Dainik Navajyoti Logo
Monday 14th of October 2019
टोंक

दशहरे के जुलूस पर पथराव के बाद मालपुरा में अनिश्चितकालीन कर्फ्यू, कड़ी सुरक्षा में रावण दहन

Thursday, October 10, 2019 08:15 AM
कर्फ्यू के चलते बाजार में छाया सन्नाटा।

मालपुरा। शहर में दशहरे के जुलूस पर पथराव के बाद अनिश्चितकालीन कर्फ्यू लगा दिया गया है। इसके बाद शहर के सभी शिक्षण संस्थाएं बन्द कर दी गईं। सुरक्षा की दृष्टि से इन्टरनेट सेवाएं बन्द कर दी। बाजारों में दिनभर सन्नाटा पसरा रहा। इस बीच प्रशासन ने बुधवार तड़के कड़ी सुरक्षा में रावण के पुतले का दहन करवाया। मालपुरा शहर में मंगलवार को दशहरे पर निकले विजय जुलूस पर कुछ समाज विशेष के असामाजिक तत्वों द्वारा पथराव के बाद उपजे तनाव के बीच विधायक कन्हैयालाल चौधरी के नेतृत्व में आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर पुलिस थाने के बाहर मालपुरा-जयपुर मुख्य सड़क मार्ग पर धरना-प्रदर्शन शुरू हुआ।

रात दो बजे तक चला वार्ता का दौर
घटना के बाद अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक संजीव नाजरी, कलेक्टर केके शर्मा व पुलिस अधीक्षक आदर्श सिद्धु मालपुरा पहुंचे। बुधवार तड़के दो बजे तक वार्ताओं के कई दौर चले। इनमें डीआर रामचन्द्र गुर्जर, पार्षद रवि कुमार जैन, पूर्व पालिकाध्यक्ष राजकुमार जैन, योगेश गोवला आदि मौजूद थे। इस बीच पुलिस ने घटना में लिप्त एक नाबालिग को निरुद्ध किया। इसके बाद विधायक चौधरी ने बुधवार को तड़के 2 बजे के लगभग अपने समर्थकों के साथ धरना समाप्त कर दिया। इसी बीच धरने में मौजूद कुछ लोग बुधवार को पुन: विजय जुलूस निकालने पर अड़ गए। जिन्हें प्रशासन ने समझाकर धरना स्थल से हटाया। इसके बाद कस्बे में अनिश्चितकालीन कर्फ्यू लगा दिया गया। संभागीय आयुक्त लक्ष्मीनारायण मीणा ने पुलिस थाने में प्रशासनिक और पुलिस अधिकारियों की मीटिंग ली। देर शाम तक प्रशासन की ओर से कर्फ्यू में ढील नहीं दी गई।  

तड़के चार बजे किया रावण दहन
प्रशासनिक अधिकारियों की समझाइश के बाद तड़के 4 बजे के मेला मैदान में कड़ी निगरानी में रावण दहन करवा गया। बुधवार को कस्बे में शांति बनी रही। अचानक लगे कर्फ्यू से लोग सकते में आ गए। शहरवासी जब सुबह नींद से जगे तो उन्हें इसकी जानकारी लगी। कर्फ्यू के बाद शहर की सड़कों व बाजारों में सन्नाटा पसर गया। जगह-जगह सुरक्षा बल के जवान व अधिकारी दिखाई दिए। कलेक्टर केके शर्मा के हवाले से उपखण्ड अधिकारी आर्य ने बताया कि पथराव की घटना में लिप्त असामाजिक तत्वों की पहचान कर ली गई है, जिनकी गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं।