Dainik Navajyoti Logo
Wednesday 5th of August 2020
 
अजमेर

देश में चौथे स्थान पर रहा आरके पाटनी गर्ल्स कॉलेज

Thursday, December 05, 2019 23:40 PM
दिल्ली में पुरस्कार प्राप्त करते कॉलेज की प्राचार्या एवं अन्य।
मदनगंज-किशनगढ़।    मानव संसाधन विकास मंत्रालय एवं विश्वविद्यालय अनुदान आयोग भारत सरकार द्वारा इंस्टीट्यूशनल स्वच्छता रैकिंग 2019 के सूची में किशनगढ़ के आरके पाटनी गर्ल्स कॉलेज को देशभर में चौथा स्थान मिला है। उक्त उपलब्धि के साथ ही आरके मार्बल समूह ने किशनगढ़ को एक बार भी राष्टÑीय स्तर पर शिक्षा के क्षेत्र में भी पहचान दिलाने का गौरवमय मौका दिया है। इससे पूर्व समूह के प्रयासों से ही किशनगढ़ मार्बल मंडी एशिया की सबसे बड़ी मार्बल मंडी में शुमार होने के साथ ही गिनिज आॅफ रिकॉर्ड बुक में भी शामिल हो पाई थी। 
 
रतनलाल कंवरलाल पाटनी गर्ल्स कॉलेज ने स्वच्छ भारत अभियान एवं उन्नत भारत अभियान के तहत स्वच्छता की दृष्टि से कैंपस में स्वच्छता को लेकर अखिल भारतीय स्तर पर चौथा स्थान हासिल करते हुए किशनगढ़ को उक्त गौरव दिलाया। उपलब्धि का श्रेय आरके मार्बल समूह के चेयरमैन अशोक पाटनी, सुरेश पाटनी एवं विमल पाटनी की सकारात्मक सोच को जाता है। वही कॉलेज प्रबंधन समिति सचिव सुभाष अग्रवाल एवं प्राचार्य वंदना भटनागर सहित पूरी टीम के प्रयासों ने उक्त मुकाम तय किए है। 
 
मानव संसाधन विकास मंत्रालय एवं विश्वविद्यालय अनुदान आयोग भारत सरकार द्वारा इंस्टीट्यूशनल स्वच्छता रैंकिंग 2019 व उन्नत भारत अभियान के तहत कॉलेज को उक्त सम्मान नई दिल्ली एआईसीटीई प्रज्ञान आॅडिटोरियम में आयोजित समारोह में उच्च शिक्षा सचिव आर सुब्रह्मण्यम, यूजीसी चेयरमैन, डीपीसिंह एआईसीटीई चेयरमैन, प्रो. अनिल डी. सहस्त्रबुद्धे, एमजीएनसीआरआई चेयरमैन डॉ. डब्ल्यू जी. प्रसन्ना कुमार, एआईसीटीई वाइस चेयरमैन, प्रो. एमपी पूनिया ने प्रदान किया। महाविद्यालय प्राचार्य डॉ. वन्दना भटनागर ने पुरस्कार प्राप्त कर बताया कि यह सम्मान भारत में 6900 शिक्षण संस्थानों के निरीक्षण के बाद चयन किया गया। प्राणी विज्ञान विभाग के सहायक आचार्य व उन्नत भारत अभियान के महाविद्यालय समन्वयक विश्वजीत जारोली ने उक्त सम्मान प्राप्त किया। साथ ही यूजीसी निर्देशानुसार महाविद्यालय की कमेटी गठित में शामिल राजेश कुमार जैन, अमित दाधीच, राजेन्द्र चतुर्वेदी, जितेन्द्र यादव, विश्वास भटनागर व राजेन्द्र सिंह राजावत ने उत्कृष्ट कार्य करते हुए महाविद्यालय का निरीक्षण करवाते हुए उक्त सम्मान दिलाने की राह प्रशस्त की। सम्मान के लिए यूजीसी व एमएचआरडी ने कैम्पस स्वच्छता, कैम्पस हरितिमा, डस्टबीन, हाईजिन, डेज्नेज सिस्टम, सोलर पावर एनर्जी इत्यादि मापदंडों में आरके पाटनी गर्ल्स कॉलेज कॉलेज अग्रणी रहा।
 
धरती को देना भी सीखना होगा: पाटनी
आरके मार्बल समूह के चेयरमैन अशोक पाटनी ने कहा कि बाबासा रतनलाल पाटनी ने पूरे परिवार को आसपास से जो भी लेते है उसका एक बड़ा हिस्सा समाज को वापस देने की सीख भी सिखाई थी। यही बात पर्यावरण के लिए भी सटीक बैठती है। जीवन में धरती मां से बहुत कुछ मिलता है ऐसे में मानव का भी धर्म है कि उसे धरती मां को वापस कुछ देना है तो उसे हरा-भरा रखते हुए साफ एवं स्वच्छ रखना चाहिए। बाबासा की सीख एवं परिवार के संस्कारों के कारण मार्बल क्षेत्र से लेकर शिक्षा क्षेत्र में सर्वप्रथम हरियाली एवं स्वच्छता का विशेष ध्यान रखा जाता है। उन्होंने उक्त अवार्ड के लिए कॉलेज की पूरी टीम को बधाई देते हुए कहा कि सामूहिक प्रयासों से ही असंभव को संभव किया जा सकता है। चेयरमैन पाटनी ने हर्ष व्यक्त करते हुए कहा कि स्वच्छता रैंकिंग में सम्पूर्ण भारत में चौथा स्थान प्राप्त करना केवल किशनगढ़ ही नहीं सम्पूर्ण राजस्थान के लिए गर्व का विषय है। हमारा विश्वास है कि हम जिस विजन से संस्थान को आगे बढ़ाने के लिए प्रयत्नशील है उसमें हमें सफलता प्राप्त हुई है। 
 
