Dainik Navajyoti Logo
Friday 19th of July 2019
राजस्थान

जयपुर निगम अब आवारा कुत्तों की एप से करेगा निगरानी

Thursday, May 16, 2019 11:05 AM

जयपुर। शहर में आवारा कुत्तों द्वारा लोगों को काटने की बढ़ती घटनाओं को रोकने के साथ ही आमजन को राहत प्रदान करने और ठेकेदार पर शिकंजा कसने के लिए नगर निगम प्रशासन से पूरी तैयारी कर ली है। अब निगम प्रशासन एक मोबाइल एप तैयार कर रहा है। इससे ही आवारा कुत्तों की मॉनिटरिंग की जाएगी। जानकारी के अनुसार निगम एक ऐसा मोबाइल एप तैयार कर रहा है, जिसके माध्यम से कुत्तों को पकड़ने, उनकी बधियाकरण करने, पकड़ने के बाद वापस उसी स्थान पर छोड़ने, पकड़ने की लोकेशन, उनकी फोटो आदि की जानकारी इस एप से मिलती रहेगी। इसके साथ ही कुत्तों को पकड़ने वाली गाड़ियों में जेपीएस भी लगाया जाएगा।

स्वान घर का लिया जायजा
जयसिंहपुरा खोर में नगर निगम की ओर से बने स्वान घर का बुधवार को अतिरिक्त आयुक्त अरुण गर्ग, उपायुक्त पशु प्रबंधक आर.के मेहता और आमेर जोन उपायुक्त करणी सिंह ने जायजा लिया। इस दौरान अनियमितताएं मिलने पर व्यवस्थाओं को सुधारने के लिए स्वान घर में बाड़े बढ़ाने, खाने-पीने की व्यवस्था करने सहित अन्य निर्देश दिए गए। वहीं कुत्तों को पकड़ने के लिए संबंधित ठेकेदार का बकाया 21 लाख रुपए का भुगातन कर दिया गया है। इसके साथ यह ठेका 31 मई को समाप्त हो रहा है। ऐसे में उपायुक्त पशु प्रबंधक ने नये ठेके के लिए फाइल भी चलाई है। कुत्तों के काटने से आमजन खौफजदा है। नगर निगम के कॉलसेंटर में रोजाना एक दर्जन से अधिक शिकायत दर्ज हो रही है। बुधवार को मानसरोवर, मालवीय नगर, झोटवाड़ा सहित अन्य जगहों पर आवारा कुत्तों को पकड़कर जयसिंहपुरा खोर स्थित श्वान घर भेजा गया।