Dainik Navajyoti Logo
Saturday 17th of August 2019
जयपुर

जयपुर: प्रेमिका को दोस्त को सौंपकर चला गया, दुष्कर्म के बाद कर दी हत्या

Wednesday, May 15, 2019 10:00 AM
पुलिस गिरफ्त में आरोपी

जयपुर। कानोता थाना पुलिस ने मंगलवार को युवती के साथ दुष्कर्म कर उसकी हत्या करने के मामले में दो दोस्तों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस दोनों से पूछताछ कर रही है। पुलिस उपायुक्त पूर्व डॉ. राहुल जैन ने बताया कि 28 दिसम्बर 2018 को एक व्यक्ति ने रिपोर्ट दी कि मेरी 20 वर्षीय बेटी की शादी वर्ष 2014 में राकेश नाम के युवक से हुई थी।

वह ससुराल नहीं जाती थी और हमारे पास ही रहकर पढ़ाई कर रही थी। 25 दिसम्बर को हम सब खाना खा कर सो गए थे। मेरी बेटी 10 बजे तक घर पर ही पढ़ाई कर रही थी। उसके बाद रात को वह बिना बताए कहीं चली गई, जिसे काफी तलाश किया लेकिन उसका कोई सुराग नहीं लगा। 28 दिसम्बर को उसका शव मीणा के बाढ़ जंगल में मिला। गिरफ्तार गिर्राज उर्फ फौजी (34) पुत्र कालूराम मीणा निवासी नौनपुरा जमवारामढ़ और कालूराम (20) पुत्र रामनारायण मीणा निवासी पापड़ जमवारामगढ़ है। मुल्जिम गिर्राज मीणा के खिलाफ पूर्व में भी थाना जमवारामगढ़ में लूट व अवैध तस्करी के प्रकरण दर्ज हैं। यह कानोता के टॉप 10 वांछित अपराधियों की सूची में भी शामिल है। आरोपी गिर्राज मीणा सीआरपीएफ में कांस्टेबल के पद पर कार्यरत रहा था जो वर्ष 2010 में नौकरी छोड़कर आ गया था।

मिलने के बहाने बुलाया
पुलिस टीम ने जानकारी जुटाई तो गिर्राज और कालूराम मीणा का नाम सामने आया। इस पर पुलिस ने दोनों को पकड़कर पूछताछ की तो सामने आया कि मृतका का कालूराम मीणा से करीब दो-तीन माह से प्रेम प्रंसग चल रहा था। इस बात का पता कालूराम के दोस्त गिर्राज को चल गया। गिर्राज ने कहा कि उस युवती से मेरी भी दोस्ती करा दें। इसके लिए 25 दिसम्बर को दिन में कालूराम व उसकी प्रेमिका में बातचीत हुई। कालूराम ने 25 दिसम्बर को अपनी प्रेमिका को उसके घर के पास ही राशन डीलर की दुकान पर रात करीब 10-11 बजे फोन पर बात कर मिलने के लिए बुलाया। कालू मीणा व गिर्राज मीणा दोनों कालू की बाइक पर सवार होकर डीलर की दुकान के पास पहुंच गए। यहां से युवती को अपने साथ बाइक पर बैठा लिया और कालू की डीजे की दुकान खटीकों की ढाणी नौनपुरा लेकर आ गए, जहां पर दोनों युवती को कालू की दुकान के अंदर ले गए।


दुकान के अंदर बंद करके चला गया
कालू मीणा अपनी प्रेमिका को गिर्राज मीणा से दोस्ती करने व आपस में बातचीत करने के लिए दुकान का शटर बंद कर अपने दोस्त छोटू योगी के घर जाकर सो गया। इसके बाद गिर्राज ने युवती के साथ दुष्कर्म किया। जब उसने विरोध किया तो गिर्राज ने उसकी हत्या कर दी। उसके बाद शव को खुद की थार जीप में डालकर मीणा के बाढ़ जंगल में डालकर फरार हो गया व कालू मीणा ने सुबह दुकान के अंदर साक्ष्यों को मिटाने के लिए दुकान को धो दिया। पुलिस टीम ने मुख्य अभियुक्त गिर्राज मीणा को दतवास जिला टोंक और अभियुक्त कालू को आमा मोड़ नायला से 13 मई को पकड़ लिया।