Dainik Navajyoti Logo
Tuesday 25th of June 2019
शिक्षा जगत

सवाई मानसिंह स्कूल और नीरजा मोदी स्कूल का बेहतरीन प्रदर्शन

Saturday, April 13, 2019 10:55 AM

अजमेर। मेयो कॉलेज गर्ल्स स्कूल अजमेर में दो दिवसीय वर्ल्ड स्कॉलर्स कप का क्षेत्रीय चरण शुक्रवार को सम्पन्न हुआ। इसमें देश के ख्यातिनाम स्कूलों के करीब चार सौ विद्यार्थियों के बीच वादविवाद, क्विज एवं रचनात्मक लेखन प्रतियोगिता में जमकर मुकाबला हुआ। प्रतियोगिता में कनिष्ठ वर्ग में जयपुर की सवाई मानसिंह स्कूल और वरिष्ठ वर्ग में नीरजा मोदी स्कूल अव्वल रही। इधर, मेयो गर्ल्स ने भी विशिष्ट स्थान प्राप्त करते हुए प्रतियोगिता के अगले चरण में प्रवेश किया। अब ये स्कूलें अगले चरण में देश का प्रतिनिधित्व करेंगी। आज अंतिम दिन समापन समारोह में सफल प्रतिभागियों को स्वर्ण, रजत पदक सहित विभिन्न ट्रॉफियां देकर सम्मानित किया गया। गुरुवार से यहां ये प्रतियोगिताएं शुरू हुई थीं। जिसमें विद्यार्थियों ने अपनी प्रतिभा का जमकर प्रदर्शन करते हुए निर्णायकों को आकर्षित किया।

क्रवार को अंतिम चरण की प्रतियोगिताओं के बाद सायं समापन समारोह आयोजित किया गया। जिसमें मेयो गर्ल्स प्रिंसीपल कांचन खांडके, वर्ल्ड स्कोलरर्स कप के सह समन्वयक भारत के विशाल वर्मा एवं दीपांकर अरोड़ा तथा विदेश के डेनियल बडीर्चेव्स्की, टाम ब्राजी, जेकलीन खोर एवं टेरान क्राप्ट सहित वरिष्ठ शिक्षिकाओं ने मेधावी विद्यार्थियों को पदक एवं ट्रॉफियां देकर सम्मानित किया। साथ ही प्रत्येक प्रतिभागियों को ‘ऐल्पेका’ नामक स्मृति चिन्ह प्रदान किया गया।

वर्ल्ड स्कॉलर्स कप के दूसरे चरण में
इस मौके पर प्रिंसीपल खाण्डके ने सह समन्वयकों से आशा की कि भविष्य में भी इसी प्रकार के आयोजन होते रहेंगे। जो ना केवल विद्यार्थियों में रचनात्मक विचारों के विकास की दिशा में एक सफल प्रयास होगा बल्कि युवाओं को वैश्विक समुदाय से जोड़ने में मील का पत्थर साबित होगा। उल्लेखनीय है कि प्रतियोगिता स्मिता चौधरी एवं उनकी टीम के सहयोग से सुचारू रूप से सम्पन्न हुई।

दर्श का बेहतरीन प्रदर्शन
प्रतियोगिता में विशेष बात यह रही कि छोटी कक्षाओं के विद्यार्थियों ने अपनी उम्र से कहीं अधिक योग्यता का परिचय और प्रदर्शन करते हुए विभिन्न पदक और ट्रॉफियां जीतीं, जो इस प्रतियोगिता की सबसे बड़ी उपलब्धि रही। इसमें नीरजा मोदी स्कूल की कनिष्ठ वर्ग टीम के दर्श चौधरी का नाम शामिल रहा। जिन्होंने अभूतपूर्व योग्यता का परिचय देते हुए टीम डिबेट, चैलेंज सब्जेक्ट आदि में स्वर्ण पदक के साथ ही ट्रॉफी जीती।

इन स्कूलों ने लिया था भाग
प्रतियोगिता में आयोजक मेयो गर्ल्स के साथ ही मेयो कॉलेज, जयपुर का जयश्री पेरीवाल इंटरनेशनल स्कूल, नीरजा मोदी व सवाई मानसिंह स्कूल तथा इंदौर का एमरल्ड हाइट्स स्कूल के विद्यार्थियों ने भाग लिया। इस वर्ष प्रतियोगिता की थीम ‘दी वर्ल्ड आॅन दी मार्जिन’ है। यह प्रतियोगिता विश्व के 60 देशों में आयोजित की जाती है। उल्लेखनीय है कि प्रदेश में यह पहला अवसर है कि जब मेयो गर्ल्स को इस आयोजन का गौरव प्राप्त हुआ।

अगला चरण इन देशों में होगा
आयोजकों के अनुसार इस चरण में सफल रहे विद्यार्थी अब अगले चरण की प्रतियोगिता में भाग लेंगे। जो बींजिग (चीन), अस्ताना (कजाकिस्तान), मनीला (फिलिपाइंस), डरबन (साउथ अफ्रीका) सिडनी (आस्ट्रेलिया) व दी हैग (एमर्सटडम) में होगा।

यह है वर्ल्ड स्कॉलरर्स कप
वर्ल्ड स्कोलरर्स कप मूल रूप से एक अंतरराष्ट्रीय स्तर की साहित्यिक प्रतियोगिता है। जो तीन चरणों में होती है। पहला क्षेत्रीय चरण व दूसरा वैश्विक चरण होता है। वैश्विक चरण के चयनित प्रतिभागी अंतिम चरण ‘टूर्नामेंट आॅफ चैंपियंस’ में भाग लेते हैं। जो अमेरिका में होता है। यह संस्था विश्व के कई देशों से 11 से 18 वर्ष के विद्यार्थियों में रचनात्मक विचारों के विकास को वादविवाद एवं लेखन के माध्यम से नई दिशा प्रदान करने का एक अभूतपूर्व प्रयास कर रही है। इस प्रतियोगिता के माध्यम से युवाओं को वैश्विक समुदाय का एक सक्रिय सदस्य बनाने की कोशिश की जाती है।