Dainik Navajyoti Logo
Thursday 17th of June 2021
 
अजमेर

अजमेर में फंसे हैं तीन हजार जायरीन, दरगाह कमेटी के सर्वे में खुलासा

Sunday, March 29, 2020 23:40 PM
अजमेर दरगाह

   

अजमेर। कोरोना वायरस के कारण सम्पूर्ण देश में किए गए लॉकडाउन की वजह से तीन हजार से ज्यादा जायरीन अजमेर में फंसे हुए हैं। दरगाह कमेटी की ओर से कराए गए सर्वे में यह आंकड़ा सामने आया है। जायरीन को उनके घरों तक पहुंचाने के लिए दरगाह कमेटी के अध्यक्ष अमीन पठान ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सहित केन्द्र सरकार के समस्त मंत्रियों एवं सभी प्रदेश के मुख्यमंत्री को पत्र लिखा है। 
 
 
पठान ने बताया कि दरगाह कमेटी ने दरगाह क्षेत्र में लंगर बांट रहे खुद्दाम एवं स्वयंसेवकों से यह सर्वे कराया है। सर्वे के दौरान एक डाटा शीट में जायरीन के नाम, मोबाइल नम्बर, स्थान, जिला एवं राज्य, अजमेर में कहां ठहरे हुए हैं, साथ में कितने लोग हैं, इन सूचनाओं को एकत्रित किया गया है। सर्वे रिपोर्ट के अनुसार वर्तमान में अजमेर में तीन हजार लोग फंसे हुए हैं। इसमें 70- 80 लोग वह भी हैं, जो रोजगार के लिए अजमेर आते हैं, लेकिन अब कोई कार्य नहीं होने के कारण वह अपने घर जाना चाहते हैं। दरगाह कमेटी तथा भामाशाहों के लिए इन लोगों तक होटलों, लॉज, गेस्ट हाउस व घरों में खाना भिजवाना एक चुनौती बन गया है। यह आंकड़ा चार हजार तक जाने की आशंका है। 
 
 
इन रूट पर चलाएं
 
मोदी और गहलोत को लिखे गए पत्र में पठान ने जायरीन के लिए ट्रेन और बसें चलाने की मांग की है। पठान ने उत्तर प्रदेश, बिहार और पश्चिम बंगाल के जायरीन के लिए अजमेर-जयपुर-कोलकाता एवं पटना रूट पर, महाराष्ट्र, आंध्रप्रदेश, कर्नाटक के जायरीन लिए अजमेर-भोपाल-नागपुर-विजयवाड़ा- चेन्नई रूट पर टेÑन चलाने की मांग की है। जबकि दिल्ली, पंजाब व गुजरात राज्य के जायरीन को बसों के माध्यम से भेजने की मांग की है।
 
 
किस प्रदेश के कितने जायरीन
 
-उत्तर प्रदेश के 569 
-बिहार के 271 
-पश्चिम बंगाल के 744 
-महाराष्ट्र के 255 
-आध्रप्रदेश के 601 
-कर्नाटक के 356 
-गुजरात के 75 
-झारखंड के 77 
-दिल्ली के 21 
-अन्य प्रदेशों के 99
 

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

14 दिन से केकड़ी में फंसे हैं बिहारी मजदूरों की गांव जाने की जिद भोजन का बहिष्कार, आश्रय स्थल से मांगी रिहाई

14 दिन से केकड़ी में फंसे हैं बिहारी मजदूरों की गांव जाने की जिद भोजन का बहिष्कार, आश्रय स्थल से मांगी रिहाई

14/04/2020

विलक्षण प्रतिभा की धनी थी इंदिराजी, इसलिए लोग आज भी उन्हें याद करते हैं- पायलट

राज्य के उप मुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट ने पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को विलक्षण प्रतिभा का धनी बताते हुए कहा कि उनकी इसी विशेषता के कारण पूरा देश आज भी उन्हें याद करता है

17/02/2020

अजमेर में डकैती की योजना बना रहे 9 बदमाश गिरफ्तार, हथियार भी बरामद

अजमेर शहर की दरगाह थाना पुलिस ने डकैती की योजना बनाते 9 बदमाशों को हथियार सहित गिरफ्तार किया है। थाना अधिकारी रमेंद्र सिंह हाडा ने बताया कि आरोपियों के पास से धारधार हथियार जिनमें तलवार, छुरा, छुर्री, कटार, लोहे का नकब, सरिया एवं मिर्च पाउडर बरामद किया गया है।

25/10/2020

परीक्षार्थियों से बोर्ड की प्रतिष्ठा को बनाए रखने की अपील

राजस्थान में माध्यमिक शिक्षा बोर्ड अजमेर के अध्यक्ष डॉ. धर्मपाल ने बोर्ड की परीक्षाओं के परीक्षार्थियों को सफलता की शुभकामनाएं देते हुये बोर्ड परीक्षाओं की प्रतिष्ठा एवं गरिमा को अक्षुण्ण बनाए रखने की अपील की है।

04/03/2020

जीत से ज्यादा प्रीत जरूरी...

उम्मीदवारों का अभूतपूर्व फैसला : आपसी विवाद के बाद सभी ने स्वेच्छा से नामांकन उठाए

22/08/2019

लोहे के एंगलों से भरे ट्रेलर को लूटा

राष्टÑीय राजमार्ग 79 स्थित कोटा रोड चौराहे के निकट शुक्रवार रात्रि को लोहे के एंगलों से भरे ट्रेलर को ही लूट लिया गया। चालक की सूचना पर अलर्ट हुई पुलिस ने नाकाबंदी के दौरान सराना क्षेत्र से लूटे गए ट्रेलर को आरोपियों सहित दबोच लिया।

25/05/2019

सामूहिक आत्महत्या प्रकरण

केकड़ी शहर के अजमेर रोड स्थित चंद्रप्रभु नगर में बुधवार को प्रेमिका करिश्मा के साथ फांसी के फंदे पर लटक आत्महत्या करने वाला सुरेंद्र सिंह पिछले 5 साल से उसके संपर्क में था। इस बात से सुरेंद्र के घरवाले तो अंजान थे लेकिन करिश्मा के परिजन को उनके इस रिश्ते की पूरी जानकारी थी

02/05/2019