Dainik Navajyoti Logo
Friday 18th of June 2021
 
अजमेर

117 इजरायली पर्यटकों को एयरलिफ्ट करने की तैयारी, पुष्कर से दिल्ली रवाना

Monday, March 23, 2020 23:25 PM
पुष्कर से प्रस्थान करते इजराईली पर्यटक।

पुष्कर। देश में कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के बीच भारत भ्रमण पर आए इजराइली पर्यटकों को विशेष विमान से एयर लिफ्ट करने की तैयारी की जा रही है। इसके चलते सोमवार को पुष्कर से 117 इजराइली पर्यटक तीन अलग-अलग बसों में सवार होकर दिल्ली के लिए रवाना हो गए। खास बात यह रही कि पुष्कर से रवाना होने से पहले प्रशासन ने महिला-पुरुष पर्यटकों की स्क्रीनिंग कराई और उन्हें स्वास्थ्य परीक्षण की रिपोर्ट भी दी गई।

राज्यभर में 31 मार्च तक लगाए गए लॉकडाउन के चलते विदेशी पर्यटकों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा था। इजराइली पर्यटकों ने इस संबंध में दिल्ली स्थित दूतावास को जानकारी देते हुए मदद मांगी। इस पर इजराइली दूतावास ने भारत भ्रमण पर आए पर्यटकों को सुरक्षित इजराइल भिजवाने का निर्णय किया। इसके लिए दिल्ली से विशेष विमान की भी व्यवस्था की गई। उक्त विमान 26 मार्च को दिल्ली से इजराइल के लिए उड़ान भरेगा। दूतावास ने पुष्कर की अलग-अलग होटलों में ठहरे इजराइली पर्यटकों को दिल्ली बुलाया है। इसके लिए दूतावास की ओर से तीन लग्जरी बसों की व्यवस्था भी की गई।

सोमवार शाम को इजराइली पर्यटक होटलों से चैक आउट व सामान समेटकर पुष्कर स्थित इजराइलियों के धर्मस्थल खबाद हाउस पर एकत्रित हो गए। इसके चलते धर्मस्थल के बाहर पर्यटकों का जमघट लग गया। जहां चिकित्सा विभाग की टीमों ने पर्यटकों की स्क्रीनिंग की। कार्यपालक मजिस्ट्रेट व उपखंड अधिकारी ने बारी-बारी से 117 पर्यटकों की स्क्रीनिंग रिपोर्ट देखने के बाद ही उन्हें पुष्कर से दिल्ली के लिए जाने की अनुमति दी। 

पुष्कर में अभी भी है कई विदेशी 
पुष्कर में सोमवार दोपहर 12 बजे तक अलग-अलग देशों के करीब सवा पांच सौ सैलानी विभिन्न होटलों में ठहरे थे। इनमें से शाम को 117 इजराइली पर्यटक पुष्कर से विदा हो गए। ऐसे में अभी भी 400 से अधिक विदेशी नागरिक पुष्कर की होटलों में ही है और लॉकडाउन के चलते उन्हें भी परेशानी होगी।

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

छावनियों में सिविल एरिया समाप्त कर नगरीय प्रबंधन राज्य सरकार को सौंपने के लिए याचिका दायर

अजमेर जिले की नसीराबाद छावनी सहित देश की सभी 62 छावनियों में सिविल एरिया समाप्त कर उनका नगरीय प्रबंधन राज्य सरकारों को सौंपने के लिए सुप्रीम कोर्ट में जनहित याचिका दायर की गई है। नसीराबाद छावनी परिषद के पूर्व चैयरमैन अशोक कुमार जैन ने यह याचिका सुप्रीम कोर्ट के शिकायत पोर्टल के माध्यम से पंजीकृत कराया है।

02/06/2020

कोरोना महामारी के चलते आज ब्यावर में स्वैच्छिक बंद

कोरोना महामारी को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के रविवार को जनता कर्फ्यू से पहले ही शनिवार को ही ब्यावर स्वैछिक बंद रखने का निर्णय लिया गया। विभिन्न व्यापारिक संगठनों के पदाधिकारियों ने सर्वसम्मति से उक्त निर्णय लिया।

20/03/2020

AVVNL ने 2 महीने में पकड़े 35340 बिजली चोरी के मामले, लगाया 79 करोड़ रुपए से ज्यादा जुर्माना

अजमेर विद्युत वितरण निगम लिमिटेड द्वारा 2 महीने में 35 हजार से ज्यादा बिजली चोरी के मामले पकड़ कर 79 करोड़ रुपए से ज्यादा जुर्माना लगाया है। प्रबन्ध निदेशक वी एस भाटी ने बताया कि लॉकडाउन के पश्चात मात्र 2 माह में ही अजमेर डिस्कॉम द्वारा 35340 विद्युत चोरी के प्रकरण दर्ज किए गए, जिस पर 79.31 करोड़ रुपयों की राशि का निर्धारण किया गया।

23/07/2020

50 हजार की रिश्वत लेते कांस्टेबल गिरफ्तार

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो अजमेर की स्पेशल टीम ने बुधवार को डीडवाना में बड़ी कार्रवाई करते हुए 50 हजार की रिश्वत लेते एक कांस्टेबल को गिरफ्तार किया है।

27/02/2020

सजायाफ्ता बन्दियों और जेलकर्मियों का गठजोड़

अजमेर सेन्ट्रल जेल में कर्मचारियों और सजायाफ्ता बंदियों के गठजोड़ से पिछले लम्बे समय से बन्दियों से उगाही का खेल खेला जा रहा था। कुख्यात बन्दी सेवा शुल्क नहीं देने वाले बन्दी की जेल में बेरहमी से पिटाई तक करते थे। जिससे डर कर वह परिजन से उन्हें खुद पैसा दिलवाया करते थे

19/07/2019

NSUI ने पेट्रोल-डीजल के दामों में वृद्धि के खिलाफ किया प्रदर्शन, पुलिस से हुई तकरार

राष्ट्रीय छात्र संगठन (एनएसयूआई) ने पेट्रोल और डीजल के दामों में बढ़ोतरी के विरोध में केंद्र सरकार के खिलाफ रविवार को जमकर प्रदर्शन किया। अजमेर के सम्राट पृथ्वीराज चौहान राजकीय महाविद्यालय प्रवेश द्वार के बाहर छात्रों के समूह ने अपने-अपने स्कूटरों एवं मोटरसाइकिलों को प्रतीक स्वरूप साइकिल रिक्शों और बैलगाड़ी छकड़े पर रखकर खींचकर चलाया और विरोध प्रदर्शन किया।

28/06/2020

आंतरिक मूल्यांकन में फेल विद्यार्थियों को राहत, 9वीं-11वीं के स्टूडेंट का ऑनलाइन या ऑफलाइन टेस्ट लेकर अगली कक्षा में प्रमोट करने को कहा

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने 9वीं व 11वीं के उन विद्यार्थियों को राहत दी है,जो स्कूल के आंतरिक मूल्यांकन में फेल हो गए हैं। बोर्ड ने स्कूलों से कहा है कि वे ऐसे विद्यार्थियों का स्कूल स्तर पर ऑफलाइन या ऑनलाइन टेस्ट लें और इस प्रदर्शन के आधार पर अगली कक्षा में प्रमोट करें।

14/04/2020