Dainik Navajyoti Logo
Tuesday 24th of September 2019
जयपुर

डॉ. किरोड़ी ने किया गंगापोल का दौरा, उपद्रवियों की तुरंत गिरफ्तारी की मांग

Monday, August 19, 2019 10:30 AM
लोगों से बात करते हुए किरोड़ी लाल मीणा।

जयपुर। राज्यसभा सांसद डॉ. किरोड़ी लाल मीणा रविवार को ईदगाह में पिछले दिनों बिगड़े साम्प्रदायिक तनाव के इलाके में पहुंचे। यहां उन्होंने गंगापोल, मंडी खटीकान, श्यामपुरी सहित आसपास के इलाको में जाकर लोगों से बातचीत की। वे दोनों पक्षों के लोगों से मिले और घटना की जानकारी ली। उन्होंने कहा है कि यहां दहशत का माहौल है, यहां की जनता से मैं शांति की अपील करता हूं। सभी भाईचारा बनाए रखें। दोनों पक्षों के पीड़ित लोगों से भी मिला हूं। उन्हें न्याय मिलना चाहिए। प्रशासन को उनकी सुध सही समय पर लेनी चाहिए। उन उपद्रवियों को तुरंत पकड़ कर सजा दिलानी चाहिए, जिन्होंने यहां का माहौल खराब किया है।

तोड़फोड़ करने वाले दो लोग और गिरफ्तार
गलता गेट, रामगंज और सुभाष चौक थाना इलाके में असामाजिक तत्वों की करतूतों से फैली अशांति अब शांति का रूप लेने लगी है। पुलिस आयुक्त आनंद श्रीवास्तव और एडिशनल कमिश्नर अजय पाल लाम्बा की मॉनिटरिंग में लगातार इलाके में मीटिंग ली जा रही हैं। अधिकारियों ने रविवार को भी गंगापोल, चार दरवाजा, कोठी कोलियान, ईदगाह, रावलजी का बाजार और वन विहार में मीटिंग की। इन जगहों पर हुई मीटिंग में दोनों समुदाय के सैकड़ों लोगों ने भाग लिया और इलाके में शांति बनाए रखने में सहयोग करने की बात कही। तेजी से बन रही शांति व्यवस्था के बीच में पुलिस की तोड़फोड़ करने वालों के खिलाफ कार्रवाई लगातार जारी है।


पुलिस ने रविवार को दो ऐसे लोगों को गिरफ्तार किया, जिन्होंने उपद्रव के दौरान तोड़फोड़ की थी। इसके अलावा पुलिस ने बढ़ती शांति व्यवस्था को देखते हुए 50 प्रतिशत जाब्ता कम कर दिया है। अभी तक पुलिस इस प्रकरण में साम्प्रदायिक सद्भाव बिगाड़ने में शामिल होकर पथराव और तोड़फोड़ करने वाले 25 लोगों को विभिन्न मुकदमों में गिरफ्तार कर चुकी है। पुलिस टीमें क्षेत्र में पिछले दिनों उपजे तनाव के बाद स्थिति को सामान्य बनाने की दिशा में सघन गश्त एवं निगरानी कर रही है। इन्टरनेट सेवाओं की बहाली के साथ माहौल सामान्य होने लगा है, लेकिन ऐहतियातन धारा 144 स्थिति पूर्णतया सामान्य होने तक लागू रहेगी। वहीं पुलिस उपद्रव फैलाने में चिन्हित किए गए 307 लोगों के खिलाफ लगातार निगरानी रख रही है।