Dainik Navajyoti Logo
Thursday 19th of September 2019
खास खबरें

एशिया के सबसे बड़े कच्चे बांध मोरेल पर चली 9 इंच चादर, देखने उमड़ी भीड़

Monday, August 19, 2019 11:55 AM
मोरेल बांध को देखने उमड़े सैलानी।

लालसोट। एशिया के सबसे बड़े कच्चे बांधों में माने जाने वाले मोरेल बांध में आखिरकार रविवार की देर रात पूरा भरने के साथ ही इस पर नौ इंच की चादर चल रही है। बांध पर चादर चलने की खबर लगते ही लालसोट सहित सवाईमाधोपुर, टोंक एवं दौसा जिले से काफी संख्या में लोग बांध पर पानी देखने के लिए पहुंचना शुरू हो गए, जो देर शाम तक जारी रहा। इस दौरान बांध पर भीड़ को संभलना भी पुलिस के लिए मुश्किल हो गया। भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस द्वारा बगडी मेगा हाईवे पर बेरीकेड्स लगाने पड़े। पाल पर कई बार वाहनों के जाम के हालात पैदा हो गए एवं बांध पर बनी छतरी पर भीड़ पहुंचती रही। लोग वेस्ट वेयर में नहाकर पानी का पूरा आनन्द लेने में जुटे नजर आए। उल्लेखनीय है कि मोरेल बांध पर 1998 में चादर चली थी तथा उसके बाद 2014 में 26 फीट पानी की आवक हुई थी। इस बीच बांध में पानी की आवक काफी कम बनी रही। इस तरह 21 वर्ष बाद मोरेल बांध पूरा भरने के बाद चादर चलने से क्षेत्र के किसानों सहित लोगों में काफी खुशी का माहौल बना नजर आया।

1981 में टूट गया था बांध
मोरेल बांध 38 वर्ष पूर्व 1981 में आई बाढ़ के दौरान टूट गया था। तब बगडी, कल्याणपुरा, कानलोदा, देवलदा, सुन्दरपुर सहित कई गांवों में बांध का पानी घुस गया था। ग्रामीणों में आज भी बांध के टूटने की यादें ताजा है।