Dainik Navajyoti Logo
Monday 14th of October 2019
जयपुर

सोडाला तिराहे ले लेकर श्याम नगर सब्जीमंडी तक चोरी, अंधेरे और तेज रफ्तार से परेशान हैं लोग

Tuesday, September 24, 2019 11:05 AM
सोडाला तिराहे पर आए दिन हादसे होते हैं

जयपुर। सोडाला चौराहा हादसों का चौराहा बन चुका है। दुकानदारों के अनुसार यहां रेड लाइट के बावजूद वाहन इतनी तेज रफ्तार में दौड़ते है कि जिंदगियों की भी परवाह नहीं करते हैं। इनको रोकने के लिए ट्रैफिक पुलिसकर्मी भी नदारद दिखाई दिए। लोगों ने बताया कि इस चौराहे को क्रॉस करने में डर लगता है।

सोडाला से लेकर श्याम नगर सब्जीमंडी तिराहे तक दैनिक नवज्योति टीम ने जांच की तो बहुत बुरे हाल मिले। श्याम नगर सब्जीमंडी तिराहे पर एक तेज रफ्तार सरकारी बस व कार की भिड़ंत होते होते रह गई। इसके बाद वहां पर लोगों का जमावड़ा हो गया। यातायातकर्मियों ने चालक को रफ्तार में चलने की हिदायत दी तब मामला शांत हुआ। ट्रैफिक का सुबह-शाम इतना दबाव यहां पर रहता है कि हाथ देने पर भी लोग वाहनों को साइड से तेजी से निकालकर ले जाते हैं। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार उन्होंने अपनी आंखों से रफ्तार के आगे कई बार सांसे थमते हुए देखी है। मगर कुछ दिन बाद फिर वही हाल हो जाता है। ट्रैफिक पुलिसकर्मी चौपहिया वाहनों को रोकते नहीं है। दुपहिया वाहनों पर अपनी कसर निकालते हैं। इससे यहां के लोगों में गुस्सा है। इस तरह का दोहरा व्यवहार करना ठीक नहीं है। ट्रैफिक के कायदे कानून महिला हो या पुरुष सभी के लिए समानरूप से लागू होते हैं।

रफ्तार से जिंदगी को खतरा है इसलिए दोपहिया हो या चौपहिया कार्रवाई दोनों पर होनी चाहिए। सबसे बड़ी समस्या यहां पर आए चोरियों की है। व्यापारियों का कहना है चोरी की घटनाओं ने नाक में दम कर रखा है। पुलिस के आला अधिकारियों को हमने इस बारे में अवगत कराया है जिसकी वजह से कुछ कैमरे और दो नाइट गश्त के वाहन उन्होंने उपलब्ध कराए है। इसके बावजूद आए दिन किसी ना किसी दुकान का ताला टूट रहा है। त्यौहार का सीजन शुरु होने वाला है इस तरह चोरियां होना अच्छी बात नहीं है।

एलिवेटेड पुलिया पर स्पीडब्रेकर
अजमेर रोड से श्याम नगर सब्जीमंडी तिराहे पर उतरने वाली एलिवेटेड पुलिस से आने वाले वाहनों की रफ्तार इतनी तेज होती है कि कोई भूलकर सड़क के उस पार नहीं जा सकता है। इस पुलिया के अंतिम उतार पर एक स्पीड ब्रेकर होना अत्यंत आवश्यक है ताकि लोग स्पीड धीमी करके उतरे और रोड क्रॉस करके जाने वालों को खतरा कम हो। शाम के वक्त भीड़ की वजह से इस तिराहे पर लग्जरी गाड़ियों का भारी जाम हो जाता है।

पुलिया के साइड में हो गए कब्जे, जगह-जगह अवैध ठेले
इस पुलिया के साइड में ठेले लगाने वालों ने मुख्य सड़क पर ही ठेले खड़े कर लिए है। प्राइवेट वाहन कर दिए जाते हैं इससे रोड़ पर चलने वाले वाहनों को दिक्कत होती है। इनको रोकने टोकने वाला कोई नहीं है। मुख्य सड़क पर इस तरह से कब्जे होंगे तो एक्सीडेंट ज्यादा होंगे। जब यहां पर पार्किंग है ही नहीं तो गाड़िया खड़ा करने का क्या मतलब है वो भी चलती फिरती रोड पर खड़ा करने से तो ट्रैफिक को निकलने में परेशानी होगी। मगर लोग सुनते नहीं है। अजमेर रोड से श्याम नगर सब्जीमंडी तिराहे तक कई जगह अवैध ठेले खड़े रहने से आए दिन जाम लगता रहता है। इन ठेलों पर कोई कारवाई भी नहीं होती हैं। ठेलों की वजह से सड़के छोटी हो जाती है और वाहनों के साथ पैदल यात्रियों को निकलने में परेशानी का सामना करना पड़ता हैं।

