Dainik Navajyoti Logo
Tuesday 16th of July 2019
खेल

जीत के करीब पहुंचकर भारत की हार, न्यूजीलैंड फाइनल में

Wednesday, July 10, 2019 15:10 PM
न्यूजीलैंड का विकेट गिरने के बाद मैदान पर जश्न मनाते भारतीय क्रिकेट टीम के खिलाड़ी

मैनचेस्टर। शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों की नाकामी के कारण भारत को आईसीसी विश्वकप के सांसों को रोक देने वाले पहले सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड के हाथों 18 रन की हार का सामना करना पड़ा और इसके साथ ही भारतीय टीम विश्वकप से बाहर हो गई। न्यूजीलैंड ने इस जीत के साथ लगातार दूसरी बार विश्वकप के फाइनल में जगह बना ली। भारत की हार के साथ ही करोड़ों भारतीयों का सपना एक झटके में टूट गया। वर्षा बाधित इस सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड ने 50 ओवर में आठ विकेट पर 239 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया और इसका पीछा करते हुए भारतीय टीम खराब शुरुआत से उबर नहीं पायी। रवींद्र जडेजा ने बेशक 77 और महेंद्र सिंह धोनी ने 50 रन बनाए और सातवें विकेट के लिए 116 रन की साझेदारी की लेकिन इनके अंतिम ओवरों में आउट होते ही भारत की उम्मीदें टूट गईं। भारत 49.3 ओवर में 221 रन ही बना सका।

भारत लगातार दूसरे विश्वकप में सेमीफाइनल में बाहर हुआ। न्यूजीलैंड ने इस जीत के साथ लगातार दूसरे विश्वकप के फाइनल में जगह बना ली। न्यूजीलैंड ने 2015 के विश्वकप में सेमीफाइनल में दक्षिण अफ्रीका को हराया था। न्यूजीलैंड का फाइनल में गत चैंपियन आॅस्ट्रेलिया और मेजबान इंग्लैंड के बीच दूसरे सेमीफाइनल से विजेता से 14 जुलाई को मुकाबला होगा। भारत के शीर्ष क्रम को झकझोरने वाले और मैच में 37 रन पर तीन विकेट लेने वाले तेज गेंदबाज मैट हेनरी को प्लेयर आॅफ द मैच का पुरस्कार मिला। टीम इंडिया लीग चरण में शीर्ष पर रही थी और इस दौरान उसका न्यूजीलैंड के साथ लीग मुकाबला बारिश से धुल गया था। लेकिन सेमीफाइनल में बारिश के कारण दो दिन तक चले मैच में न्यूजीलैंड ने भारत की चुनौती को काबू कर लिया।

भारत की हार का सबसे बड़ा कारण उसके शीर्ष क्रम की नाकामी रही। टूर्नामेंट में पांच शतक बनाने वाले रोहित शर्मा एक, कप्तान विराट कोहली एक और लोकेश राहुल एक रन बनाकर आउट हुए। रिषभ पंत ने 32 और हार्दिक पांड्या ने 32 रन बनाए और दोनों ही बल्लेबाज ऊंचे शॉट खेलने के चक्कर में अपने विकेट गंवा बैठे।

45 मिनट के खराब प्रदर्शन ने बाहर कर दिया : विराट
भारतीय कप्तान विराट कोहली ने आईसीसी विश्वकप से बाहर होने के बाद बुधवार को कहा कि न्यूजीलैंड के खिलाफ सेमीफाइनल में 45 मिनट के खराब प्रदर्शन ने टीम इंडिया को बाहर कर दिया। विराट ने मैच के बाद कहा कि यह देखकर दुख होता है कि हमने पूरे टूर्नामेंट में शानदार प्रदर्शन किया लेकिन सेमीफाइनल में 45 मिनट के खराब खेल ने हमें बाहर कर दिया। न्यूजीलैंड जीत का हकदार था और उसने हमें लगातार दबाव में रखा। कप्तान ने कहा कि मुझे लगता है कि हमारा शॉट चयन कहीं बेहतर हो सकता था। लेकिन मैं एक बार फिर कहूंगा जब नॉकआउट की बारी आती है तो मैच किसी के पक्ष में जा सकता है।

धोनी की आलोचना करना गलत : कपिल
भारतीय टीम के लीजेंड क्रिकेटर कपिल देव ने पूर्व कप्तान और विकेटकीपर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी का समर्थन करते हुए कहा है कि उनकी आलोचना करना गलत है। विश्वकप में धीमी पारी के लिए हो रही धोनी की आलोचना पर उन्होंने कहा कि धोनी की आलोचना करना उनके साथ नाइंसाफी है। ऐसा किसी भी बेहतरीन बल्लेबाज के साथ हो सकता है। सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि धोनी अच्छा खेल रहे हैं।

भारत ने बनाया पावरप्ले का न्यूनतम स्कोर
भारतीय टीम ने न्यूजीलैंड के खिलाफ आईसीसी विश्वकप के सेमीफाइनल मुकाबले में बुधवार को पावरप्ले में 10 ओवर में चार विकेट पर 24 रन बनाकर टूर्नामेंट में पावरप्ले का न्यूतनम स्कोर बनाया। वर्षा से बाधित सेमीफाइनल मुकाबले में लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत बेहद खराब रही और उसका शीर्ष क्रम पूरी तरह ध्वस्त हो गया। भारतीय टीम के तीन विकेट महज पांच रन के स्कोर पर गिर गए और पावरप्ले की अंतिम गेंद पर दिनेश कार्तिक भी अपना विकेट गंवा बैठे।