑटो इंडिया ने मनाया 100,000वें रैपिड के उत्पादन का जश्न

स्कोडा ऑटो इंडिया ने पुणे के चाकन में फोक्सवैगन समूह की उत्पादन सुविधा केन्द्र में अपने 100,000 वें रैपिड का उत्पादन किया।

20/06/2019

स्कोडा के नए मॉडल लॉन्च, जानिए कीमत और फीचर्स

स्कोडा ऑटो इंडिया ने दो नए वैरिएंट कोडिएक स्काउट और ओक्टाविआ ओनिक्स को रुपए 33.99 लाख और 19.99 लाख रुपए की आकर्षक परिचयात्मक एक्स-शोरूम कीमत पर लॉन्च किया

15/10/2019

बदलेंगे बैंक नियम, जीएसटी में कटौती

नवरात्र के साथ त्योहार शुरू हो गए हैं और एक तारीख से महीना बदलेगा वहीं कईं और भी चीजें बदलने वाली हैं, जो आपकी जिंदगी पर सीधा असर डालने वाली हैं।

01/10/2019

बीते वित्त वर्ष में घटा एफडीआई

दूरसंचार, फार्मा और अन्य क्षेत्रों में विदेशी पूंजी प्रवाह घटने से बीते वित्त वर्ष में विदेशी प्रत्यक्ष निवेश (एफडीआई) एक प्रतिशत गिरकर 44.37 अरब डॉलर रहा गया है

29/05/2019