कठिन परिश्रम एवं साधना को मिला मुकाम: अग्रवाल
आरके पाटनी गर्ल्स कॉलेज प्रबन्ध समिति के सचिव और आरके मार्बल समूह के वित्त निदेशक सुभाष अग्रवाल ने कहा कि यह सम्मान राष्ट्रीय स्तर पर महाविद्यालय को पहचान दिलाने का पर्याय बना है। जो हमारी कठिन श्रम साधना का परिणाम है। उन्होंने कहा कि समूह के चेयरमैन अशोक पाटनी, सुरेश पाटनी एवं विमल पाटनी के बाद पाटनी परिवार की नई पीढ़ी विनित पाटनी, विकास पाटनी सहित सभी सदस्य भी हरे-भरे वातावरण के साथ पर्यावरण को जीवंंत रखने में विश्वास रखती है और उनका यह विश्वास प्रेरणादायी है। इसके कारण ही मार्बल एरिया में स्थित फैक्ट्री, आरके कम्यूनिटी सेंटर, आरके गर्ल्स कॉलेज, आरके होम्योपैथी अस्पताल, आरके पाटनी रोडवेज बस स्टैंड सहित अन्य सभी प्रकल्पों में साफ-सफाई के अलावा हरा-भरा वातावरण कायम रखना पहली प्राथमिकता है। उन्होंने इसे हाउस कीपिंग परिवार के लिए गर्व की बात बताया।
 
यह भी पढ़ें:

निजी बस-वैन भिड़न्त में एक की मौत

भवानीखेड़ा टोल नाके के निकट राजगढ़ मोड़ के पास निजी बस और मारुति वैन के बीच जोरदार भिड़न्त में वैन सवार युवक की मौत हो गई, जबकि दो युवक गंभीर रूप से घायल हो गए। दुर्घटना इतनी जबरदस्त थी कि वैन के परखच्चे उड़ गए। घायलों को अजमेर रेफर किया गया है।

19/05/2019

अमर्यादित टिप्पणी मामले में अधिकारियों के बयान दर्ज

महिला आईएएस अधिकारियों के बारे में अमर्यादित टिप्पणी करने के मामले में 3 अधिकारियों के नियम 164 के तहत बयान दर्ज किये गये हैं।

08/02/2020

अजमेर में निजी स्कूल द्वारा मनमानी फीस वृद्धि मामला, जिला प्रशासन ने दिए जांच के आदेश

अजमेर जिला प्रशासन ने फायसागर रोड स्थित एक निजी स्कूल के खिलाफ मनमानी फीस वृद्धि एवं जबरन पुस्तकें खरीदवाने के मामले में जांच के आदेश दिए है। मनमानी फीस वृद्धि एवं जबरन पुस्तकें खरीदवाने के आरोप से घिरे स्कूल प्रबंधन के खिलाफ अभिभावकों ने गत 27 मई को कलेक्टर को ज्ञापन दिया था।

29/05/2020

डम्पर बना काल, पांच युवकों को ‘निगला’

कार की डम्पर से टक्कर में कार सवार पांच युवकों की मौत हुई।

18/03/2020

अजमेर: बस-ट्रेलर की भिड़ंत में 8 लोगों की मौत, 21 घायल

मांगलियावास के ब्यावर रोड पर मंगलम होटल के पास एक वीडियो कोच स्लीपर बस ओवरटेक के प्रयास में सड़क किनारे खड़े ट्रेलर से टकरा जाने से उसमें सवार बच्चों सहित 8 जनों की मौत हो गई। वहीं 21 जने घायल हो गए।

22/09/2019

दृष्टिहीन दोस्त की पत्नी के साथ दुष्कर्म करने वाले को 10 साल की जेल

अजमेर अपर सेशन न्यायाधीश (महिला उत्पीड़न प्रकरण) गोविन्द अग्रवाल ने दृष्टिहीन दोस्त की पत्नी के साथ दुष्कर्म करने के आरोपी राकेश पंवार को दस साल की कैद व साढ़े 17 हजार रुपए जुर्माना से दंडित किया है।

19/07/2019

अजमेर: व्यापारी से 12 लाख रुपए लूटने की साजिश चाय बेचने वाले ने बनाई थी

व्यापारी से 12 लाख लूटने का मामला: तीन और आरोपी गिरफ्तार, वारदात में संलिप्त थे 11 आरोपी

01/11/2019