खुले में जाते हैं शौच
न्यू सांगानेर तिराहे पर पुलिया के नीचे लोग खुले में शौच जाते हैं इससे गंदगी होती है। बीमारियां फैलती है सो अलग मगर ध्यान कौन दे। प्रशासन अगर यहां पर सुलभ शौचालय लगवाता तो लोगों को खुले में शौच नहीं जाना पड़ता। आस-पास के दुकानदारों का कहना है कई बार प्रशासन को इस बारे में अवगत कराया है यहां सुलभ शौचालय की संख्या बढ़ानी चाहिए ताकि लोग टॉयलेटस का प्रयोग करें मगर कुछ नहीं हुआ। इसके साथ ही पुलिया के नीचे के ग्रीनरी वाले हिस्से के बीच में बन रही जगहों में से डिवाइडर ना होने के बावजूद लोग वाहन लेकर बीच रोड़ पर अचानक आ जाते हैं जिससे एक्सीडेंट होने का खतरा रहता है।

केवल नाम की स्मार्ट सिटी, मौके पर हालात कुछ और
स्मार्ट सिटी की बातें तब अधूरी सी लगती है, जब केवल नाम की स्मार्ट सिटी और मौके पर हालात कुछ और कहानी बयां करते हैं। कुछ ऐसा ही देखने को मिलता है सोडाला चौराहे से आगे श्याम नगर, अजमेर रोड की ओर जाने वाले रूट पर। राहगीर मुश्किल भरी डगर पर अपने वाहन चलाने को मजबूर है। स्थिति ऐसी है कि सड़क पर खड्डों से बचते हुए मंजिल तक पहुंचना पड़ता है। लोग सड़कों के किनारे ही अपने चौपहिया और दोपहिया वाहन खड़े कर देते हैं, जिससे अन्य वाहन चालकों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। कई जगह ठेले वालों ने सड़कों के किनारे ही कब्जा जमाया हुआ है। अजमेर रोड स्थित श्याम नगर सब्जी मण्डी से पहले लाइटों के बॉक्स खुले मिले, जो किसी हादसे को न्यौता देते दिख रहे हैं।

प्राइवेट गाडियों का जमावड़ा बनी समस्या
अजमेर रोड से श्याम नगर सब्जीमंडी तिराहे के तक जगह-जगह प्राइवेट गाडियों की पार्किंग की वजह से आमजन को परेशानी उठानी पड़ रहीं हैं। जगह-जगह पर जीप खड़ी रहने के कारण जाम की स्थिति हमेशा बनी रहती हैं। अवैध पार्किंग की वजह से सड़क सकरी हो जाती हैं, जिससे समय-समय पर जाम लग जाता है। इसके निदान के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठाया जा रहा हैं। स्थानीय लोगों ने बताया कि ये गाडियां रोज यहां पर खड़ी होती है और इन गाडियों को देखकर अन्य वाहन भी यहां पर पार्क होने लग जाते हैं। शाम को हालत बद से बदतर हो जाती है और स्थानीय लोगों की चाहत है कि इसका समाधान जल्द से जल्द होना चाहिए।

टंकियों से फैलता पानी, सुध नहीं लेता कोई
सोड़ाला चौराहा स्थित फुटल्याबाग कॉलोनी में बोरिंग का पानी टंकियों में से लगभग दो घंटे तक फैलता है और इसकी शिकायत करने के बावजूद इसका समाधान नहीं होता है। जहां एक ओर सोड़ाला की कई कॉलोनियों में पानी की बहुत समस्या है। वहीं एक यहां पानी का इतना दुरूपयोग करना कितना गलत है। स्थानीय लोगों ने बताया कि हम कई बार शिकायत कर चुके है परंतु इसका समाधान अब तक नहीं हो पाया हैं।

गुजारिश है धीमी रफ्तार में वाहन चलाए
सोडाला चौराहे पर ट्रैफिककर्मियों को नियुक्त करना जरूरी है सुबह-शाम ट्रैफिक बहुत रहता है यहां। एक बार तो मेरी आंखों के सामने भारी वाहन सुबह के वक्त एक जिंदगी लील गया। हम कुछ नहीं कर पाए, बस सहम कर चुपचाप बैठ गए। रफ्तार वाले चौराहे पर स्पीड कम करने के बजाय लोग तेजी से वाहन निकालकर ले जाते हैं। कुछ महीनों पर एक ट्रक के नीचे मैंने दुपहिया वाहन चालक को लिपटकर जाते हुए देखा है। वाहन चालकों से गुजारिश करता हूं कि धीमी रफ्तार में ही वाहन चलाए।

