Dainik Navajyoti Logo
Friday 18th of June 2021
 
अजमेर

रोडवेज का गैर जिम्मेदाराना रवैया

Thursday, December 05, 2019 00:15 AM
प्रेस को मामले की जानकारी देते खेतपालिया।

  ब्यावर ।   एक तरफ राजस्थान रोडवेज के अधिकारी अपने बस स्टैंड को निखारने एवं यात्रियों को सुविधा देने के लिए भामाशाहों के आगे हाथ फैला रहे हैं, वही ब्यावर में बस स्टैंड की काया पलट करने को तत्पर भामाशाह परिवार को पिछले 6 माह से चक्कर कटवा रहे हैं। हद तो तब हो गई कि जब भामाशाह को यह जवाब दे दिया कि स्वीकृति कोई मुफ्त में मिलती है क्या?

बहरहाल ऐसा कहने के पीछे अफसर की मंशा क्या थी, यह तो वही जाने लेकिन जिम्मेदार अधिकारी के इस रवैये से भामाशाह के जज्बे को गहरी ठेस पहुंची है और उसने एक-डेढ़ करोड़ की लागत से बस स्टैंड की काया पलट कराने की घोषणा वापस ले ली है।
 
भामाशाह सुनीलकुमार खेतपालिया ने गुरुवार को होटल शंकर में प्रेस वार्ता कर इस मामले का खुलासा किया। उन्होंने बताया कि गत दिनों उन्होंने ब्यावर के पूरे बस स्टैंड का जीर्णोद्धार करने के लिए करीब एक डेढ करोड़ रुपए खर्च करने की घोषणा की थी। यहां तक कि बस स्टैंड के नए स्वरूप, आवक-जावक गेटों का नक्शा भी बनवा लिया लेकिन निर्माण की स्वीकृति देने के लिए विभागीय अधिकारी लंबे समय से नाटक कर रहे हैं। ऐसे में काम शुरू ही नहीं हो पा रहा है। करीब तीन-चार बार तो नक्शे में परिवर्तन करवा दिया गया है। इसके बाद भी स्वीकृति नहीं दी जा रही है। उन्होंने स्पष्ट किया है कि उनके आर्किटेक्ट को जब अधिकारी के पास भेजा गया तो उन्होंने दो टूक शब्दों में यह कह अपनी मंशा को स्पष्ट कर दिया कि स्वीकृति कोई मुक्त में मिलती है क्या?
 
कहीं और जगह खर्च कर देंगे लेकिन...
भामाशाह खेतपालिया ने रोष व्यक्त करते हुए कहा कि वे पैसा भी खर्च करें और अधिकारियों को कमीशन भी दे, ऐसा काम उन्हें नहीं करना है। भले ही वे इस पैसे को कहीं और सामाजिक सरोकार के रूप में खर्च कर देंगे, मगर अब बस स्टैंड के लिए की गई उनकी घोषणा को वह वापस ले रहे हैं। 
 
यह है मामला
खेतपालिया परिवार ने करीब 4 माह पूर्व ब्यावर बस स्टैंड का आधुनिक तरीके से जीर्णोद्धार करवाने के लिए तकरीबन 1 करोड़ रुपए की घोषणा की थी। इसके लिए विधिवत रूप से उन्होंने नक्शा तैयार करवाकर निगम के अधिकारियों से कार्य की स्वीकृति देने की मांग की। तात्कालीन एसई सिविल मुकेश राणा ने निरीक्षण भी किया। नक्शे में परिवर्तन भी करवाया। लेकिन आज तक उन्हें निर्माण शुरू करवाने की स्वीकृति नहीं दी है। अब वह अजमेर के जोनल मैनेजर के रूप में कार्यरत हैं। मामले में जोनल मैनेजर राणा से बातचीत करने का प्रयास किया, लेकिन उन्होंने मोबाइल कॉल रिसीव नहीं की।
 
 

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

आरटीओ ऑफिस में रिश्वत लेते संविदा कर्मचारी गिरफ्तार

एसीबी की जयपुर टीम ने बुधवार को अजमेर आरटीओ आॅफिस में कार्यरत एक संविदा कर्मचारी को 15 सौ रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगेहाथ गिरफ्तार किया है

20/11/2019

बस ट्रोले से टकराई, 8 की मौत, डेढ़ दर्जन घायल

अजमेर-अहमदाबाद मार्ग पर ग्राम लामाना के पास रविवार की शाम ओवरटेक करने में लापरवाही के कारण तेज रफ्तार बस सड़क किनारे खड़े ट्रोले से टकरा गई। इस हादसे में दो मासूम बालिकाओं सहित आठ लोगों की मौत हो गई और करीब डेढ़ दर्जन लोग गंभीर रूप से घायल हो गए।

22/09/2019

नवीन अध्यक्ष और गुंजन शर्मा सचिव नियुक्त

अजमेर जिला क्रिकेट संघ के मंगलवार को सामुदायिक भवन, रामलीला मैदान, जोंसगंज में सम्पन्न हुए चुनाव में नवीन शर्मा को अध्यक्ष और गुंजन शर्मा को सचिव नियुक्त किया गया।

15/05/2019

कोरोना महामारी के चलते आज ब्यावर में स्वैच्छिक बंद

कोरोना महामारी को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के रविवार को जनता कर्फ्यू से पहले ही शनिवार को ही ब्यावर स्वैछिक बंद रखने का निर्णय लिया गया। विभिन्न व्यापारिक संगठनों के पदाधिकारियों ने सर्वसम्मति से उक्त निर्णय लिया।

20/03/2020

अजमेरः वाणिज्य कर विभाग से धोखाधड़ी कर रिफंड प्राप्त करने के मामले में एक और आरोपी गिरफ्तार

अजमेर शहर की सिविल लाइंस थाना पुलिस ने फर्जी तरीके से वाणिज्य कर विभाग से धोखाधड़ी कर रिफंड प्राप्त करने के मामले में एक और आरोपी को गिरफ्तार किया है। मामले में एक अन्य आरोपी जयपुर निवासी राधाकिशन सोनी को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है।

28/10/2020

आयकर विभाग की 35 टीमों ने अजमेर के दो प्रमुख कारोबारियों के यहां मारा छापा

आयकर विभाग ने बुधवार को अजमेर के दो प्रमुख कारोबारियों के यहां छापे मारे। विभाग द्वारा अजमेर सहित किशनगढ़, सरवाड़, सावर में भी संबंधित कारोबारियों के प्रतिष्ठानों पर सर्च की कार्रवाई की जा रही है। जांच में करोड़ों रुपए की बेनामी सम्पत्ति और आय से अधिक सम्पति मिलने की संभावना

13/02/2020

झंडे एवं निशान लेकर कलंदरों, मलंगों का जत्था पहुंचा अजमेर, जायरीनों के लिए खुला दरगाह का जन्नती दरवाजा

ख्वाजा गरीब नवाज के 808वें सालाना उर्स में झंडे एवं निशान लेकर कलंदरों और मलंगों का जत्था सोमवार को अजमेर पहुंच गया। वहीं सोमवार तड़के दरगाह का जन्नती दरवाजा खोल दिया गया। जन्नती दरवाजे के रास्ते आस्ताना शरीफ पहुंच कर जियारत करने वालों में होड़ मच गई।

24/02/2020