Dainik Navajyoti Logo
Thursday 12th of December 2019
 
बिज़नेस

5 ट्रिलियन डॉलर अर्थव्यवस्था पर बोले पूर्व RBI गवर्नर, कहा- मौजूदा विकास दर से 2025 तक संभव नहीं

Friday, November 22, 2019 14:35 PM
सी रंगराजन (फाइल फोटो)

नई दिल्ली। भारतीय रिजर्व बैंक के पूर्व गवर्नर सी रंगराजन के मुताबिक अर्थवव्यस्था की स्थिति ठीक नहीं है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि मौजूदा विकास दर से 2025 में 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनने का सवाल ही नहीं है। रंगराजन ने कहा कि आज हमारी अर्थव्यवस्था 2,700 अरब डॉलर है और हम 5 साल में इसे दोगुना कर 5,000 अरब डॉलर करने की बात कर रहे हैं। इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए 9 फीसदी सालाना विकास दर की जरूरत है। ऐसे में 2025 तक 5,000 करोड़ रुपये की अर्थव्यवस्था बनने का सवाल ही नहीं है। एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए रंगराजन ने कहा कि आप दो साल गंवा चुके हैं। इस साल विकास दर 6 फीसदी से नीचे रहने वाली है, जबकि अगले साल यह करीब 7 फीसदी होगी। इसके बाद अर्थव्यवस्था गति पकड़ सकती है.'

उन्होंने कहा कि अगर देश की जीडीपी 5,000 अरब डॉलर हो गई तो देश में प्रति व्यक्ति आय मौजूदा 1,800 डॉलर से बढ़कर 3,600 डॉलर हो जाएगी। इसके बावजूद देश निम्न मध्यम आय वाले देशों की श्रेणी में ही रहेगा। रंगराजन ने कहा कि विकसित देश की परिभाषा ऐसे देश से है जिसकी प्रति व्यक्ति आय 12,000 डॉलर सालाना हो। अगर हम 9 फीसदी की दर से विकास करें तब भी इसे हासिल करने में 22 साल लगेंगे।

बता दें, केंद्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की दोबारा सरकार बनने के बाद उन्होंने अगले 5 साल में देश की अर्थव्यवस्था को 5,000 अरब डॉलर की बनाने का लक्ष्य रखा था, लेकिन अर्थव्यवस्था पर छाए संकट के बाद से इसे हासिल करने पर सवाल उठ रहे हैं। देश में आर्थिक विकास दर की गति कम हो रही है और वित्त वर्ष 2016 के 8.2 फीसदी के मुकाबले वित्त वर्ष 2019 में विकास दर 6.8 फीसदी रह गई है।

यह भी पढ़ें:

कोलगेट ने मिलाया रॉबिन हुड आर्मी से हाथ

कोलगेट पामोलिव ने स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर अपने मिशन-5 अभियान के तहत पूरे देश में 5 मिलियन लोगों को सेवाएं देने के लिए रॉबिन हुड आर्मी के साथ गठबंधन किया। जीरो फंड ऑर्गेनाईजेशन, रॉबिन हुड आर्मी कम भाग्यशाली लोगों की मदद करती है और उन्हें रेस्टोरेंट व समुदायों का बचा हुआ फूड पहुंचाती है।

30/08/2019

एसबीआई से मिलेगा सस्ता लोन

एसबीआई में एक मई से आपको कुछ बातों पर ध्यान देना होगा। एसबीआई पहला ऐसा बैंक बन गया है जिसने अपने लोन और डिपॉजिट रेट को सीधे आरबीआई

30/04/2019

भारत में डिजिटल क्रांति की चुनौतियां

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भारत को ‘डिजिटल इण्डिया’ का विजन दिया है ताकि डिजिटल क्रांति को देश में साकार रूप प्रदान किया जा सके। इक्कसवीं सदी सूचना प्रौद्योगिकी को समर्पित है लेकिन इस क्षेत्र में तकनीकी नवप्रर्वतन, सुधार एवं समायोजन की अत्यंत गुंजाईश है।

16/09/2016

टीवीएस की बिक्री में पांच फीसदी की तेजी

दोपहिया और तिपहिया वाहन बनाने वाली कंपनी टीवीएस मोटर की बिक्री अप्रैल 2019 में पांच फीसदी बढ़कर 3,18,937 इकाई हो गई।

03/05/2019

एसबीआई ने दिया फेस्टिव सीजन गिफ्ट

फेस्टिव सीजन को भांपते हुए देश के सबसे बड़े स्टेट बैंक आॅफ इंडिया ने अपने ग्राहकों को बहुत बड़ा गिफ्ट दिया है।

09/10/2019

रिजर्व बैंक ने घटाई रेपो रेट, सस्ते हो सकते हैं होम और कार लोन

रिजर्व बैंक ने कर्जदारों के लिए बड़ी सौगात दी है। आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने गुरुवार को प्रेस कांफ्रेंस में 0.25 फीसदी रेपो रेट घटाने की घोषणा की।

06/06/2019

तीन दिवसीय कंपनी सचिवों के 47 वें राष्ट्रीय कन्वेंशन का समापन

भारतीय कंपनी सचिव संस्थान की ओर से जयपुर एग्जीबिशन एंड कन्वेंशन सेंटर में चल रहे तीन दिवसीय 47 वें राष्ट्रीय कन्वेंशन का शनिवार को समापन हो गया।

17/11/2019