- सत्यनारायण शर्मा, वरिष्ठ नागरिक

रफ्तार पर लगे लगाम, वाहनों को मिले निकलने की जगह
चोरी की घटनाएं पिछले कुछ महीनों में यहां इतनी हुई है कि उनमें से एक का भी खुलासा पुलिस अभी तक नहीं कर पाई है। एसपी से लेकर उच्च स्तर तक हमने शिकायत की मगर चोरियां रुक नहीं रहीं। आए दिन किसी दुकान का ताला टूट रहा है और गल्ले से माल साफ हो रहा है। इसके साथ ही श्याम नगर सब्जी मंडी तिराहे पर शाम को बैरीकेड लगाकर बंद कर दिया जाता है इससे वाहनों को यू टर्न की जगह नहीं मिलती है इससे वाहन डायवर्ट होकर न्यू सांगानेर रोड पर आते हैं इससे यहां जाम लग जाता है। इसी चौराहे पर मुड़ते ही सालों से ट्रांसफॉर्मर खुला पड़ा है। पहले एक बार यह फट चुका है मगर प्रशासन इसको हटाने के लिए कोई कदम नहीं उठाता। साथ ही यहां पर जो रोड लाइट लगी है उनकी लम्बाई इतनी है कि प्रकाश सड़क पर पहुंचता नहीं है इससे रात में एक्सीडेंट होते हैं।
- पवन कुमार, उपाध्यक्ष, न्यू सांगानेर व्यापार मंडल

सताता रहता है आग लगने की डर
श्याम नगर सब्जी मंडी में बिजली की मुख्य समस्या है। मंडी में जनरेटर लगाकर बिजली की व्यवस्था करनी पड़ती है। इसके अतिरिक्त यहां साफ-सफाई की प्रॉपर व्यवस्था नहीं है। बल्ली-फंटो पर कपड़े आदि का तिरपाल लगाना पड़ता है। जिससे आग लगने की डर सताता रहता है। इसके लिए कई बार सरकार को यहां टीन शेड की लगवाने की बात से अवगत कराया जा चुका है, लेकिन अभी तक कोई व्यवस्था नहीं हो पाई है। सन 2000 के आसपास हमें यहां बसाया गया था।
- मोहन जयसवाल, दुकानदार

जूझना पड़ता है ट्रैफिक की समस्या से
सोडाला तिराहे से अजमेर रोड की ओर जाने वाले रूट में हमेशा ट्रैफिक की समस्या से जूझना पड़ता है। आगे के चौराहे पर भी यही स्थित देखने को मिलती है। सुबह और शाम के समय यह स्थित ज्यादा खराब रहती है। इसके अतिरिक्त दुकानों के आसपास कई जगह कचरे का ढ़ेर पड़ा रहता है। निगम वालों को कई बार इस समस्या से अवगत कराया जा चुका है, लेकिन स्थिति जस की तस बनी रहती है। साथ ही टूटी-फूटी सड़कों पर वाहन चलाना किसी चुनौती से कम नहीं है। पुरानी चूंगी से आगे ट्रैफिक खराब रहता है। - संजय अरोड़ा, शॉप ओनर

अच्छी नहीं है सड़कों की स्थिति

मेरा रोज इस रूट से आना जाना लगा रहता है। सड़कों की स्थिति अच्छी नहीं है। साथ ही ट्रैफिक की समस्या से भी सामना करना पड़ता है। कई जगह अतिक्रमण के कारण सड़कों पर गाड़ी चलाना मुश्किल हो रखा है। शाम के समय ज्यादा समस्या होती है। लोग अपने वाहन सड़क किनारे ही खड़े कर देते हैं। जिससे अन्य वाहन चालकों को परेशानी होती है। - प्रशांत डोभाल, राहगीर

मंदिर के बगल में कचरे का ढेर
सोडाला स्थित फुटल्याबाग कॉलोनी में एक दुकानदार ने बताया कि यहां पर अवैध पार्किंग की आड़ में लोग कचरा फेंक कर चले जाते हैं। पार्किंग, कचरा, सहित कई अन्य समस्याएं हैं जिसका हम उचित समाधान चाहते हैं। गंदगी के कारण तरह-तरह की बीमारी होने का खतरा है और यहां पर आए दिन चोरियां आम बात हो गई है। - विमल शर्मा, दुकानदार

हमेशा बना रहता है बीमारी का खतरा
फुटल्याबाग कॉलोनी में पार्किंग की आड़ में लोग कचरा फेंक जाते है, गंदगी की वजह से तरह-तरह के मच्छर पैदा हो जाते है और बीमारी का खतरा हमेशा बना रहता है। पानी बहता रहता है। इसकी शिकायत करने के बावजूद समाधान नहीं हुआ। चोरी की घटनाओं से भी आमजन बहुत परेशान है। चोरी की घटनाएं बढ़ती ही जा रही है। - स्थानीय निवासी, बजरंग यादव