Dainik Navajyoti Logo
Friday 24th of September 2021
 
बूंदी

पावणों को तरसी बूंदी, कोरोना का दिख रहा असर

Saturday, March 06, 2021 00:55 AM
बूंदी। बूंदी महल और शहर का विहंगम दृश्य।

बूंदी। पर्यटन नगरी के नाम से प्रसिद्ध बूंदी शहर के पर्यटन स्थलों पर काफी समय से सन्नाटा पसरा हुआ है। पर्यटन स्थलों पर पर्यटकों की कमी अब तो सभी को खल रही है। जी हां, कोरोना के बाद से यहां पर ऐसा ही नजारा देखने को मिल रहा है।
     जानकारी के अनुसार शहर में रियासतकालीन सहित अन्य कई पर्यटन स्थल हैं। जहां पर्यटकों की जबरदस्त भीड़ लगी रहती थी। यहां की खूबसूरती को कैमरे में कैद करने की सैलानियों में होड़ लगी रहती थी। लेकिन कोरोना के आने के साथ ही सभी पर्यटक स्थलों पर अब कोई चहल पहल नजर नहीं आ रही है।
   पर्यटन विभाग के अनुसार बीते वर्ष जनवरी, फरवरी और मार्च में लॉक डाउन से पहले पर्यटक बूंदी में आए थे। इसके बाद इक्का दुक्का पर्यटक ही यहां आए। जिससे यहां काफी असर नजर आ रहा है।
 ठप हुआ पर्यटन व्यवसाय
   जानकारी के अनुसार विदेशी पर्यटकों के नहीं आने से यहां का पर्यटन व्यवसाय भी पूरी तरह से ठप हो गया है। पर्यटन व्यवसाय से जुड़े सभी लोग कई महीनों से आर्थिक तंगी का सामना कर रहे हैं। पर्यटकों से जुड़े सभी रोजगार ठप हो गए हैं। होटल व्यवसाय, गाइड, टैक्सी, रेस्टोरेंट, चाय की थड़ी सहित अन्य सभी व्यवसाय ठप हो गए हैं। यहां की होटलों में सन्नाटा पसरा हुआ है। व्यवसायी आर्थिक तंगी से जूझ रहे हैं।
 विदेशी फ्लाइट शुरू हो तो आए जान
    बूंदी के पर्यटन अधिकारी विवेक जोशी कहते हैं कि पर्यटन व्यवसाय वापस कब पटरी पर आएगा इस बारे में कुछ भी कहना आसान नहीं है। उन्होंने कहा कि विदेशी फ्लाइट के शुरू होने पर ही यहां का पर्यटन व्यवसाय जीवित हो सकेगा। बूंदी का पर्यटन विदेशी पर ही निर्भर है। विदेशी पर्यटक ही यहां ठहरता है। सबसे ज्यादा पर्यटन क्षेत्र ही प्रभावित हुआ है। यहां का रोजगार, इकोनॉमी प्रभावित हुई है।
 जिम्मेदार भी नहीं दे रहे ध्यान
  पर्यटन व्यवसाय से जुड़े लोगों को बजट में सरकार से काफी उम्मीदें थी। लेकिन राज्य बजट में जिले में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए कुछ भी खास नहंी मिला। बजट में डूबते पर्यटन व्यवसाय को जीवित करने के लिए कुछ नहीं किया गया। जिससे लोगों में निराशा पैदा हो गई।
-
 विदेशी फ्लाइट के शुरू होने पर ही यहां का पर्यटन व्यवसाय जीवित हो सकेगा। बूंदी का पर्यटन विदेशियों पर ही निर्भर है। विदेशी पर्यटक ही यहां ठहरता है। सबसे ज्यादा पर्यटन क्षेत्र प्रभावित हुआ है।
-विवेक जोशी, पर्यटन अधिकारी बूंदी
-
 गत सालों में बूंदी आए पर्यटकों का आंकड़ा
 वर्ष        देशी          विदेशी पर्यटक
2018    70452      16534
2019    70946       14610
2020    19022       4183
2021    1288         12

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

कोल्ड स्टोरेज में हुआ अमोनिया गैस का रिसाव, बड़ा हादसा टला

बूंदी रोड स्थित बड़गांव पेट्रोल पम्प के पास गुरुवार को सुबह एक कोल्ड स्टोरेज में अचानक से अमोनिया गैस रिसाव हो गया। जिससे वहां हडकम्प मच गया। जिसे समय रहते काबू करने से बड़ा हादसा टल गया। बूंदी जिला कलक्टर समेत अन्य अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर घटना स्थल का जायजा लिया और कार्रवाई की।

27/08/2020

मास्क लगाने और सोशल डिस्टेंस के लिए करें प्रेरित

यहां मत्स्य भगवान मंदिर परिसर में सरपंच संघ जिला बूंदी की बैठक जिलाध्यक्ष आनंदीलाल मीणा की अध्यक्षता में शनिवार को संपन्न हुई।

10/10/2020

एक ही परिवार के तीन सदस्यों की संदिग्ध मौत

क्षेत्र की ग्राम पंचायत सुमेरगंजमंडी में एक ही परिवार के तीन सदस्य पति, पत्नी एवं पुत्र की संदिग्ध अवस्था में मौत होने का मामला सामने आया है। घटना के बाद सूचना मिलने पर डिप्टी लाखेरी एवं एसपी बून्दी भी मौके पर पहुंचे और मामले की जानकारी ली।

30/04/2019

लाखों का बजट, फिर भी नहीं बदली तस्वीर

राष्टÑपिता महात्मा गांधी का कहना था कि असली भारत गांवों में बसता है। उनकी इसी सोच को लेकर गांवों के विकास के लिए कई सरकारी योजनाएं संचालित है लेकिन कई गांवों में योजनाओं को लेकर समय पर सही कार्य नहीं होने से गांवों की तस्वीर नहीं बदल रही। आगामी महीनों में पंचायतीराज के तहत चुनाव होने वाले है। ऐसे में ग्रामीणों को अपनी गांव की सरकार से कई आस है। गांवों के विकास को लेकर दैनिक नवज्योति टीम ने गांवों के हाल जाने।

12/12/2019

दिल्ली-मुंबई रेलवे लाइन पर छह घंटे बंद रहा ट्रेनों का संचालन

दिल्ली-मुंबई रेल लाइन पर इंद्रगढ़ सुमेरगंजमंडी रेलवे स्टेशन पर नए फुट ओवरब्रिज के निर्माण कार्य को लेकर शुक्रवार को 6 घंटे तक ट्रेनों का आवागमन बंद रहा। रेलवे के अधिकारिक सूत्रों के अनुसार सुमेरगंजमंडी रेलवे स्टेशन पर नए फुट ओवरब्रिज का निर्माण किया गया।

24/05/2019

असन्तुलित होकर रैलिंग से टकराई कार, छह जने घायल

देईखेड़ा थाना क्षेत्र में गैंता माखीदा के समीप शनिवार को चम्बल नदी पर बनी पुलिया पर एक कार असंतुलित होकर रैलिंग से जा टकराई। टक्कर इतनी भयंकर थी कि गाड़ी के परखच्चे उड़ गए। वहीं छह जने घायल हो गए।

27/02/2021

लिंगानुपात में सुधार के लिए चलेगा ‘बेटी जिंदाबाद अभियान’

बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजनान्तर्गत जिला स्तरीय टास्क फ ोर्स की बैठक शुक्रवार को जिला कलेक्ट्रेट सभागार में अतिरिक्त जिला कलक्टर एयू खान की अध्यक्षता में आयोजित हुई।

18/12/2020