Dainik Navajyoti Logo
Friday 17th of January 2020
 
झालावाड

सीएचसी में हेल्पर कर रहे फॉर्मासिस्ट का काम

Friday, August 30, 2019 01:30 AM
डग। अस्पताल में मरीजों की भीड़।

डग। डग सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र इन दिनों कागजों में कर्मचारियों की उपस्थिति से चल रहा है। वहीं मौसमी बीमारियों के प्रकोप के चलते अस्पताल परिसर इन दिनों मरीजों से अटा पड़ा हुआ है और डॉक्टरों की उपस्थिति भी कम है। जो डॉक्टर है वह भी छुट्टी, मेडीकल या मिटिंग में रहने के कारण मरीजों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। 

इसी के साथ आज शुक्रवार को दोपहर पूर्व वाली पारी में संवाददाता ने अस्पताल में देखा तो मरीजों से अस्पताल भरा हुआ था और पर्ची कटाने वालों की लम्बी कतारें लगी हुई थी तथा नि:शुल्क दवा केन्द्र पर डॉक्टर द्वारा लिखी गई पर्ची पर दवाईयां हेल्पर दे रहे थे। जिनकी शिक्षा इस योग्य ही नहीं और वह मरीज को दवाई दे रहा है।
 
नि:शुल्क दवा को देने के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पर फ ार्मासिस्ट की नियुक्ति भी की थी, परन्तु उक्त योजना के प्रारम्भ से लेकर आज तक कोई भी फ ार्मासिस्ट दवा केन्द्र पर नहीं बैठा। जबकि अस्पताल के रिकार्ड अनुसार यहां पर फ ार्मासिस्ट नियुक्त है तो आखिर अस्पताल प्रशासन की क्या कमी है, जो बिना फ ार्मासिस्ट के हेल्पर जो आरएमआरएस से संविदा में लगे कर्मियों से दिलवाई जा रही है।
 
जबकि देखने वाली बात यह है कि कोई भी मरीज बिना फ ार्मासिस्ट दवा काउन्टर से दवा नहीं ले सकता, परन्तु डग एक ऐसा अस्पताल है, जहां सब संभव है।
 
डॉक्टर के अभाव में मरीज ने तोड़ा दम
डग सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पर दोपहर बाद गांव उदयपुर निवासी रामलाल पिता मांगू मेघवाल 50 वर्ष की जब गांव में तबीयत खराब हुई तो वह घर की महिला के साथ डग सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र डग आया और अस्पताल आने पर ज्यादा तबियत खराब हुई तो साथ में आई महिला घबराने लगी। क्योंकि साथ में कोई पुरूष नहीं था और उक्त बिमार ने तड़पते हुए अस्पताल में दम तोड़ दिया।
 
जब अज्ञात व्यक्ति की सूचना पर अस्पताल पहुंचता है तो वहां पर कोई डॉक्टर मौजूद नहीं था, मात्र मेल नर्स उक्त मरीज को देख रहा था और बचाने की कोशिश कर रहा है। जबकि आज व्यवस्थार्थ भवानीमंडी का डॉक्टर यहां पर लगाया जो अपने कमरे से बाहर तक नहीं आया और साथ आई महिला ने रोना शुरू कर दिया। जिससे वहां पर मौजूद लोगों की भीड़ लग गई और उन्होने मृतक के घर पर दूरभाष से खबर दी। इस प्रकार के हाल डग अस्पताल के है जो भगवान भरोसे चल रहा है।
 
वहीं डग सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र चिकित्सा अधिकारी डॉ. रामअवतार देगड़ा ने कहा कि अभी तो बाहर हूं अस्पताल में दो फार्मासिस्ट लगे हुए है, जिसमें एक अस्पताल व एक आरबीएसके में और अस्पताल में कोई इमरजेन्सी आने पर डॉक्टर सूचना करने पर आ जाते है। यहां पर शिफ्ट के हिसाब से रहते है।  
 
डग ब्लॉक चिकित्सा अधिकारी डॉ. विकास जैन का कहना है कि अभी तो मिटिंग में हूं और डग अस्पताल में एक फार्मासिस्ट है, वह भी संविदा पर है व उसके पास स्टोर का चार्ज है।
यह भी पढ़ें:

सुरक्षा के मापदंडों पर खरा नहीं उतर रहा अध्ययन क्लासेज, नहीं ली एनओसी

झालावाड़ शहर में कई जगहों पर रिहायशी इलाकों में व्यवसायिक गतिविधियां संचालित हो रही हैं। साथ ही अग्निशमन विभाग की एनओसी को लेकर भी कई निजी संस्थान गंभीर नहीं है। ऐसा ही एक संस्थान है साकेत नगर कॉलोनी में संचालित कोचिंग संस्थान अध्ययन क्लासेज।

18/07/2019

अवैध खनन पर नहीं लग रही रोक

कोटा स्टोन के खनन वाले क्षेत्रों में अवैध रूप से बड़ी-बड़ी खनन गतिविधियों को अंजाम दे रहे है। जिनकी शिकायतें विभाग के पास लंबित पड़ी हैं और विभाग उन पर कोई भी प्रभावी कार्य करने के बदले शिकायतकर्ताओं को नए-नए बहाने बनाकर टाल रहे है।

09/06/2019

पत्थरों से भरा ट्रैक्टर जब्त, चालक गिरफ्तार

खानपुर क्षेत्र में अवैध खनन को लेकर वन विभाग की ओर से लगातार कार्रवाई जारी है। बुधवार को वन विभाग के रेंजर दीपक मालव ने पत्थरों से भरे एक ट्रैक्टर- ट्रॉली को जब्त कर चालक को गिरफ्तार कर लिया।

04/12/2019

महिला पर्यवेक्षक को आठ हजार की रिश्वत लेते दबोचा

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की टीम ने महिला एवं बाल विकास विभाग की महिला पर्यवेक्षक को बुधवार को 8000 रूपए की रिश्वत के साथ गिरफ्तार किया है। यह राशि पोषाहार के बिल के भुगतान के लिए कमीशन के रूप में लिए जाने की बात सामने आई है। आरोपित के मकान की तलाशी के दौरान 11 लाख 64 हजार 710 नगद तथा 10 लाख रुपए मूल्य का 385 ग्राम सोना भी बरामद हुआ है।

26/06/2019

दिनभर छाए रहे बादल, मावठ से गलन का हुआ अहसास

झालावाड़ जिले में अचानक मौसम पलटने से रविवार को ठंड का असर दिखाई दिया। वहीं कई जगहों पर ठंडी हवाओं के साथ मावठ भी हुई।

01/12/2019

ठेलों और अतिक्रमण से यातायात व्यवस्था बदहाल

कस्बे के मुख्य चौराहे सहित मुख्य बाजारों में आड़े तिरछे खड़े रहने वाले ठेलों, दुकानों के सामानों और वाहनों के कारण आए दिन बाजारों में जाम लगने से कस्बेवासियों, दुकानदारों, राहगीरों और वाहन चालकों को परेशानी का सामना करना पड़ता है।

30/05/2019

चिकित्सा संस्थानों पर बायोमेट्रिक उपस्थिति सुनिश्चित करें

जिला कलक्टर एवं अध्यक्ष जिला स्वास्थ्य समिति सिद्धार्थ सिहाग की अध्यक्षता में जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक मंगलवार कोे मिनी सचिवालय में आयोजित की गई।

18/06/2019